मैच (9)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
काउंटी डिवीज़न एक (1)
काउंटी डिवीज़न 2 (1)
लेजेंड्स लीग (1)
सीपीएल (1)
पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड (1)
यूएई बनाम बांग्लादेश (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (महिला) (1)
महिला विश्व कप क्वालिफ़ायर (1)
ख़बरें

कार्तिक : विभिन्न परिस्थितियां विश्व कप तैयारी के लिए अहम

अब तक भारत ने वेस्टइंडीज़ के दौरे पर दोहरा उछाल और तेज़ हवा जैसी चुनौतियों का सामना किया है

Dinesh Karthik tunes up for the South Africa T20Is, Delhi, June 6, 2022

दिनेश कार्तिक: "हम जहां भी खेलने जा रहे हैं अलग-अलग मैदानों का सामना करने जा रहे हैं, इसलिए चुनौतियां अलग होने वाली हैं।"  •  PTI

दिनेश कार्तिक ने लॉडरहिल में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ चौथे टी20 के पूर्वसंध्या में कहा कि कैरेबियन और लॉडरहिल की स्थितियों से उत्पन्न तरह-तरह की चुनौतियां भारत को ऑस्ट्रेलिया में आगामी टी20 विश्व कप की तैयारी में मदद करेंगी, हालांकि वहां की स्थितियां पूरी तरह से अलग हो सकती हैं।
कार्तिक उन खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्होंने पहले टी20 में दोहरी गति वाली टारौबा की पिच पर अच्छा किया था और मैदान परिमाण का फ़ायदा उठाया था। फिर सेंट किट्स में दूसरे और तीसरे टी20 में भारत को तेज़ हवाओं का सामना करना पड़ा। दूसरे टी20 में इसके अनुकूल होने के लिए संघर्ष करने के बाद भारत ने तीसरे टी20 में 2-1 की बढ़त हासिल करने के लिए बेहतर प्रदर्शन किया। कार्तिक के मुताबिक़ लॉडरहिल में भी हवा एक फ़ैक्टर हो सकती है।
उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि यह बहुत दिलचस्प है क्योंकि विश्व कप में भी सीधे मेरे दिमाग़ में आने वाले तीन मैदान हैं, सिडनी (जहां) साइड बाउंड्री थोड़ी छोटी होती है और स्ट्रेट बाउंड्री लंबी होती है, एडिलेड में हम सभी जानते हैं कि साउड छोटी है और स्ट्रेट लंबी है जबकि मेलबर्न में इसके ठीक विपरीत है - सीधी बाउंड्री छोटी और साइड की बड़ी हैं। इसलिए ज़ाहिर है, हम जहां भी खेलने जा रहे हैं अलग-अलग मैदानों का सामना करने जा रहे हैं, इसलिए चुनौतियां अलग होने वाली हैं।"
आगे उन्होंने बताया, "यहां हर वेन्यू पर जहां हम खेले हैं, चुनौतियां अलग हैं। हर बार जब आपको मौक़ मिलता है तो एक निश्चित चुनौती होती है जो बस चलने के साथ आती है। यह अपने आप में दबाव है इसलिए रोहित (शर्मा) और राहुल (द्रविड़) ने इस सीरीज़ की शुरुआत में जिन प्रमुख चीज़ों के बारे में बात की है, उनमें से एक अनुकूलता और परिस्थितियों को समझना था। मुझे लगता है कि यह कुछ ऐसा है जो हमने अब तक बहुत अच्छा किया है।"
कार्तिक सहित 12 भारतीय खिलाड़ियों ने टी20 विश्व कप के लिए अपने स्थान को काफ़ी हद तक पक्का कर लिया है, जिससे शेष तीन स्थान के लिए सात खिलाड़ी संघर्ष कर रहे हैं। कार्तिक ने भारत के विशाल टैलेंट पूल की प्रशंसा की और स्वीकार किया कि चयनकर्ताओं को अंतिम 15 खिलाड़ियों को चुनने में मुश्किल होगा।
कार्तिक ने कहा, "देखिए, अभी भारतीय टीम में हमारे पास उपलब्ध खिलाड़ियों की संख्या के लिहाज़ से दो टीमें या शायद तीन टीमें बनाने की क्षमता है। मुझे नहीं लगता कि कई और देश ऐसा करने की सोच सकता है। इसलिए 40 खिलाड़ियों के समूह में से सिर्फ़ 15 खिलाड़ियों को चुना जाएगा और बाक़ी 20-25 खिलाड़ी यही सोचेंगे कि उनको भी यह मौक़ा मिल सकता था। यह बताता है कि वर्तमान भारतीय टीम कितनी मज़बूत है। दूसरी ओर मुझे लगता है कि जो खिलाड़ी 15 सदस्यीय टीम का हिस्सा हैं उन्हें आभारी होना चाहिए और महसूस करना चाहिए कि इस टीम इंडिया का हिस्सा होना कितना महत्वपूर्ण और कितना ख़ूबसूरत है और इतनी प्रतिस्पर्धा होने पर हमें विश्व मंच पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करने पर गर्व होना चाहिए।"
हालिया मैचों में कार्तिक ने एक फ़िनिशर के रूप में अपनी भूमिका में धमाल मचाया है। आईपीएल में अपनी फ़्रैचाईज़ी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए और फिर टी20 में भारत के लिए - घर और बाहर दोनों जगह - मैच जीते हैं। आईपीएल 2022 की शुरुआत के बाद से उन्होंने डेथ ओवरों (17-20) में 205.55 के स्ट्राइक रेट से रन कूटा है। केवल जिमी नीशम (227.65) और टिम डेविड (226.72) का स्ट्राइक रेट इस दौरान के टी20 में कार्तिक से बेहतर है।
फ़िनिशर की भूमिका अधिक दबाव को आमंत्रित करती है लेकिन कार्तिक ने इसे गले लगाना सीख लिया है।
उन्होंने कहा, "एक क्रिकेटर के रूप में (और) एक खिलाड़ी के रूप में इस समय दबाव एक विशेषाधिकार है। यह कुछ ऐसा है जो (आपको) केवल उच्चतम स्तर पर खेलते समय दिया जाता है और जब लोग आपसे कुछ चीज़ों की अपेक्षा करते हैं। तो, मैं खुश हूँ; मुझे लगता है कि जो महत्वपूर्ण है वह यह सुनिश्चित करना है कि मैच की स्थिति क्या है, खेल को समझना और उस दिन सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करना।"
"एक क्रिकेटर के रूप में (और) एक खिलाड़ी के रूप में इस समय दबाव एक विशेषाधिकार है। यह कुछ ऐसा है जो (आपको) केवल उच्चतम स्तर पर खेलते समय दिया जाता है और जब लोग आपसे कुछ चीज़ों की अपेक्षा करते हैं।"
दबाव झेलने पर कार्तिक
साथ ही कार्तिक ने भारतीय टीम प्रबंधन को ऐसे माहौल को विकसित करने के लिए श्रेय दिया जिसने खिलाड़ियों को सुरक्षा और विफलताओं के बावजूद अपने रोल में बढ़ने का मौक़ा दिया।
उन्होंने कहा, "बेहद ख़ुश हूं (इस टीम का हिस्सा बनकर), मैंने अपने पूरे जीवन के लिए यही लक्ष्य रखा है और कप्तान और कोच के लिए जिन्होंने मुझ पर इतना विश्वास दिखाया है, यह उचित है कि मैं प्रदर्शन करके उनके भरोसे पर खरा उतरूं, जो टीम को जीत दिलाने में मदद करेगा और यही मैं करने की कोशिश कर रहा हूं।"

देवरायण मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।