ख़बरें

साउथ अफ़्रीका दौरे से चोट के कारण रोहित शर्मा बाहर, प्रियांक पांचाल शामिल

गुजरात के बल्लेबाज़ प्रियांक पांचाल लेंगे रोहित शर्मा की जगह

नागराज गोलापुड़ी और शशांक किशोर
13-Dec-2021
Rohit Sharma is disappointed after his dismissal, England vs India, 3rd Test, Leeds, 3rd day, August 27, 2021

अपने पिछले टेस्‍ट में प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे थे रोहित शर्मा  •  Associated Press

चोट की वजह से रोहित शर्मा साउथ अफ़्रीका दौरे पर टेस्ट सीरीज़ से बाहर हो गए हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने प्रेस रिलीज़ जारी करते हुए बताया कि उनकी जगह गुजरात के बल्लेबाज़ प्रियांक पांचाल लेंगे।
रोहित को यह चोट मुंबई में क्वारंटीन में जाने से पहले नेट सत्र में लगी है। यहीं से भारतीय टीम अगले सप्ताह साउथ अफ़्रीका के लिए रवाना होगी। रोहित के टीम में नहीं होने से भारतीय टीम की टेस्ट तैयारियों को भी धक्का लगेगा क्योंकि वह 2021 में उनके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ हैं। कम से कम 10 पारियों में खेलने वाले भारतीय बल्लेबाज़ों में रोहित और ऋषभ पंत ही हैं जिनका औसत 40 से ज़्यादा का रहा है।
यह 2019 में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ घरेलू सीरीज़ थी, जहां से रोहित ने टेस्ट में ओपनिंग करना शुरू किया था, तब से उन्होंने भारत की कई मैचों में जीत में अहम योगदान दिया है, जिसमें द ओवल में खेले अपने पिछले टेस्ट में रोहित को प्लेयर ऑफ़ द मैच भी चुने गए थे। यह भी देखना होगा कि चयनकर्ता क्या वापस अजिंक्य रहाणे को टेस्ट उप कप्तान बनाते हैं या किसी और को विराट कोहली का डिप्टी बनाते हैं।
वहीं यह पांचाल का टेस्ट टीम में पहली बार बुलावा नहीं है। इससे पहले इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घर में खेली गई चार टेस्ट मैचों की सीरीज़ में भी वह टीम का हिस्सा थे। 31 वर्ष के पांचाल घरेलू क्रिकेट में गुजरात का नेतृत्व करते हैं और वह अभिमन्यु ईश्वरन के साथ भारत के रिज़र्व ओपनरों में से एक रहे हैं।
आम क्रिकेट प्रेमियों के बीच में भले ही पांचाल ज़्यादा जाना पहचाना चेहरा नहीं हों, लेकिन वह पिछले कई वर्षों से इंडिया ए के लिए लगातार खेले हैं। पांचाल के पास 100 प्र​थम श्रेणी मैचों का अनुभव है और हाल ही में वह इंडिया ए के साउथ अफ़्रीका दौरे पर भी गए थे। उन्होंने वहां पर तीन चार दिवसीय मैचों में से दो में कप्तानी भी की थी। उन्होंने वहां पर अपनी तीन पारियों में 96, 24 और 0 का स्कोर किया था।
पार्थिव पटेल के बाद से पिछले दो सालों में पांचाल ने गुजरात के घरेलू क्रिकेट का शानदार नेतृत्व किया है। इस दौरान वह इंडिया ए में भी लगातार खेले। एमएसके प्रसाद की कमेटी ने उन्हें ओपनर के तौर पर एक विकल्प के तौर पर रखना शुरू किया था। पंचाल का करियर 2016-17 रणजी सत्र से सरपट दौड़ा है, जहां पर उन्होंने 17 पारियों में 87.33 के औसत से 1310 रन बनाए थे। उनका प्रथम श्रेणी करियर में सर्वश्रेष्ठ स्कोर 314 है, जो उन्होंने उसी सत्र में पंजाब के ख़िलाफ़ बनाया था। यही वजह थी कि गुजरात उस वर्ष पहला रणजी खिताब भी ​जीतने में क़ामयाब रही। (

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्‍यूज एडिटर और शशांक किशोर सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।