मैच (19)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

टी20 विश्व कप में भारतीय टीम के नेट गेंदबाज़ रहेंगे उमरान मलिक

अपनी गति से प्रभावित करने वाले 21 वर्षीय गेंदबाज़ को यूएई में ही रूकने के लिए कहा गया है

अपनी गति से काफी प्रभावित किया है जम्‍मू एंड कश्‍मीर के इस युवा गेंदबाज ने  •  BCCI

अपनी गति से काफी प्रभावित किया है जम्‍मू एंड कश्‍मीर के इस युवा गेंदबाज ने  •  BCCI

इंडियन प्रीमियर (आईपीएल)2021 में अपनी तेज़ गति से सिर घुमाने वाले उमरान मलिक को टी20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम के लिए नेट बॉलर के रूप में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में रहने के लिए कहा गया है। ईएसपीएनक्रिकइंफो को ऐसी जानकारी मिली है।
उमरान ने आईपीएल से पहले जम्मू-कश्मीर के लिए केवल एक लिस्ट ए मैच और एक टी20 खेला था और इस सीज़न की शुरुआत में उन्हें सनराइज़र्स हैदराबाद में नेट गेंदबाज़ के रूप चुना गया था। जब टी नटराजन को कोविड-19 के कारण बाहर होना पड़ा, तब उन्हें टीम में शामिल किया गया था और अपने पहले ही मैच में उन्होंने बेहद प्रभाव डाला, क्योंकि उन्होंने अपने पहले ही मैच में 150 किमी प्रति घंटा से अधिक की गेंद डाल दी थी और वह इस आईपीएल सीज़न में सबसे तेज़ गेंद डालने वाले भारतीय गेंदबाज़ बने थे।
आरसीबी के ख़िलाफ़ अपने दूसरे मैच में ही उन्होंने 153 किमी प्रति घंटे की गति से गेंद डाल दी जो आईपीएल 2021 की सबसे तेज़ गेंद थी।
इसने विराट कोहली को बहुत प्रभावित किया और मैच के बाद उन्होंने कहा कि उमरान की देखभाल की जानी चाहिए, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि भारत उनसे सर्वश्रेष्ठ प्राप्त कर सके।
कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार समारोह में कहा था, "यह टूर्नामेंट हर साल प्रतिभाओं को सामने लाता है। एक युवा को 150 किमी प्रति घंटा की गेंदबाज़ी करते देखना अच्छा लगा। यहां से युवाओं की प्रगति को समझना महत्वपूर्ण है, अपने शरीर को कैसे बनाए रखना है और आप उनमें से सर्वश्रेष्ठ कैसे प्राप्त कर सकते हैं। तेज़ गेंदबाज़ों का पूल हमेशा मज़बूत होता है। भारतीय क्रिकेट के लिए यह एक अच्छी बात है। जब भी आप इस तरह की प्रतिभा देखते हैं, तो जाहिर है कि आपकी नज़र उन पर होगी और सुनिश्चित करें कि आप उनकी क्षमता को बढाएं।"
21 वर्षीय उमरान ने भारतीय टीम के साथ नेट गेंदबाज़ के रूप में कॉल-अप अर्जित करने के लिए कोहली को काफी प्रभावित किया था।
उमरान का आईपीएल अभियान मुंबई इंडियंस के खिलाफ सनराइज़र्स की उच्च स्कोर वाली हार के साथ समाप्त हुआ। हालांकि उस मैच में हर गेंदबाज़ ख़िलाफ़ रन बने। लेकिन उनकी गति ने एक महत्वपूर्ण प्रभाव डाला, जिससे इशान किशन को उस समय आउट किया जब वह 3ं गेंद में 84 रन बनाकर खेल रहे थे। वहीं 40 गेंद में 82 रन बनाने वाले सूर्यकुमार यादव को भी उनकी गेंद हेलमेट पर लगी थी।
टी20 विश्व कप के लिए भारत की तैयारियों के लिए उमरान की गति एक महत्वपूर्ण कारक हो सकती है, जिसमें टीम को अपने ग्रुप में पाकिस्तान और न्यूज़ीलैंड के तेज़ गेंदबाज़ों का सामना करना है। शाहीन शाह अफरीदी और लॉकी फ़र्ग्युसन के रूप में दोनों पक्षों के पास तेज़ गेंदबाज़ हैं। भारत को अपने टी20 विश्व कप अभियान की शुरुआत 24 अक्टूबर को पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच करनी है।