मैच (12)
IND v ENG (1)
BPL 2023 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
CWC Play-off (3)
PSL 2024 (1)
WPL (1)
ख़बरें

क्यों ऑस्ट्रेलिया और अफ़ग़ानिस्तान के बीच होबार्ट टेस्ट पर है अनिश्चितता का साया?

तास्मेनिया के प्रधान मंत्री पीटर गटवाइन के अनुसार स्थानीय हज़ारा समुदाय करेगा फ़ैसला

एएपी
06-Sep-2021
तास्मेनिया ने 2016 के बाद से टेस्ट मैच की मेज़बानी नहीं की है  •  Getty Images

तास्मेनिया ने 2016 के बाद से टेस्ट मैच की मेज़बानी नहीं की है  •  Getty Images

होबार्ट में बसा हज़ारा समुदाय यह फ़ैसला करेगा कि ऑस्ट्रेलिया और अफ़ग़ानिस्तान के बीच टेस्ट शहर में खेला जाना चाहिए या नहीं। दोनो देशों के बीच पहला टेस्ट, जो कोविड के चलते 2020 में नहीं खेला गया, 27 नवंबर से होबार्ट में आयोजित किया गया है।
टिम पेन की ऑस्ट्रेलिया टीम के लिए ऐशेज़ से पहले ये एक अहम मैच माना जा रहा है। साथ ही तास्मेनिया के कप्तान पेन और क्रिकेट तास्मेनिया के लिए 2016 के बाद अपने घरेलू मैदान पर टेस्ट मैच की मेज़बानी करना एक बड़ा अवसर होगा।
अफ़ग़ानिस्तान में शासन लेने वाले तालिबान ने कहा है कि वह चाहेंगे कि मैच का आयोजन हो। लेकिन गटवाइन ने सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान अफ़ग़ानिस्तान में महिलाओं के खेल के भविष्य पर चिंता ज़ाहिर की। उन्होंने कहा, "जब तक महिलाओं के खेल पर कोई प्रतिबद्धता नहीं मिले तब तक यह मैच होना चाहिए या नहीं इस पर मुझे सोचने की ज़रूरत है। मैं इस हफ़्ते हज़ारा समुदाय के लोगों से बातचीत करके उनकी राय लेना चाहूंगा। अगर उन्हें लगे की विश्वास बढ़ाने के लिए मैच होना चाहिए तो हम इस पर भी ध्यान देंगे।"
जब तालिबान 1996 और 2001 के बीच शासन में थे तो उन्होंने अफ़ग़ानिस्तान के तीसरे सबसे बड़े जातीय समूह और धार्मिक अल्पसंख्यक हज़ारा समुदाय पर काफ़ी ज़ुल्म किए थे। 2021 में तालिबान ने ज़्यादा उदारवादी होने का दावा किया ज़रूर है पर जुलाई में नौ हज़ारा पुरुषों की हत्या की ख़बर आई थी।
अफ़ग़ान क्रिकेट संघ (एसीबी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हामिद शिनवारी ने हाल ही में कहा था कि उनकी बात क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) से चल रही है और टीम के ऑस्ट्रेलिया जाने की पूरी उम्मीद है। शिनवारी के अनुसार एसीबी अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज़ के साथ एक टी20 त्रिकोणीय श्रृंखला भी आयोजित करेगा जिससे विश्व कप का अभ्यास हो जाए।
सीए ने लगातार अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ इस टेस्ट की मेज़बानी पर भरोसा जताया है। लेकिन देश में कोविड से जुड़े प्रतिबंध घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट पर गहरा असर डाल रहे हैं। इसके चलते भारतीय महिला टीम का दौरा भी अब सिर्फ़ क्वींसलैंड में खेला जाएगा।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सीनियर सहायक एडिटर और स्थानीय भाषा लीड देबायन सेन (@debayansen) ने किया है।