मैच (13)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
महिला अंडर-19 विश्व कप (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
बीबीएल (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (1)
ZIM v WI (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम पाकिस्तान (1)
सुपर स्मैश (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
बीपीएल 2023 (2)
ख़बरें

हरमनप्रीत : हम गीले मैदान पर 'ज़बरदस्ती' खेले

इस मैच में फ़ील्डिंग के दौरान भारतीय स्पिनर राधा यादव चोटिल हो गईं

इस मैच से पहले भारी बारिश हुई थी  •  PA Images via Getty Images

इस मैच से पहले भारी बारिश हुई थी  •  PA Images via Getty Images

भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर का मानना है कि उनकी टीम नमी वाली परिस्थितियों में 'ज़बरदस्ती' खेली, इस वजह से उनके खिलाड़ी पहले टी20 में साधारण दिखे।
इस मैच की शुरूआत होने से पहले बारिश की बाधा आई थी। इसके बाद टॉस जीतकर इंग्लैंड ने भारत को बल्लेबाज़ी का न्योता दिया। इंग्लैंड के स्पिनरों ने भारतीय बल्लेबाज़ों को बांधे रखा और भारतीय टीम निर्धारित ओवरों में सात विकेट खोकर सिर्फ़ 132 रन ही बना सकी। इंग्लिश टीम ने इस लक्ष्य को आसानी से सिर्फ़ एक विकेट खोकर 13 ओवरों में ही पा लिया।
हालांकि खेल के दौरान मैदान का एक बड़ा हिस्सा थोड़ा गीला, नम और धीमा था। वहीं पिच भी फंस रही थी, जिससे बल्लेबाज़ों को स्ट्रोक खेलने में परेशानी हो रही थी। भारत ने इस दौरान फ़ील्ड में कैच छोड़े और कई बार मिसफ़िल्डिंग भी की, जिससे विपक्षी बल्लेबाज़ों को बाउंड्रीज़ मिलीं।
मैच के बाद प्रेस कॉन्फ़्रेंस में हरमनप्रीत ने कहा, "हमने उतने रन नहीं बनाए जितना हम उम्मीद कर रहे थे। मुझे लगा कि हम आज ज़बरदस्ती खेले क्योंकि परिस्थितियां पूरी तरह से शत प्रतिशत ठीक नहीं थीं और खिलाड़ियों के चोटिल होने का ख़तरा था। हालांकि मैं ख़ुश हूं कि लड़कियों ने अपनी तरफ़ से पूरा प्रयास किया। आप एक टीम नेतृत्व के रूप में अपने साथियों से यही चाहते हैं।"
इस मैच में भारत की तरफ़ से सिर्फ़ स्मृति मांधना, हरमनप्रीत और दीप्ति शर्मा ही 20 से अधिक रन बना सकीं। वहीं इंग्लैंड की लेग स्पिनर सेरा ग्लेन ने सिर्फ़ 23 रन पर चार विकेट लेकर भारतीय बल्लेबाज़ी क्रम की बखिया उधेड़ दी। टीम की अन्य दो स्पिनरों ब्रायोनी स्मिथ और सोफ़ी एकलस्टन ने भी ग्लेन का पूरा साथ दिया।
इंग्लैंड की पारी में फ़ील्डिंग के दौरान बाएं हाथ की भारतीय स्पिनर राधा यादव को चोट भी लगी जब उन्होंने एक शॉट को रोकने के लिए बैकवर्ड प्वाइंट पर बायीं ओर डाइव लगाया। वह दर्द से कराहते हुए मैदान से बाहर हुईं और फिर उनकी जगह सिमरन दिल बहादुर ने पूरी पारी में फ़ील्डिंग किया। इसके अलावा कई और बार डीप में फ़ील्डरों को गेंद फ़ील्ड करने में परेशानी हुई और वे फिसलती हुईं नज़र आईं।
हरमनप्रीत ने कहा, "मुझे पता है कि खेलने के लिए परिस्थितियां 100 प्रतिशत ठीक नहीं थीं लेकिन फिर भी हमने अपना पूरा प्रयास किया। मैदान गीला था और हमारी एक खिलाड़ी घायल भी हुई। वह हमारी प्रमुख गेंदबाज़ थी और उसकी कमी हमें खली। अंत में हम एक गेंदबाज़ कम साबित हुए।"
राधा के मैदान से बाहर होने के बाद हरमनप्रीत और शेफ़ाली वर्मा ने एक-एक ओवर किया, जिसमें उन पर क्रमशः 17 और 11 रन पड़े। इसके अलावा उन्हें इंग्लैंड के दाएं हाथ के बल्लेबाज़ों के सामने अपने ऑफ़ स्पिनरों दीप्ति और स्नेह राणा का अधिक प्रयोग करना पड़ा।

एस सुदर्शनन ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं