मैच (19)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (4)
T20WC Warm-up (3)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : इन बल्लेबाज़ों ने बना दिए 35 रन तो समझो टीम की जीत तय है

दीपक चाहर के सामने पृथ्वी शॉ ज़्यादा देर तक नहीं टिक पाते

Rishabh Pant and MS Dhoni walk out for the toss, Chennai Super Kings vs Delhi Capitals, IPL 2021, Mumbai, April 10, 2021

पिछले 3 सालों में सुपर किंग्स और कैपिटल्स की जंग काफ़ी रोमांचक रही है  •  BCCI

लीग मैचों में हुई मनोरंजक रस्सा-कस्सी के बाद अब बारी है प्लेऑफ़ की जहां पहले मैच में दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम आमने-सामने हैं। दोनों टीमें एक तरफ जहां पहले ही मैच में जीत हासिल करके फ़ाइनल में जगह पक्का करना चाहेंगी तो वहीं दूसरी तरफ जीत और हार से परे आंकड़े अपनी सुर में कुछ मज़ेदार जानकारियां बयां कर रहे हैं जो आपको आपको जरूर जानने चाहिए।
पासा पलट रहा है
अगर पूरे आईपीएल के इतिहास की बात की जाए तो दोनों टीमों के बीच 25 मैच हुए हैं जिसमें से 15 मैच सीएसके ने और 10 मैच दिल्ली ने जीते हैं। हालांकि 2018 के बाद से दोनों टीमों बीच नौ मैच खेले गए हैं जिसमें पांच मैच सीएसके ने और चार मैच दिल्ली ने जीते हैं। 2019 में दिल्ली ने सीएसके ने ख़िलाफ़ तीन मैच खेले लेकिन तीनों में उन्हें हार मिली। वहीं 2020 और 2021 में दोनों टीमों ने एक-दूसरे के ख़िलाफ़ चार मैच खेले और सभी मैचों में कैपिटल्स की टीम सुपर किंग्स पर हावी रही।
दीपक तले पृथ्वी
आठ पारी, 56 गेंद, 62 रन, छह बार आउट, 10.3 का औसत और 111 का स्ट्राइक रेट। यह दीपक चाहर के ख़िलाफ़ पृथ्वी शॉ का रिकॉर्ड है। वहीं अक्षर पटेल का भी ब्रावो के सामने यही हाल है। ब्रावो के विरुद्ध अक्षर का 9.5 का औसत है और नौ पारियों चार बार वो ब्रावो की गेंद पर आउट हुए हैं।
पावरप्ले दोनों टीमों के पावर की कुंजी
दोनों टीमों के सलामी बल्लेबाज़ों ने इस आईपीएल में वाकई काफ़ी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। 14 पारियों में सीएसके के सलामी बल्लेबाज़ों ने 8.7 की रन गति से रन बनाए हैं। इन दोनों बल्लेबाज़ों ने प्रत्येक मैच में औसतन 33.4 रन प्रति मैच बनाए हैं। वहीं दिल्ली के ओपनर्स ने इतने ही मैचों ने 8.2 की रन गति से प्रत्येक मैच में 32.1 रन प्रति मैच बनाए हैं। आईपीएल 2021 में इस मामले में सीएसके और दिल्ली की टीमें पहले और दूसरे स्थान पर रही हैं।
सीएसके के सलामी बल्लेबाज़ों ने इस आईपीएल में एक साथ 49.4 की औसत से 692 रन बनाए हैं। जिसमें दो शतकीय और चार अर्धशतकीय साझेदारी शामिल है। वहीं दिल्ली के बल्लेबाज़ों ने 13 मैचों में 52 की ओसत से 676 रन बनाए हैं, जिसमें तीन अर्धशतकीय और दो शतकीय साझेदारी हुई है।
पावरप्ले में गेंदबाज़ी की बात करें तो 14 मैचों में दोनों टीमों के गेंदबाज़ों ने 25-25 विकट लिए हैं। इस दौरान दिल्ली ने 6.6 की इकॉनमी से रन खर्च किए और सीएसके ने 8.5 की इकॉनमी से रन खर्च किए हैं।
सीएसके के स्पिनरों के पास है जीत का राज
सीएसके के स्पिनरों ने आईपीएल 2021 में 10 बार आठ रन प्रति ओवर से कम की इकॉनमी रखी है, जिसमें से आठ बार उन्हें जीत मिली है। वहीं चार बार उनके स्पिनरों ने आठ से ज्यादा की इकॉनमी से रन खर्च किया है जिसमें उन्हें तीन बार हार का सामना करना पड़ा है।
दिल्ली के कुछ प्रमुख बल्लेबाज़ों का स्पिनरों के सामने हाल कुछ ज़्यादा बुरा है। पिछली छह पारियों में ऋषभ पंत ने 102 के स्ट्राइक रेट से 56 रन बनाए हैं। वहीं पिछली पांच पारियों में श्रेयस अय्यर ने 111 की स्ट्राइक रेट से 59 रन बनाए हैं। धवन की बात करें तो उन्होंने पिछली पांच पारियों में 113 के स्ट्राइक रेट से स्पिनर्स के ख़िलाफ़ 52 रन बनाए हैं।
ये 35 का क्या चक्कर है?
धवन और शॉ ने दिल्ली के लिए 11 मैचों में 50 रन से ज़्यादा की साझेदारी की है और उसमें 10 बार दिल्ली को जीत मिली है। वहीं 11 बार उन्होंने 10 से कम रनों की साझेदारी की है जिसमें से उन्हें सात मैचों में हार और चार मैचों में जीत मिली है। पृथ्वी ने नौ बार 35 से ज़्यादा रन बनाए हैं जिसमें से आठ बार दिल्ली को जीत मिली है। शिखर की बात करें तो उन्होंने 15 बार 35 से ज़्यादा रन बनाया है तो जिसमें दिल्ली की टीम 12 बार जीत मिली है।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं