बड़ी तस्वीर

पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान ग्रुप बी की दो शीर्ष टीमें हैं। दोनों टीमें यह मुक़ाबला जीतकर सेमीफ़ाइनल के एक क़दम और नजदीक पहुंचना चाहेंगी। दोनों टीमें टूर्नामेंट में अभी तक अपराजित हैं। पाकिस्तान ने चिर प्रतिद्वंदी भारत को हराने के बाद न्यूज़ीलैंड को हराया, वहीं अफ़ग़ानिस्तान ने स्कॉटलैंड को बड़े अंतर से रौंद कर नेट रन रेट में बढ़त हासिल की।

इन दोनों टीमों के बीच सिर्फ़ एक टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच आठ साल पहले हुआ था। अगर हालिया मुक़ाबलों की बात करें तो एशिया कप 2018 और वनडे विश्व कप 2019 के मुक़ाबलों में पाकिस्तान को अंतिम ओवर में रोमांचक जीत हासिल हुई थी।

दो मैचों में जीत हासिल कर चुकी पाकिस्तान के लिए एक और जीत सेमीफ़ाइनल में उनके स्थान को लगभग पक्का कर देगी। वहीं अगर अफ़ग़ानिस्तान जीतता है तो वह ग्रुप बी के अंक तालिका में सबसे ऊपर हो जाएगा और भारत के लिए राह मुश्किल हो जाएगी। इसके बाद उन्हें सेमीफ़ाइनल में पहुंचने के लिए नामीबिया के ख़िलाफ़ बस एक आसान जीत की ज़रूरत होगी, क्योंकि उनका नेट रन रेट अभी बहुत अच्छा है।

हालिया फ़ॉर्म

अफ़ग़ानिस्तान - जीत, जीत, जीत, जीत, टाई पाकिस्तान - जीत, जीत, जीत, हार, हार

चर्चा में

पाकिस्तान को भी पता है कि टी20 में अफ़ग़ानिस्तान एक ख़तरनाक टीम है और वह उन्हें हल्के में नहीं लेना चाहेगी। उनके स्पिनरों के अलावा उनके सलामी बल्लेबाज़ हज़रतउल्लाह ज़ज़ई पर सबकी नज़र होगी जिन्होंने यूएई में ही पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के दौरान विपक्षी गेंदबाज़ों को आड़े हाथों लिया था। पांच पारियों में उन्होंने तीन अर्धशतक की मदद से 186 की स्ट्राइक रेट के साथ 212 रन बनाए थे।

उनका वर्तमान फ़ॉर्म भी बेहतरीन है। उन्होंने अभ्यास मैच में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ 35 गेंदों में 56 रन और स्कॉटलैंड के ख़िलाफ़ पहले मुक़ाबले में 30 गेंद पर 44 रन बनाए। ज़जई किसी भी टीम के ख़िलाफ अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ सबसे घातक हथियार हो सकते हैं। हालांकि पीएसएल में खेलने के कारण पाकिस्तानी गेंदबाज़ों को उनकी कमजोरी का भी अंदाजा होगा।

वहीं पाकिस्तान के लिए शोएब मलिक इस मैच में तुरूप का इक्का साबित हो सकते हैं। इसका कारण है कि वह स्पिनर्स को बहुत अच्छा खेलते हैं और अफ़ग़ानिस्तान टीम में एक नहीं, दो नहीं, तीन-तीन विश्व स्तरीय स्पिनर्स हैं। न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ भी संभल कर खेल रहे मलिक ने तब आक्रमकता दिखाई जब बाएं हाथ के स्पिनर मिचेल सैंटनर गेंदबाज़ी के लिए आए। अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ 2018 के एशिया कप में मलिक ने ही अंतिम ओवर में पाकिस्तान को जीत दिलवाई थी।

टीम न्यूज़

दोनों टीमों में कोई भी बदलाव होने की संभावना नहीं है। हां, इमाद वसीम को न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ घुटने की चोट लगी थी, लेकिन वह अधिक गंभीर नहीं थी। उम्मीद है कि वह मैदान में लौटेंगे।

अफ़ग़ानिस्तान (संभावित एकादश) : हज़रतउल्लाह ज़ज़ई, मोहम्मद शहज़ाद (विकेटकीपर), रहमानउल्लाह गुरबाज़, नजीबुल्लाह ज़दरान, मोहम्मद नबी (कप्तान), असग़र अफ़ग़ान, राशिद ख़ान, गुलबदीन नईब, मुजीब-उर-रहमान, करीम जनत, नवीन-उल-हक़

पाकिस्तान (संभावित एकादश) : बाबर आज़म (कप्तान), मोहम्मद रिज़वान (विकेटकीपर), फ़ख़र ज़मान, मोहम्मद हफ़ीज़, शोएब मलिक, आसिफ़ अली, शादाब ख़ान, इमाद वसीम, शाहीन शाह अफ़रीदी, हारिस रउफ़, हसन अली

पिच और परिस्थितियां

दुबई में शारजाह से कम स्कोर के मैच हुए हैं, जहां पर पाकिस्तान ने अपने शुरुआती मैच खेले थे। शाम का मैच होने के कारण ओस भी इस मैच में एक अहम कारक बन सकती है। इसलिए दोनों टीमों के लिए टॉस बहुत अहम होगा।

दिलचस्प आंकड़े

  • दिसंबर, 2013 में इन दोनों टीमों के बीच एकमात्र टी20 मुक़ाबला हुआ था, जिसमें पाकिस्तान ने अंतिम गेंद पर जीत हासिल की थी।
  • मंगलवार को टिम साउदी ने बाबर आज़म को अपना 100वां टी20 अंतर्राष्ट्रीय शिकार बनाया, अब राशिद ख़ान के पास यह उपलब्धि हासिल करने का मौक़ा है, जो अभी 99 विकेट पर हैं।
  • दान्याल रसूल (@Danny61000) ESPNcricinfo में सब-एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट दया सागर ने किया है।