मैच (12)
IPL (2)
PAK v WI [W] (1)
RHF Trophy (4)
WT20 WC QLF (Warm-up) (5)
ख़बरें

बांग्लादेश के बैटिंग कोच के अनुसार न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ यह सलामी बल्लेबाज़ टीम में लौट सकता है

लिटन की ग़ैरमौजूदगी में सरकार और नईम ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ ओपनिंग की थी

सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर वापसी कर सकते हैं लिटन  •  AFP via Getty Images

सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर वापसी कर सकते हैं लिटन  •  AFP via Getty Images

बांग्लादेश के बैटिंग कोच ऐशवेल प्रिंस के अनुसार लिटन कुमार दास न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ आने वाले टी20 मुक़ाबलों में सलामी बल्लेबाज़ी करने की दावेदारी में हैं। लिटन ज़िम्बाब्वे और ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ खेले गए टी20 मैचों में चोट और निजी कारणों से टीम का हिस्सा नहीं थे और अब टीम में वापसी कर रहे दो खिलाड़ियों में एक हैं।
बांग्लादेश के लिए 33 टी20 मुक़ाबलों में से 23 में लिटन बतौर ओपनर खेले हैं और उनके न होने पर बांग्लादेश ने सौम्य सरकार और मोहम्मद नईम की जोड़ी को मैदान पर उतारा था। हालांकि जुलाई में ज़िम्बाब्वे के विरुद्ध 102 रनों की साझेदारी के बाद यह जोड़ी छह मैचों में 3.3 ओवरों से अधिक नहीं टिकी। ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ मेहदी हसन को जब नईम के साथ पारी की शुरुआत करने भेजा गया तो दोनों ने 4.3 ओवर में 42 रन ठोके।
प्रिंस के अनुसार ढाका के शेरे बांग्ला स्टेडियम में चौके और छक्के मारना आसान नहीं है लेकिनओपनर्स के बीच की प्रतिस्पर्धा टीम के लिए अच्छी बात है।
प्रिंस का कहना है, "मैं सलामी जोड़ी को लेकर चिंतित नहीं हूं। ज़िम्बाब्वे में एक या दो साझेदारियां अच्छी थीं और ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ तो परिस्थितियां बल्लेबाज़ी के लिए अनुकूल नहीं थीं। गेंद जब बल्ले पर आसानी से न आए तो बाउंड्री भी आसानी से नहीं मिलती। मुझे यक़ीन है लिटन को ओपनिंग का मौक़ा मिलेगा।"
प्रिंस ने कहा बांग्लादेश के बल्लेबाज़ों ने ढाका में रन बटोरने के लिए उपाय ढूंढने पर चर्चा की जा रही है। उन्हें लगता है न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ पिच का बरताव भी ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ जैसा ही रहेगा।
"ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ में खेले बल्लेबाज़ों ने मुशफ़िकुर रहीम और लिटन, जो इस सीरीज़ में लौटेंगे, को समझाया कि उन्होंने कैसे रन बनाए," प्रिंस ने कहा। "लेकिन न्यूज़ीलैंड टीम ने भी ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ को देखा और परखा होगा। वह एक परिपक्व टीम है जो हर बल्लेबाज़, गेंदबाज़ और पिच के लिए भरपूर तैयारी करता है।"

मोहम्मद इसाम Espncricinfo के बांग्लादेशी संवाददाता हैं। अनुवाद Espncricinfo हिंदी के सीनियर सहायक एडिटर और स्थानीय भाषा लीड देबायन सेन ने किया है।