मैच (16)
IPL (3)
PAK v WI [W] (1)
Pakistan vs New Zealand (2)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
फ़ीचर्स

रेटिंग्स: सिर्फ़ एक ओवर फेंकने के बावजूद शमी ने परफेक्ट 10 पर साधा सटीक निशाना

राहुल और सूर्यकुमार ने भी अर्धशतक जड़ कर बटोरे बढ़िया अंक

शमी ने 20वें ओवर में तीन विकेट लिए  •  ICC via Getty

शमी ने 20वें ओवर में तीन विकेट लिए  •  ICC via Getty

टी20 विश्व कप में अपना सफर शुरू करने से पहले भारतीय टीम ने अपने तैयारियों को परखने के लिए आख़िरी अभ्यास मैच खेला। इस मैच में भारतीय टीम की बल्लेबाज़ी बिल्कुल उसी लीक पर नज़र आई, जिसका अभ्यास वह पिछले एक साल से कर रहे हैं। हालांकि गेंदबाज़ी में भारतीय टीम को कई सवालों के उत्तर देने होंगे, जो आने वाले दिनों में और भी ज़्यादा कठिन होते चले जाएंगे।
क्या सही क्या ग़लत
भारतीय टीम ने भले ही आज का मैच जीत लिया लेकिन बल्लेबाज़ी करने के दौरान अंतिम दो ओवरों में और ज़्यादा रन बटोर सकती थी। साथ ही भारत को ऑस्ट्रेलिया के मैदानों पर ज़्यादा रिस्क वाले हवाई शॉट लगाने से बचते हुए ज़्यादा से ज़्यादा इक्के-दुक्के रन चुराने पर ध्यान देना होगा। अगर रोहित शर्मा या केएल राहुल को शॉट को देखा जाए तो उनके शॉट अच्छे थे लेकिन लंबी बाउंड्री के कारण वे कैच आउट हो गए। इस मैच का सबसे सकारात्मक पक्ष मोहम्मद शमी की वापसी रही, जिन्होंने अंतिम ओवर में तीन विकेट बटोरे।
रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)
रोहित शर्मा, 7: रोहित के कंधे पर भारत को एक मज़बूत शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी है। हालांकि आज उन्होंने पांचवें ओवर तक सिर्फ़ पांच गेंद का सामना किया था। दूसरे छोर से राहुल लगातार रन बटोर रहे थे। हालांकि राहुल के आउट होने के बाद जब रोहित ने अपना गियर चेंज करने का प्रयास किया तो ज़्यादा सफल नहीं हो पाए और 14 गेंदों में सिर्फ़ 15 रन बना कर आउट हो गए, लेकिन रोहित ने अपनी कप्‍तानी से प्रभावित किया।
केएल राहुल, 10 : राहुल ने इस मैच में ठीक उसी तरीक़े की शुरुआत की, जिसकी अपेक्षा टीम उनसे कर रही है। वह आक्रामक रवैये के साथ-साथ एकदम स्पष्ट मानसिकता के साथ बल्लेबाज़ी कर रहे थे। उनके कुछ एक सिक्सर बेहतरीन थे। उन्होंने सिर्फ़ 27 गेंदों में अर्धशतक जड़ा। हालांकि उम्मीद थी कि राहुल एक लंबी पारी खेलेंगे लेकिन ऐसा करने में वह नाकाम रहे।
विराट कोहली, 8: रोहित और राहुल का विकेट गिरने के बाद कोहली और सूर्यकुमार यादव के बीच एक 42 रनों की बढ़िया साझेदारी हुई। विराट ने अपनी पारी की शुरुआत काफ़ी शानदार तरीक़े से की थी लेकिन वह इस बढ़िया शुरुआत का फ़ायदा नहीं उठा पाए और मिचेल स्टार्क की एक छोटी गेंद को पुल करने के प्रयास में आउट हो गए। हालांकि क्षेत्ररक्षण में उन्‍होंने एक शानदार रन आउट, एक हाथ से शानदार कैच समेत दो कैच लेकर अहम अंक जुटाए।
सूर्यकुमार यादव, 9: सूर्यकुमार ने अपनी पारी से एक बार फिर बताया कि वह इस टी20 विश्व कप में भारतीय टीम के लिए कितने महत्वपूर्ण बल्लेबाज़ हैं। उन्होंने चौके और सिक्सर के अलावा काफ़ी सहजता के साथ स्ट्राइक भी रोटेट किया लेकिन जब भारतीय पारी को फ़िनिश करने की बारी आई तो सूर्यकुमार रन बटोरने में नाकाम रहे।
हार्दिक पंड्या 5 : कोहली के विकेट के पतन के बाद हार्दिक बल्लेबाज़ी करने आए। उम्मीद थी कि वह विस्फोटक अंदाज़ में भारतीय पारी का अंत करेंगे लेकिन स्टार्क की आग उगलती गेंदों ने उनके आत्मविश्वास काफ़ी नीचे गिरा दिया। एक बार तो स्टंप माइक में वह यह कहते हुए सुने गए कि 'कुछ समझ नहीं आ रहा है।' अंत में वह केन रिचर्डसन की एक धीमी गेंद को शॉर्ट थर्डमैन के ऊपर से मारने की फ़िराक में वह कैच आउट हो गए। गेंदबाज़ी में भी वह प्रभाव छोड़ने में क़ामयाब नहीं रहे।
दिनेश कार्तिक, 6: हार्दिक का विकेट गिरने के बाद कार्तिक जब बल्लेबाज़ी करने आए तो भारतीय पारी में 38 गेंदें बची हुई थी। उम्मीद थी कि वह फिर से उस भूमिका को निभाएंगे, जिसकी जिम्मेदारी उन्हें सौंपी गई है। उन्होंने भले ही 14 गेंदों में 20 रनों की पारी खेली लेकिन उसे इससे ज़्यादा की उम्मीद है। कीपिंग के दौरान भी उनसे एकाध चूक हुई। उन्‍हें और अंक मिल सकते थे लेकिन चहल की गेंद पर उन्‍होंने मैक्‍सवेल का कैच टपका दिया।
अक्षर पटेल, 5: अभ्यास मैच में अक्षर को गेंदबाज़ी का अभ्यास करने का मौक़ा ही नहीं मिला। बल्लेबाज़ी में उन्होंने 6 गेंदों में 6 रनों की पारी खेली और इस बात का भरसक प्रयास किया कि सूर्यकुमार को ज़्यादा से ज़्यादा स्ट्राइक मिले।
आर अश्विन, 6: अश्विन को बल्लेबाज़ी में दो गेंदों का सामना करने का मौक़ा मिले। एक गेंद पर उन्होंने सिक्सर लगाया और दूसरी पर वह आउट हो गए। वहीं जब गेंदबाज़ी की बारी आई तो उन्होंने भले ही अपने पहले ओवर मे 14 रन लुटाए लेकिन उसके बाद अपने पूरे स्पेल में सिर्फ़ 17 रन ख़र्च किया। हालांकि अश्विन से भारतीय टीम सिर्फ़ किफ़ायती गेंदबाज़ी ही नहीं विकेट की भी अपेक्षा रखती है।
भुवनेश्वर कुमार, 9: भुवनेश्वर ने आज फिर से अपनी गेंदबाज़ी की शुरुआत काफ़ी अच्छे तरीक़े से किया। पावरप्ले का आख़िरी ओवर फेंकते हुए उन्होंने पहले मिचेल मार्श का विकेट निकाला और फिर 16वें ओवर में ग्लेन मैक्सवेल को भी आउट कर के मैच के भारत के पाले से फिसलने नहीं दिया। उन्होंने अपने तीन ओवर में सिर्फ़ 20 रन ख़र्च किए।
हर्षल पटेल, 8: हर्षल पिछले कुछ मैचों में उस लय में नज़र नहीं आए हैं, जिसकी उनसे उम्मीद की जाती है। उनकी धीमी गेंद को पढ़ना लगातार आसान होते चला जा रहा है। हालांकि इस मैच में उन्होंने 19वें ओवर में सिर्फ़ 5 रन दिए और ऐरन फ़िंच का महत्वपूर्ण विकेट भी हासिल किया। पहले दो ओवर महंगे रहने के बावजूद उन्होंने तीन ओवर में सिर्फ़ 30 रन दिए।
अर्शदीप सिंह, 6 : अर्शदीप ने आईपीएल में अपनी डेथ ओवर की गेंदबाज़ी से पहचान बनाई थी। उनके यॉर्कर सटीक थे। उनकी सबसे बड़ी ताक़त उनकी किफ़ायती गेंदबाज़ी थी। हालांकि वह अपने उस भूमिका को अदा करने में थोड़ा बिखर जा रहे हैं। आज उन्होंने तीन ओवर में 34 रन ख़र्च किए और सिर्फ़ एक विकेट हासिल किया।
मोहम्मद शमी, 10: शमी 20वें ओवर में जब अपना पहला ओवर फेंकने आए तो किसी भारतीय खिलाड़ी को स्टंप माइक में यह कहते हुए सुना गया कि 'व्हाट एन एंट्री', शमी भी इस एंट्री को ग्रांड एंट्री बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते थे। भारतीय जर्सी में वह लगभग एक साल नज़र आ रहे थे। उन्होंने इस ओवर में कुल तीन विकेट लिए, साथ ही एक रन आउट भी किया और सिर्फ़ चार रन ख़र्च किए।
युज़वेंद्र चहल, 7: भारत इस टी20 विश्व कप में उम्मीद जता रहा है कि ऑस्ट्रेलिया के बड़े मैदानों पर चहल की फ़िरकी कारगर साबित हो सकती है। आज उन्होंने कुल तीन ओवर किए और 28 रन देकर एक विकेट हासिल किया। उनकी एक गेंद पर मैक्सवेल का कैच भी छूटा।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।