मैच (32)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (3)
बीबीएल (2)
महिला अंडर-19 विश्व कप (2)
बीपीएल 2023 (4)
रणजी ट्रॉफ़ी (17)
सुपर स्मैश (1)
ZIM v WI (1)
ख़बरें

हीली : मैं मेग लानिंग से अलग तरह की नेतृत्‍वकर्ता हूं

भारत में अपने पहले अंतर्राष्‍ट्रीय शतक की यादों से उत्‍साहित हैं ऑस्‍ट्रेलिया की नई कप्‍तान

अलिसा हीली भारत के विरुद्ध टी20 सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी कर रही हैं  •  PTI

अलिसा हीली भारत के विरुद्ध टी20 सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी कर रही हैं  •  PTI

अलिसा हीली भारतीय दौरे पर ऑस्‍ट्रेलिया महिला टीम की मौजूदा कप्‍तान हैं। रेचल हेंस के संन्‍यास लेने की वजह से उन्‍हें उपकप्‍तान बनाया गया था। अब क्‍योंकि मेग लानिंग की अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट में गैरमौजूगी जारी है तो हीली एक अजीब सी स्थिति में फंस गई हैं।
ऑस्‍ट्रेलियाई टीम पिछली बार राष्ट्रमंडल खेलों में खेली थी जहां उसने भारत को हराकर स्‍वर्ण पदक जीता था। लानिंग 2014 से टीम की कप्‍तान रही हैं। तो क्‍या हीली भारत में लानिंग की टीम का नेतृत्‍व करेंगी या उनकी अपनी ही कोई अलग खेलने की स्‍टाइल है?
भारत के ख़‍िलाफ़ पहले टी20 से पहले नवी मुंबई में हंसते हुए हीली ने कहा, "ये लाइन बड़ी ही धुंधली हैं। यह रोचक है, मुझे इसे अपना बनाने और इसे अपनी भूमिका बनाने की स्वतंत्रता दी जा रही है। मेग के भविष्‍य के बारे में ज्‍़यादा 100 प्रतिशत नहीं कहा जा सकता है और हां, वह वापसी करेंगी और आने पर अपने फ़ैसले खु़द लेंगी।"
हीली ने आगे कहा, "मैं मेग से बहुत अलग तरह की नेतृत्‍वकर्ता हूं, मेरा अलग तरह का व्‍यक्तित्‍व है। यहां बात मेरे रोल पर बने रहने की है और वाक़ई में मैं इस चुनौती के लिए बहुत उत्‍सुक हूं।"
2010 में अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने के बाद 2017 से हीली टीम का अहम हिस्‍सा रही हैं। महिला विश्‍व कप में ऑस्‍ट्रेलिया जब चौंकाते हुए बाहर हुआ था तब से वह ओपन कर रही हैं। कप्‍तानी और उपकप्‍तानी के बारे में नहीं सोचते हुए उन्‍होंने लानिंग की विकेट के पीछे से मदद की है। अब हीली पहली बार शुक्रवार को कप्‍तान के तौर पर उतर रही हैं लेकिन यह उनके लिए नया नहीं है क्‍योंकि वह महिला बिग बैश लीग में सिडनी सिक्‍सर्स की कप्‍तानी करती हैं।
उन्‍होंने कहा, "मुझे नहीं लगता है कि व्‍यक्तित्‍व के तौर पर मुझे ग्रुप के लिए बदलने की ज़रूरत है। यहां बात ज्‍़यादा सोचने और प्‍लान करने की है कि मैदान पर क्‍या चल रहा है। मुझे खिलाड़ियों के ग्रुप से समर्थन मिला है जो मुझे प्रोत्साहित करता है कि मैं कौन हूं।"
हीली के लिए सबसे बड़ी चुनौती तो ओपनिंग बल्‍लेबाज़ी, विकेट‍कीपिंग से लेकर कप्‍तानी करना हैं, वो भी उस मुंबई शहर में जहां मौसम थोड़ा गर्म रहता है। वैसे भी वह एडिलेड के ठंडे मौसम से यहां आई हैं जहां उनकी टीम को एडिलेड स्‍ट्राइकर्स से डब्‍ल्‍यूबीबीएल फ़ाइनल में हार मिली थी।
उन्‍होंने स्‍वीकार किया, "मुझे बेहद दबाव वाली परिस्थिति पसंद है लेकिन यह कार्य प्रबंधन को संभालने की भी बात है। मैं बहुत ख़ुशक़िस्‍मत हूं कि टीम में इतने सारे नेतृत्‍वकर्ता हैं, तो इससे फ़र्क नहीं पड़ता है कि टीम में कौन कप्‍तान है या उपकप्‍तान है। आप बस देखते हो कि ग्रुप एकजुट है और ऐसी स्थिति में मैं उनकी मदद कर सकती हूं।"
हीली ने आगे कहा, "मैं इस बारे में बहुत ख़ु‍शक़िस्‍मत हूं कि मुझे नहीं लगता कि मेरे अंदर कोई अहंकार है, जब बात नेतृत्‍वकर्ता या कप्‍तानी की आए। मैं ग्रुप के साथ मिलकर काम करती हूं। सीनियर और जूनियर खिलाड़‍ियों से लगातार इनपुट लेती हूं, क्‍योंकि इससे टीम का ही फ़ायदा होना है।"
हीली को भारत का दौरा करना पसंद है और यहां पर कप्‍तानी का पदार्पण करना उनके लिए इसे और ख़ास बना देता है। हो भी क्‍यों नहीं? उन्‍होंने अपने अंतर्राष्‍ट्रीय करियर का पहला शतक भारत में ही बनाया था।
उन्‍होंने कहा, "2018 के बाद से इस बारे में सोचिए कि क्रिकेट की दुनिया में क्या हुआ है, लेकिन उस समय में दुनिया में क्या हुआ, इसका हिस्सा बनने के लिए काफ़ी अनूठा अनुभव रहा है। निजी तौर पर यहां आना अच्‍छा है। भारत के साथ बहुत ख़ास लम्‍हें जुड़े हैं। मेरा पहला शतक हमेशा मेरे साथ रहेगा आर मैं यहां लौटकर ख़ुश हूं।"
महिला आईपीएल की बात होने पर हीली की आंखों में चमक आती है। ऐसा माना जाता है कि टूर्नामेंट मार्च 2023 में शुरू होगा और इसमें पांच टीमें भाग लेंगी। हालांकि उन्‍होंने इसका हिस्सा बनने के लिए अपनी रुचि का संकेत दिया, लेकिन उन्‍होंने बड़ी तस्वीर देखने की बात कही।
उन्होंने कहा, "मैंने महिला आईपीएल शुरू होने की बात सुनी है। मैं उत्‍साहित हूं, निजी तौर पर नहीं, इससे महिला क्रिकेट बदलेगा इसको देखकर खु़श हूं, क्‍योंकि हर कोई यहां इसकी ही बात कर रहा है। मुझे पूरी उम्‍मीद है कि हम सभी इसमें खेलने को तैयार हैं। आईपीएल बेहद ही शानदार टूर्नामेंट रहा है और महिला टूर्नामेंट के जुड़ने से महिला क्रिकेट को बहुत ही फ़ायदा मिलेगा।"

एस सुदर्शनन ESPNcricinfo में सब एडिटर है। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।