मैच (8)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड (1)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम इंग्लैंड (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
बांग्लादेश ए बनाम इंडिया ए (1)
एलपीएल (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
फ़ीचर्स

रेटिंग्‍स : सूर्यकुमार और अक्षर का कोई मोल नहीं

कोहली भी रहे सफल, राहुल और बुमराह ने किया निराश

इस मैच के लिए जब टॉस हो रहा था तो सिक्‍का भारतीय कप्‍तान रोहित शर्मा के हाथों में था और एक बार फिर ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान ऐरन फ़‍िंच की ज़ुबान से हेड ही निकला, जिसका मतलब था कि भारतीय टीम हैदराबाद में खेले जाने वाले तीसरे टी20 अंतर्राष्‍ट्रीय में पहले गेंदबाज़ी करने वाली थी। नतीजा तो सबसे सामने है ही 2-1 से भारतीय टीम ने तीन मैचों की टी20 सीरीज़ में ऑस्‍ट्रेलिया को शिकस्‍त दे दी है। चलिए तो एक बार देख लेते हैं कि भारतीय खिलाड़‍ियों ने इस मैच में कितने अंक पाए हैं।
क्या सही क्या ग़लत?
कुछ भी कहा जाए भुवनेश्‍वर कुमार के साथ अक्षर पटेल पावरप्‍ले में ऑस्‍ट्रेलियाई ओपनर कैमरन ग्रीन को रोक नहीं पाए थे। तभी तो जब पहला विकेट गिरा उस समय ऑस्‍ट्रेलिया 3.3 ओवर में 44 रन बना चुका था। जबकि बल्‍लेबाज़ी में बात की जाए तो केएल राहुल एक बार फ‍िर से नए दृष्टिकोण में ख़ुद को फंसाते दिखे। रोहित नेतृत्‍व करते दिखे लेकिन अगर भारत एक बार फ‍िर से पावरप्ले में अपने दोनों ओपनरों को खो चुका था।
क्‍या सही रहा तो यह भी बताना ज़रूरी है। मध्‍य ओवरों में भारतीय गेंदबाज़ों युज़वेंद्र चहल, हार्दिक पंड्या और अक्षर पटेल ने काफ़ी हद तक क़ामयाबी पा ली थी और नतीज़ा यह रहा कि पांच ओवरों में दो विकेट पर 62 रन बनाने वाली मेहमान टीम 20 ओवर में सात विकेट पर 186 रनों तक ही पहुंच पाई। वहीं जब बात बल्लेबाज़ी की आई तो कोहली अपनी पुरानी लय में दिखे, वह एंकर की भूमिका में ही दिखे लेकिन पहले उन्‍होंने रोहित को हाथ खोलने का मौक़ा दिया और जब सामने सूर्यकुमार अपने 360 डिग्री स्‍तर पर मुहर लगाते दिखे, तो वह उनको भी सलाम करते दिखे। सूर्यकुमार के आउट होने के बाद कोहली भी आगे आते दिखे और जब तक वह आउट हुए, भारत जीत यह सीरीज़ जीत चुका था।
प्लेयर रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)
रोहित शर्मा, 5: रोहित नेतृत्‍वकर्ता के तौर पर अपने नए दृष्टिकोण के हिसाब से शॉट खेलते दिख रहे हैं, लेकिन जब साथी ओपनर आउट हो जाए तो क्‍या यह दृष्टिकोण काम आएगा, इस बारे में रोहित को सोचना होगा। कप्‍तानी में वह मेहमान टीम को रोकने में पूरी तरह से क़ामयाब रहे हैं, जिस तरह से उन्‍होंने मध्‍य ओवरों में अपने गेंदबाज़ों को गेंद थमाई।
केएल राहुल, 3: जिस तरह की ओपनिंग रोहित अपने साथी केएल राहुल से चाहते हैं, शायद अंदर ही अंदर वह भी दबाव में ही हैं। ऐसे में एक मैच में सफल होने के बाद दूसरे में फेल होना उनके खेल के तरीक़ों में नहीं आता है। अब आने वाली साउथ अफ़्रीका सीरीज़ में वह किस तरह से ख़ुद को संभालते हैं यह देखने वाली बात होगी।
विराट कोहली, 9 : कोहली को इस तरह की फ़ॉर्म में टी20 विश्‍व कप से ठीक पहले आते देखना भारत के लिए फ़ायदे का सौदा है। इस मैच में पहले उन्‍होंने रोहित को मौक़े दिए और बाद में सूर्यकुमार के लाज़वाब शॉटों का आनंद उठाया और जब उन्‍हें रन बनाने की ज़रूरत थी तो वह भी इसमें सफल रहे।
सूर्यकुमार यादव, 10 : सूर्यकुमार यादव के बारे में जो भी तारीफ़ की जाए इस प्रारूप में कम ही होगी। 36 गेंद में पांच चौके और पांच छक्‍कों की मदद से 69 रन, रूकिए स्‍ट्राइक रेट 191.66 का। अब तो आप समझ गए होंगे कि जब सूर्यकुमार क्रीज़ पर ज़ल्‍द उतर आते हैं तो क्‍या कहर मचा सकते हैं।
हार्दिक पंड्या, 6 : हार्दिक को जब भी खु़द को साबित करने का मौक़ा मिलता है तो वह निराश नहीं करते हैं। इस बार भी उन्‍होंने 16 गेंद में नाबाद 25 रन बनाए और तीन ओवर में मात्र 23 रन ख़र्च किए। इस बार भले ही वह उभरकर नहीं आए लेकिन शांत रहते हुए भी वह अपना काम कर गए।
दिनेश कार्तिक, 4: कार्तिक के लिए इस मैच में कहने के लिए कुछ ज्‍़यादा नहीं है, वह केवल एक ही गेंद खेल पाए और एक रन बना पाए, लेकिन स्‍टीवन स्मिथ का उनकी एक स्‍टंपिंग मैच का रूख बदलने में क़ामयाब रही थी।
अक्षर पटेल, 10: रवींद्र जाडेजा की अनुपस्थिति, टी20 विश्‍व से पहले बड़ी सीरीज़, ऐसे में अक्षर ख़ुद को साबित करने में सफल रहे हैं। लेग स्पिन तो दूर की बात जिस तरह से उन्‍होंने अपनी आर्म बॉल पर ग्‍लेन मैक्‍सवेल, ऐरन फ़‍िंंच को बोल्‍ड करने के बाद इस मैच में अपनी गेंदों को धीमा रखते हुए फ़‍िंच, इंग्‍लस, वेड के विकेट लिए हैं, वह किसी उपलब्धि से कम नहीं हैं।
हर्षल पटेल, 7 : दो ओवरों में 18 रन देकर एक विकेट, लेकिन यह विकेट टिम डेविड का जो मध्‍य ओवरों को संभालते हुए ऑस्‍ट्रेलिया के लिए अपना पहला अर्धशतक लगा चुके थे। लेकिन यह हर्षल थे जिन्‍होंने उन्‍होंने फंसाया और 27 गेंद में 54 रनों की उनकी पारी का अंत कर दिया।
जसप्रीत बुमराह, 4 : जिस तरह से रोहित ने पिछले आठ ओवरों के मैच में बुमराह का इस्‍तेमाल किया, शायद लंबे समय बाद इस प्रारूप में उनके पहले पूरे मैच में वह इसका लाभ नहीं उठा सके। चार ओवर में 50 रन दिखाता है कि बुमराह पूरी तरह से अपनी गेंदबाज़ी में भटकते दिखे।
युज़वेंद्र चहल, 7: चार ओवर में 22 रन देकर एक विकेट, यह दिखाता है कि रोहित ने चहल को पारी के मध्‍य ओवरों में लगाया और वह मेहमान टीम की रनों की गति को थामने में सफल रहे। स्मिथ की उस एक स्‍टंपिंग ने मैच का रूख भी बदल दिया था।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26