मैच (18)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
USA vs BAN (1)
CE Cup (3)
T20I Tri-Series (2)
आईपीएल (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
फ़ीचर्स

महिला विश्व कप से जुड़ी अहम जानकारियां

क्या होगा फ़ॉर्मैट? कितना सख़्त होगा बायो-बबल?

यश झा और साई सुदर्शनन
02-Mar-2022
World Cup captains Meg Lanning, Bismah Maroof, Stafanie Taylor, Heather Knight, Sophie Devine, Mithali Raj, Sune Luus and Nigar Sultana pose with the trophy, Women's ODI World Cup 2022, Christchurch, February 25, 2022

विश्व कप ट्रॉफ़ी के साथ आठ टीमों की कप्तान - मेग लानिंग, बिस्माह मारूफ़, स्टेफ़ानी टेलर, हेदर नाइट, सोफ़ी डिवाइन, मिताली राज, सुने लूस और निगार सुल्ताना  •  Getty Images

कोरोना महामारी के कारण एक साल बाद ही सही, महिला वनडे विश्व कप का 12वां संस्करण आख़िरकार शुरू होने जा रहा है। 4 मार्च को मेज़बान न्यूज़ीलैंड वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ मैच के साथ इस प्रतियोगिता का आग़ाज़ करेंगे। आइए नज़र डालते हैं इस टूर्नामेंट से जुड़ी महत्वपूर्ण बातों पर।
कितनी टीमें हिस्सा ले रही हैं?
आठ। जहां न्यूज़ीलैंड ने मेज़बान होने के कारण विश्व कप में जगह बनाई, ऑस्ट्रेलिया, साउथ अफ़्रीका, इंग्लैंड और भारत ने 2017-2021 तक चली महिला चैंपियनशिप के शीर्ष पांच स्थानों पर रहकर इस विश्व कप में प्रवेश किया। अंतिम तीन टीमें एक क्वालीफ़ायर के ज़रिए निर्धारित की जानी थी।
क्वालीफ़ायर तो रद्द हो गए थे ना? फिर अंतिम तीन टीमों का चयन किस आधार पर किया गया?
हां, कोरोना महामारी के कारण कई देशों के बीच यात्रा पर लगे प्रतिबंधों ने नवंबर-दिसंबर 2021 में ज़िम्बाब्वे में खेले जा रहे विश्व कप क्वालीफ़ायर को अचानक रद्द कर दिया गया था। परिणामस्वरूप विश्व कप के अंतिम तीन स्थान उस समय की ताज़ा आईसीसी रैंकिंग के अनुसार तय किए गए थे। पाकिस्तान, वेस्टइंडीज़ और बांग्लादेश ने विश्व कप में किया प्रवेश जबकि श्रीलंका, थाईलैंड और आयरलैंड को निराशा हाथ लगी। साथ ही यह पहला मौक़ा होगा जब बांग्लादेश महिला विश्व कप में हिस्सा लेगा।
बड़े मुक़ाबले किन दिनों पर खेले जाएंगे?
6 मार्च को भारत और पाकिस्तान एक डे-नाइट मैच में आमने-सामने होंगे जबकि ऐशेज़ के प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया 5 मार्च को भिड़ेंगे। पड़ोसी देश ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड टकराएंगे 13 मार्च को और 28 मार्च को अंतिम राउंड-रॉबिन मैच में भारत के सामने होगी साउथ अफ़्रीका। सेमीफ़ाइनल मुक़ाबले 30 और 31 मार्च को खेले जाएंगे और फ़ाइनल मुक़ाबला होगा 3 अप्रैल को। अंतिम तीन मैचों के लिए रिज़र्व डे का प्रबंध किया गया है। अगर रिज़र्व डे पर भी फ़ाइनल मैच पूरा नहीं हो पाता है, तो फ़ाइनल में पहुंचने वाली दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाएगा।
इस बार विश्व कप का फ़ॉर्मैट क्या होगा?
2019 के पुरुष वनडे विश्व कप की तरह यहां पर भी प्रत्येक टीम को अन्य सात टीमों का एक बार सामना करना होगा। इसके बाद शीर्ष चार टीमें सेमीफ़ाइनल में पहुंचेगी। पहले सेमीफ़ाइनल में अंक तालिका की शीर्ष टीम भिड़ेंगी चौथे स्थान की टीम के साथ जबकि दूसरा सेमीफ़ाइनल होगा अंक तालिका में दूसरे और तीसरे नंबर की टीमों के बीच। हालांकि, अगर भारत सेमीफ़ाइनल में पहुंचता है तो वह क्राइस्टचर्च में खेला जाने वाला दूसरा सेमीफ़ाइनल खेलेगा।
प्रत्येक मैच जीतने पर कितने अंक मिलेंगे?
हर मैच जीतने पर टीम को 2 अंक मिलेंगे जबकि बराबरी पर समाप्त हुए टाई मैच के लिए दोनों टीमों को एक-एक अंक मिलेगा। राउंड-रॉबिन में सुपर ओवर का उपयोग नहीं किया जाएगा। अगर अंक तालिका में दो टीमों के अंक एक समान होते हैं, तो नेट रन रेट का प्रयोग किया जाएगा। अगर नेट रन रेट के आधार पर भी दोनों टीमें बराबरी पर होती हैं, तो हेड-टू-हेड का इस्तेमाल होगा। इसका अर्थ यह है कि बराबरी पर रहने वाली दोनों टीमों के बीच हुए मैच के विजेता को आगे बढ़ने का मौक़ा मिलेगा। यदि सेमीफ़ाइनल या फ़ाइनल मुक़ाबला टाई होता है, तो सुपर ओवर का इस्तेमाल किया जाएगा। 2019 विश्व कप के विपरित, अगर सुपर ओवर भी बराबरी पर समाप्त होता है, तो फिर से एक और सुपर ओवर खेला जाएगा जब तक एक निश्चित विजेता नहीं मिल जाता।
विश्व कप किन मैदानों पर आयोजित किया जाएगा?
छह मैदान (ऑकलैंड में ईडन पार्क, क्राइस्टचर्च में हैगली ओवल, डनेडीन में यूनिवर्सिटी ओवल, हैमिलटन में सेडन पार्क, माउंट मॉन्गानुई में बे ओवल और वेलिंगटन में बेसिन रिज़र्व) इस विश्व कप के कुल 31 मैचों की मेज़बानी करेंगे। सेमीफ़ाइनल वेलिंगटन और क्राइस्टचर्च में खेला जाएगा। साथ ही क्राइस्टचर्च फ़ाइनल मुक़ाबले की मेज़बानी भी करेगा।
क्या डीआरएस का उपयोग किया जाएगा?
जी हां, यह दूसरा मौक़ा होगा जब महिला विश्व कप में रिव्यू प्रणाली का इस्तेमाल किया जाएगा। प्रत्येक टीम को प्रत्येक पारी में दो असफल रिव्यू मिलेंगे। 2017 के संस्करण में कुछ चुनिंदा मैचों में ही डीआरएस का उपयोग किया गया था और प्रत्येक टीम के पास केवल एक असफल रिव्यू था।
क्या कोरोना महामारी के कारण यह विश्व कप बायो-बबल में खेला जाएगा?
आईसीसी ने खिलाड़ियों को कठोर बायो-बबल और प्रत्येक दिन के कोरोना टेस्ट से राहत देने का निर्णय लिया है। इसके विपरित यह टूर्नामेंट प्रबंधित परिस्थितियों में खेला जाएगा।
आईसीसी के सीईओ जेफ़ ऐलरडाइस ने कहा, "जांच अब प्रत्येक दिन नहीं की जाएगी। खिलाड़ियों को अब अधिक ज़िम्मेदारी लेनी होगी और सावधानी बरतनी होगी।" साथ ही कोरोना संक्रमण से ग्रस्त होने वाली टीमें नौ खिलाड़ी और दो सबस्टिट्यूट के साथ मैदान पर उतर सकेंगी। सबस्टिट्यूट खिलाड़ी केवल फ़ील्डिंग कर पाएंगी। 15 सदस्यीय दल के साथ-साथ टीमों को ऐसी परिस्थिति से जूझने के लिए तीन स्टैंड-बाय खिलाड़ियों को लेकर आने की अनुमति दी गई थी।
विजेता टीम को क्या पुरस्कार मिलेगा?
ट्रॉफ़ी के साथ-साथ महिला विश्व कप की चैंपियन टीम को 9.91 करोड़ रुपयों का पुरस्कार दिया जाएगा। कुल पुरस्कार राशि में भी 75 प्रतिशत का इज़ाफ़ा किया है। उपविजेता टीम को 4.50 करोड़ रुपये और सेमीफ़ाइनल हारने वाली दोनों टीमों को इस बार 2.25 करोड़ रुपये मिलेंगे। वहीं ग्रुप स्टेज से बाहर होने वाली चार टीमों को प्रत्येक 52.54 लाख रुपये का ईनाम दिया जाएगा।
क्या यह टूर्नामेंट बंद दरवाज़ों के पीछे खेला जाएगा?
प्रतियोगिता के शुरुआती चरण में 10 प्रतिशत दर्शकों को मैदान पर आने की अनुमति दी गई है। टूर्नामेंट के अधिकारियों को उम्मीद हैं कि आगे चलकर अधिक दर्शकों को मैच देखने के लिए मैदान पर आने की मंज़ूरी दी जाएगी।
रिकॉर्ड तोड़ने की दहलीज़ पर...
महिला विश्व कप के छह संस्करण खेलने वाली पहली खिलाड़ी बनेंगी मिताली राज। 1139 रनों के साथ मिताली विश्व कप में सर्वाधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी बनने से 362 रन दूर हैं। इस विश्व कप में तीन मैच खेलकर मिताली सर्वाधिक विश्व कप मैच खेलने वाली खिलाड़ी भी बन जाएगी। उनकी अनुभवी साथी झूलन गोस्वामी विश्व कप में सर्वाधिक विकेट लेने वाली महिला खिलाड़ी बनने से चार विकेट दूर हैं।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।