मैच (10)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
आईएलटी20 (1)
एसए20 (1)
बीबीएल (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े : एक असाधारण लक्ष्य का पीछा और एक अनोखी जीत

एशिया कप फ़ाइनल में श्रीलंका की पाकिस्तान पर जीत के दौरान बने कुछ प्रमुख रिकॉर्ड्स

4 - जनवरी, 2021 से सिर्फ़ चौथी बार किसी टीम ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए दुबई में कोई टी20आई जीता है।
0 - पहले बल्लेबाज़ी करते हुए श्रीलंका ने पहले दस ओवर में अपने पांच विकेट गंवा दिए और फिर भी मैच जीता। टी20 मैचों में श्रीलंका ने ऐसा इससे पहले कभी नहीं किया था।
2014 - इससे पहले 2014 में श्रीलंका ने लगातार पांच टी20आई जीता था।
3 - किसी बड़े टी20 टूर्नामेंट के ख़िताबी भिड़ंत में लक्ष्य का बचाव करने वाली श्रीलंका सिर्फ़ तीसरी टीम बनी है। इससे पहले टी20 विश्व कप 2007 और 2012 के फ़ाइनल में क्रमशः भारत और वेस्टइंडीज़ ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए कोई टी20 ख़िताब जीता था।
5 - यह पाकिस्तान के ख़िलाफ़ टी20 मैचों में श्रीलंका की लगातार पांचवीं जीत है। ये सभी जीत उन्हें दसून शानका की कप्तानी में मिली है। इससे पहले श्रीलंका ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 18 मुक़ाबलों में सिर्फ़ पांच जीते थे।
पिछले पांच मुक़ाबलों में श्रीलंका ने चार बार पाकिस्तान को ऑलआउट किया है। इससे पहले वह 18 मैचों में सिर्फ़ दो ही बार ऐसा कर पाए थे।
2 - पांच विकेट गंवाने के बाद श्रीलंका की ओर से दो अर्धशतकीय साझेदारी हुई। पुरूष टी20 में ऐसा सिर्फ़ तीसरी बार हुआ है।
71* - भानुका राजापक्षा की नाबाद 71 रन की पारी किसी भी नंबर पांच या उससे नीचे के बल्लेबाज़ की सर्वश्रेष्ठ टी20 नॉकआउट पारी है।
2 - वनिंदु हसरंगा किसी मल्टी नेशनल टी20 टूर्नामेंट के फ़ाइनल में 30+ रन बनाने वाले और फिर तीन विकेट झटकने वाले सिर्फ़ दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले यह कारनामा कार्लोस ब्रेथवेट ने 2016 टी20 विश्व कप फ़ाइनल में किया था।

संपत बंडारूपल्ली ESPNcricinfo में सांख्यिकीविद हैं