मैच (21)
IPL (3)
SA v SL (W) (1)
USA vs CAN (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

राशिद : अफ़ग़ानिस्तान के खिलाड़ी विदेशी लीगों में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों से सीखते हैं

बांग्लादेश के तकनीकी सलाहकार श्रीराम अपनी टीम से आज़ादी के साथ खेलने की उम्मीद रखते हैं

अफ़ग़ानिस्तान के दिग्गज लेग स्पिनर राशिद ख़ान का मानना है कि उनकी युवा टीम का टी20 क्रिकेट का आनंद उठाना उनके प्रदर्शन में बड़ा अंतर डाल रहा है। एशिया कप के उद्घाटन मुक़ाबले में श्रीलंका जैसी शक्तिशाली टीम को आठ विकेट से परास्त करके अफ़ग़ानिस्तान ने बाक़ी टीमों को बताया कि वह इस टूर्नामेंट में हल्के में नहीं लिए जा सकते।
टी20 क्रिकेट में दुनिया के अव्वल खिलाड़ियों में शुमार राशिद ने कहा कि मंगलवार को बांग्लादेश के विरुद्ध उनकी टीम का मुक़ाबला उसी टीम की तरफ़ जाएगा जो दबाव और तनाव को बेहतर संभाल पाएगी।
उन्होंने कहा, "हमारी टीम में पहले के मुक़ाबले कई ज़्यादा युवा खिलाड़ी शामिल हैं। हम इस छोटे प्रारूप का आनंद लेते हैं। हमने शारजाह में कुछ समय से मैच नहीं खेला है। हम देहरादून के बाद बांग्लादेश से शायद पहली बार भिड़ेंगे और उसे हुए भी चार साल हो चुके हैं। हालांकि जो बेहतर क्रिकेट खेलेगा और बड़े मैच के तनाव को ज़्यादा बेहतर संभालेगा, जीत उसी की होगी। बतौर टीम हम अच्छी तैयारी करेंगे और मैदान पर उतर कर आनंद लेते हुए खेलेंगे।"
पिछले कुछ सालों में अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट को सबसे ज़्यादा फ़ायदा फ़्रैंचाइज़ी क्रिकेट से मिला है। अफ़ग़ानिस्तान के कई अनुभवी और अनकैप्ड खिलाड़ी दुनिया भर की लीगों में डिमांड में रहते हैं।
राशिद ने कहा, "हम लंबे प्रारूप का क्रिकेट नहीं खेलते और इसमें खिलाड़ियों के हाथ में कुछ भी नहीं है। युवा खिलाड़ियों को परिस्थितियां पढ़ने और अपने हुनर को सुधारने के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने की ख़ास ज़रूरत है। ऐसे में अंतर्राष्ट्रीय लीग में हमें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों से चीज़ें सीखने का मौक़ा मिलता है। हम वही अनुभव टीम में लाते हैं और दूसरे खिलाड़ियों में उसे बांटते हैं। मुझे लगता है बल्लेबाज़ों को लीग खेलने से ख़ासा फ़ायदा होता है। अगर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का आयोजन होता है तो वह हमेशा प्राथमिकता रहेगी।"
वहीं बांग्लादेश को इस टूर्नामेंट में ज़िम्बाब्वे से टी20 और वनडे सीरीज़ में पराजय के बाद बहुत कुछ साबित करने का बड़ा मंच मिला है। श्रीलंकाई कप्तान दसून शनका बांग्लादेश को अफ़ग़ानिस्तान के मुक़ाबले "कमज़ोर टीम" कह चुके हैं लेकिन राशिद ने इस बात पर हामी नहीं भरी। मैच की पूर्व संध्या पर राशिद ने कहा, "आप क्रिकेट में विपक्ष को कमज़ोर या मज़बूत नहीं मान सकते। ऐसा करने से आप परिणाम पर नियंत्रण खो देते हैं। हमारे लिए कोई विरोधी टीम कमज़ोर नहीं कहलाई जा सकती। हमें कल अपनी भूमिकाएं और योजनाएं पता हैं। हम हार और जीत पर चिंता नहीं करते।"
बांग्लादेश के लिए तकनीकी सलाहकार नियुक्त किए गए श्रीधरन श्रीराम ही मुख्य कोच की भूमिका में दिखेंगे। एक विवादस्पद प्रायोजक के साथ संबंध के बावजूद शाकिब अल हसन इस टीम के नए टी20 कप्तान बने हैं। श्रीराम टीम के साथ कुछ ही दिन पहले जुड़े हैं और उन्होंने कहा, "टीम में रोल की स्पष्टता होना अनिवार्य है। मेरे आने के बाद मैंने आसान संचार पर ज़ोर दिया है ताकि सब को उनकी अपेक्षाएं पता हों। हम अपने खेल की शैली को जानते हैं। मैंने ख़ुद शारजाह में बहुत क्रिकेट खेला है। हम वहां जाकर परिस्थितियों को देख कर सही फ़ैसले लेंगे।"
हालिया फ़ॉर्म के आधार पर बांग्लादेश की टीम टी20 क्रिकेट के कई पहलुओं पर अस्पष्ट और अस्तव्यस्त नज़र आई है। लेकिन श्रीराम का मानना है कि कुछ प्रोत्साहन से सब कुछ सही हो जाएगा।
उन्होंने कहा, "हमें खिलाड़ियों को खेलने की पूरी आज़ादी देनी है। प्रतिभा के मामले में यह टीम किसी से कम नहीं। अगर उन्हें आत्मविश्वास मिले तो वह मैदान पर उतरकर स्वेच्छा के साथ ख़ुद को व्यक्त कर सकेंगे।"

मोहम्मद इसाम (@isam84) ESPNcricinfo के बांग्लादेशी संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।