मैच (16)
IPL (3)
PAK v WI [W] (1)
Pakistan vs New Zealand (2)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए पाकिस्तान को खेलने का तरीक़ा खोजना होगा : उथप्पा

पूर्व कोच आर्थर का मानना है कि टीम को रिज़वान और बाबर को अलग करना चाहिए

मोहम्मद रिज़वान और बाबर आज़म को टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पारी की शुरुआत नहीं करनी चाहिए। मध्य क्रम को मज़बूती प्रदान करने के लिए फ़ख़र ज़मान से ओपन करवाते हुए पाकिस्तान को इन दोनों में से किसी एक को तीसरे नंबर पर भेजना चाहिए। पाकिस्तान के पूर्व कोच मिकी आर्थर और भारतीय बल्लेबाज़ और 2007 में टी20 विश्व कप विजेता रॉबिन उथप्पा के अनुसार शीर्ष क्रम में पाकिस्तान की धीमी शुरुआत का यही समाधान है।
एशिया कप के अपने पहले मैच में भारत के विरुद्ध पाकिस्तान की हार के बाद उथप्पा ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो टी20 टाइमआउट कार्यक्रम पर कहा, "वे रिज़वान और बाबर पर इतने अधिक निर्भर हैं कि मेरे अनुसार पहले बल्लेबाज़ी करते हुए आप उन्हें अलग करना चाहेंगे।"
उन्होंने आगे कहा, "(बेहतर होगा) अगर आप फ़ख़र ज़मान से शुरुआत करते हुए दाएं और बाएं हाथ का संयोजन बनाए जिससे गेंदबाज़ों को अलग-अलग कोण डालने पड़ेंगे। बाबर या रिज़वान नंबर तीन पर आए ताकि थोड़ी और गहराई हो और कोई उनके लिए एंकर की भूमिका निभा सकें। वे एक छोर को पकड़ सकते हैं जबकि अन्य खिलाड़ी उनके इर्द-गिर्द अपनी पारी को आगे बढ़ा सकते हैं।"
तीन वर्षों तक पाकिस्तान के मुख्य कोच रहे आर्थर ने उथप्पा के साथ सहमति व्यक्त की, यह कहते हुए कि फ़ख़र के शीर्ष पर होने से गेंदबाज़ों को अपने कोण बदलने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।
आर्थर ने कहा, "मुझे लगता है कि उन्हें (बाबर और रिजवान को) अलग करना चाहिए। फ़ख़र गेंद को अलग-अलग क्षेत्रों में मारते हैं जिससे गेंदबाज़ों को परेशानी होती है। यह बाएं और दाएं हाथ के अलग-अलग कोण की बात है। इसलिए बाबर और रिज़वान को अलग-अलग करें और फ़ख़र ज़मान से ओपन करवाएं।"
2021 टी20 विश्व कप से पाकिस्तान ने 14 में से 11 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में जीत दर्ज की है। हालांकि तीनों हार उन्हें पहले बल्लेबाज़ी करते हुए मिली। भारत के विरुद्ध भी पाकिस्तान ने पावरप्ले में बाबर और ज़मान का विकेट गंवाया जबकि रिज़वान पारी को तेज़ गति की नहीं दे पाए। उनका स्ट्राइक रेट 110 के पार गया ही नहीं और 15वें ओवर में 42 गेंदों पर 43 रन बनाकर रिज़वान आउट हुए।
उथप्पा ने कहा कि पाकिस्तान ने लक्ष्य का पीछा करते हुए बल्लेबाज़ी करने का तरीक़ा खोज लिया है। हालांकि उनके अनुसार पाकिस्तान के पास पहले बल्लेबाज़ी करने का कोई सेट तरीक़ा नहीं है। यही कारण है कि पहले छह ओवरों के बाद इस टीम को पता नहीं है कि वह क्या कर रही है।
उन्होंने आगे कहा, "ऐसा लग रहा है कि वे अंधेरे में तीर मार रहे हैं क्योंकि उन्होंने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए खेलने का तरीक़ा खोजा नहीं है। अंतिम पांच ओवरों में आपने देखा कि उन्होंने पांच विकेट गंवाए। वह पिच को जल्दी पढ़कर, खेल को अच्छी तरह समझकर एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच सकते थे।"
यह कोई रहस्य नहीं है कि पाकिस्तान अपने शीर्ष तीन बल्लेबाज़ों पर बहुत अधिक निर्भर है। भारत के ख़िलाफ़ मैच से पहले, 2021 टी20 विश्व कप की शुरुआत के बाद से रिज़वान, बाबर और ज़मान ने पाकिस्तान के 67.5 प्रतिशत रन बनाए हैं। टीमों को पता है कि उन तीनों के बाद ज़्यादा बल्लेबाज़ी है नहीं।
आर्थर ने कहा, "ब्लूप्रिंट के संदर्भ में, जब मैं पाकिस्तान के साथ था और हम टी20 में सफल थे, हम पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 160 तक पहुंचने का प्रयास करते थे और फिर अपने गेंदबाज़ों पर भरोसा करते थे। हम जितना हो सके उतनी अच्छी नींव रखते थे, और यह हमारे लिए काफ़ी अच्छा नुस्ख़ा था। उस टीम और इस टीम के बीच अब अंतर यह है कि बीच में, हमारे पास मोहम्मद हफ़ीज़ और शोएब मलिक थे।"
आर्थर ने आगे कहा, "अब बीच में एक युवा समूह है। उनके पास ज़्यादा अनुभव नहीं है। मुझे लगता है कि जब आप उनके तीन विकेट जल्दी निकालेंगे, वह संघर्ष करेंगे।"