मैच (15)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
T20WC Warm-up (3)
CE Cup (3)
ख़बरें

हार्दिक पंड्या गेंदबाज़ी कर रहे हैं और यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छा संकेत है: सूर्यकुमार यादव

पंड्या टी20 विश्व कप से पहले अपनी गेंदबाज़ी फ़ॉर्म को प्राप्त कर लेना चाहते हैं

Hardik Pandya reacts in the field, India vs England, 2nd T20I, Ahmedabad, March 14, 2021

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ साल की शुरूआत में हार्दिक पंड्या ने गेंदबाज़ी की थी  •  BCCI

श्रीलंका गई टीम इंडिया के प्रमुख बल्लेबाज़ सूर्यकुमार यादव ने बताया कि हार्दिक पंड्या नेट प्रैक्टिस के दौरान अधिक से अधिक गेंदबाज़ी का अभ्यास कर रहे हैं ताकि वह टी20 विश्व कप से पहले वह गेंदबाज़ी के लिए पूरी तरह से फ़िट हो जाएं।
यादव ने कहा, "उन्होंने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घरेलू सीरीज़ के सभी टी20 मैचों में गेंदबाज़ी की थी। टीम मैनेजमेंट और खुद हार्दिक भी अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी समझते हैं। यहां इंट्रा-स्क्वैड मैच से पहले भी उन्होंने नेट्स में गेंदबाज़ी की। वह लगातार गेंदबाज़ी कर रहे हैं। यह उनकी और टीम प्रबंधन का निर्णय है कि वे कैसे आगे जाना चाहते हैं। लेकिन हां, वह गेंदबाजी कर रहे हैं और यह बहुत अच्छा संकेत है।"
पीठ की सर्जरी के बाद अभी भी अपनी गेंदबाज़ी फ़िटनेस तलाश रहे पंड्या का चयन विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फ़ाइनल और इंग्लैंड दौरे के लिए नहीं किया गया था। जैसा कि यादव ने बताया पंड्या ने भले ही इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ कुछ मैचों में गेंदबाज़ी की थी, लेकिन इसके बाद आईपीएल 2021 के दौरान मुंबई इंडियंस के लिए उन्होंने एक भी गेंद नहीं फेंका था।
पंड्या ने 2018 में आख़िरी बार इंग्लैंड में टेस्ट मैच खेला था। विदेशी टेस्ट मैचों में उनकी खासी उपयोगिता है, लेकिन इसके लिए उन्हें अपनी गेंदबाजी फ़िटनेस प्राप्त करनी होगी। फिलहाल पंड्या का ध्यान इस साल के आख़िर में होने वाले टी20 विश्व कप पर है।
पंड्या ने पिछले महीने TOI स्पोर्ट्सकास्ट के साथ बातचीत में कहा था, "मैंने आईपीएल के दौरान गेंदबाज़ी शुरू कर दी है और मेरा ध्यान टी20 विश्व कप पर है। मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मैं विश्व कप में सभी मैचों में गेंदबाज़ी करने में सक्षम रहूं। गेंदबाज़ी के मोर्चे पर सबसे अधिक यही मायने रखता है कि आप कितने फिट हैं।" उन्होंने आगे कहा, "सर्जरी के बाद भी मेरी स्पीड में कोई कमी नहीं आई है, बस मुझे नियंत्रण नहीं मिल पा रहा है। मेरी गेंदबाज़ी मेरी फ़िटनेस से संबंधित है। जितना आप फ़िट रहेंगे, आपकी गेंदबाज़ी भी उतनी ही अच्छी होगी। एक तेज गेंदबाज़ को हमेशा चोट लगने का खतरा होता है। यह होना तय है और मैं इसके लिए तैयार भी हूं।"
अपनी बातों को समाप्त करते हुए पंड्या ने कहा था, "मैंने महसूस किया है कि मेरी गेंदबाज़ी भारतीय टीम के संतुलन में बहुत अंतर लाती है। मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे आईपीएल में एक ऐसी फ्रेंचाइज़ी मिली है, जहां पर मैं एक विशुद्ध बल्लेबाज़ के रूप में भी खेल सकता हूं। मुझे यह सुनिश्चित करना होगा कि मैं गेंदबाज़ी लिए फ़िट हूं और अगर मैं गेंदबाज़ी करता हूं तो इससे टीम में संतुलन बना रहेगा।"

वरूण शेट्टी ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर दया सागर (@dayasagar95) ने किया है।