मैच (16)
IPL (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

रोहित : विश्व कप के लिए बुमराह का करियर दांव पर नहीं लगा सकते

कप्तान के अनुसार शमी विश्व कप के लिए तैयार हैं

अभ्यास के दौरान शमी-बुमराह (फ़ाइल फ़ोटो)  •  Getty Images

अभ्यास के दौरान शमी-बुमराह (फ़ाइल फ़ोटो)  •  Getty Images

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने कहा है कि टी20 विश्व कप में जसप्रीत बुमराह को जोख़िम में डालने से ज़्यादा महत्वपूर्ण उनका करियर बचाना है। वह विश्व कप से पहले हुए सभी कप्तानों के प्रेस कॉन्फ़्रेंस में बोल रहे थे।
गौरतलब है कि पीठ की चोट के कारण बुमराह टी20 विश्व कप से बाहर हो गए हैं। वह कम से कम छह सप्ताह मैदान से बाहर रहेंगे।
रोहित ने कहा, "हमने बुमराह के चोट के बारे में कई विशेषज्ञों से बात की लेकिन सभी जगह से हमें एक ही तरह की राय मिली। यह विश्व कप हमारे लिए महत्वपूर्ण है लेकिन उनका करियर और भी महत्वपूर्ण है। वह अभी 27-28 साल के हैं और उनमें बहुत क्रिकेट बाक़ी है। वह भविष्य में इस तरह की कई और प्रतियोगिताएं खेल सकते हैं। इसलिए हम जोखिम नहीं ले सकते। हां, हम उन्हें इस प्रतियोगिता में मिस ज़रूर करेंगे।"
बुमराह की जगह अब भारतीय विश्व कप दल में मोहम्मद शमी को शामिल किया गया है। उन्होंने पिछले तीन महीने से कोई क्रिकेट नहीं खेला है और आख़िरी टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच उन्होंने पिछले टी20 विश्व कप में ही खेला था। हां, उन्होंने आईपीएल के सभी 16 मैच खेलते हुए अपनी टीम के लिए सर्वाधिक 20 विकेट लिए थे, जिसमें पावरप्ले के दौरान सबसे अधिक 11 विकेट थे।
साउथ अफ़्रीका और ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ टी20 घरेलू सीरीज़ के लिए उनका चयन तो हुआ था लेकिन कोरोना के कारण उन्हें बाहर होना पड़ा। 28 सितंबर को कोरोना निगेटिव होने के बाद उन्होंने एनसीए, बेंगलुरु में अपनी ट्रेनिंग शुरू की थी।
"चोटों के मामले में हम ज़्यादा कुछ नहीं कर सकते, यह हमारे नियंत्रण में नहीं है"
रोहित शर्मा
वह अब ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुके हैं और रविवार को भारतीय दल के साथ अपने पहले अभ्यास सत्र में भाग लेंगे। रोहित ने कहा, "शमी ने पिछले 10 दिनों में एनसीए में बहुत मेहनत की है। वह कोविड से भी तेज़ी से उबरे हैं। उन्होंने तीन से चार नेट सेशन में गेंदबाज़ी का अभ्यास किया है और वह अच्छे नज़र आ रहे हैं।"
पर्थ में वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया टीम से दो अभ्यास मैच खेलने के बाद भारतीय टीम ब्रिस्बेन पहुंच चुकी है, जहां वे रविवार को अभ्यास करेगी। इस अभ्यास सत्र में शमी भी हिस्सा लेंगे। इसके बाद टीम को 17 और 19 अक्तूबर को क्रमशः ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ अभ्यास मैच खेलना है।
भारतीय कप्तान ने कहा, "चोट पर किसी का नियंत्रण नहीं है। यह कभी भी किसी को भी लग सकती है। इसलिए हम पिछले एक साल से खिलाड़ियों का एक पूल तैयार कर रहे हैं, जो हमेशा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के लिए तैयार रहें। इस दिशा में हर खिलाड़ी को रोटेशन पॉलिसी के आधार पर अंतर्राष्ट्रीय मैच का अनुभव भी मिल रहा है।"
उन्होंने अपनी गेंदबाज़ी आक्रमण पर भरोसा जताते हुए कहा कि सभी गेंदबाज़ों ने काफ़ी मैच खेले हैं और हमें ज़रूर सफलता हासिल होगी।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर है