मैच (12)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
BAN v SL (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
Sheffield Shield (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े - भारत का घर में सबसे छोटा वनडे

भारत और साउथ अफ़्रीका के बीच तीसरे वनडे से जुड़े आंकड़े

आठ विकेट इस मैच में भारतीय स्पिनरों ने लिए हैं।  •  BCCI

आठ विकेट इस मैच में भारतीय स्पिनरों ने लिए हैं।  •  BCCI

3 साउथ अफ़्रीका ने वनडे में मंंगलवार को 99 रन पर ऑलआउट होने से पहले तीन बार 100 से कम के स्कोर बनाए हैं। साउथ अफ़्रीका चार बार वनडे में 100 से नीचे ढेर हुई है जिसमें से दो 2022 में आए हैं। वे जुलाई में मैनचेस्‍टर में इंग्‍लैंड के ख़‍िलाफ़ 83 रनों पर ऑलआउट हो गए थे।
99 मंगलवार को बनाया स्कोर साउथ अफ़्रीका का इस प्रारूप में भारत के ख़‍िलाफ़ न्‍यूनतम है। इससे पहले वह 1999 में नैरोबी में भारत के ख़‍िलाफ़ 117 पर ऑलआउट हुए थे। साथ ही 2016 में न्‍यूज़ीलैंड के भारत के ख़‍िलाफ़ 79 रनों पर आउट होने के बाद किसी भी टीम का भारत के ख़‍िलाफ़ यह न्‍यूनतम स्‍कोर है।
2 पहली पारी का स्‍कोर भारत के ख़‍िलाफ़ साउथ अफ़्रीका के 99 से कम केवल दो बार हुआ है। केन्‍या 2001 ब्‍लूमफ़ॉटेन में 90 रनों पर ऑलआउट हो गई थी, जबकि 1984 में शारजाह में श्रीलंका 96 रन ही बना पाई थी। साथ ही यह साउथ अफ़्रीका का वनडे में पहली पारी में दूसरा न्‍यूनतम स्‍कोर है। इससे पहले वह इंग्‍लैंड के ख़‍िलाफ़ नॉटिंघम में 2008 में 83 रनों पर पवेलियन लौट गए थे।
185 भारत ने मैच में लगभग 31 ओवर रहते लक्ष्‍य हासिल कर लिया। इससे उन्‍होंने गेंदों के शेष रहते साउथ अफ़्रीका को उनकी तीसरी सबसे बड़ी हार दी। 2008 में इंग्‍लैंड 215 रन रहते 84 रनों तक पहुंच गया था, जबकि ऑस्‍ट्रेलिया ने 2002 में 107 रनों का लक्ष्‍य 188 गेंद रहते हासिल किया था। वहीं दिल्‍ली में गेंद के शेष रहते भारत की भी यह वनडे में पांचवीं सबसे बड़ी जीत है।
278 दिल्‍ली में तीसरा वनडे केवल 278 गेंदों तक चल पाया। यह भारत में सबसे छोटा वनडे रहा जिसमें किसी कारणवश मैच में ओवर्स की कटौती नहीं हुई हो। पिछला सबसे छोटा मैच तिरुवंतपुरम में 2018 में हुआ था जो केवल 280 गेंद का हो पाया।
12 मोहम्मद सिराज ने इस साल वनडे में पहले 10 ओवर में 12 विकेट लिए हैं। 2022 में केवल ओमान के बिलाल ख़ान (13) उनसे ज्‍़यादा विकेट पहले 10 ओवर में ले पाए हें। उनका इस साल इस पड़ाव में 15.66 का औसत 2002 से किसी भी भारतीय गेंदबाज़ का एक कैलेंडर ईयर में सबसे बेहतरीन है (न्यूनतम 10 विकेट)।
8 इस मैच में भारतीय स्पिनरों ने आठ विकेट लिए। यह वनडे में 13वीं बार हुआ है जब भारतीय स्पिनरों ने आठ या उससे ज्‍़यादा विकेट लिए हैं। पिछली दोनों ऐसे अवसर भी साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ ही थे, जब 2018 दौरे पर मैच सेंचुरियन और केपटाउन में खेले गए थे।
3 विकेट कुलदीप यादव ने इस मैच में नंबर आठ के स्‍थान और उससे नीचे के बल्‍लेबाज़ों के लिए। यह वनडे में तीसरा मौक़ा है जब‍ कुलदीप ने एक मैच में आख़‍िरी चार में से तीन बल्‍लेबाज़ों के विकेट लिए। 2012 से केवल ट्रेंट बोल्‍ट, अमित मिश्रा और राशिद ख़ान ने ही कुलदीप जितने तीन या उससे ज्‍़यादा निचले क्रम के बल्‍लेबाज़ों (8-11 स्‍थान) को वनडे में आउट किए हैं।

संपत बंडारुपल्ली ESPNcricinfo में स्‍टेटिस्टिशियन हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।