मैच (11)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
PSL 2024 (2)
Sheffield Shield (3)
WPL (1)
Dang CL (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : अगर दिल्ली को जीतना है तो रसल से बच कर रहना होगा

दिल्ली कैपिटल्स के ख़िलाफ़ इस हरफ़नमौला के गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी आंकड़ें असाधारण हैं

दिल्ली के ख़िलाफ़ रसल का रिकॉर्ड काफ़ी बढ़िया है  •  BCCI

दिल्ली के ख़िलाफ़ रसल का रिकॉर्ड काफ़ी बढ़िया है  •  BCCI

हेड टू हेड
आईपीएल में वैसे तो ओवरऑल रिकॉर्ड कोलकाता नाइट राइडर्स का अच्छा है और उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स (पहले दिल्ली डेयरडेविल्स) के ख़िलाफ़ 28 में से 16 मुक़ाबले जीते हैं। लेकिन पिछले चार सीज़न में दिल्ली ने बाज़ी मारी है और आठ में से पांच मुक़ाबले में कोलकाता को हराया है।
मैदानी रिकॉर्ड
इस मैदान पर तेज़ गेंदबाज़ी का रिकॉर्ड स्पिन की तुलना में बेहतर है और लक्ष्य का पीछा करने वाली टीम अधिक बेहतर स्थिति में होती है। ब्रेब्रोन स्टेडियम में हुए अब तक 15 आईपीएल मुक़ाबलों में सात बार पहली और आठ बार दूसरी पारी में बल्लेबाज़ी करने वाली टीम जीती है। वहीं अगर सिर्फ़ इस सीज़न की बात की जाए तो चार में से तीन मुक़ाबलों में लक्ष्य का पीछा करने वाली टीम को जीत मिला है। यहां पर तेज़ गेंदबाज़ हर पारी में औसतन चार विकेट लेते हैं, जबकि स्पिनरों के लिए यह आंकड़ा सिर्फ़ 1.6 विकेट/मैच है। कोलकाता ने इस मैदान पर दो मैच खेले हैं और दोनों गंवाए हैं, जबकि दिल्ली ने तीन में से सिर्फ़ एक मैच जीता है।
फ़िज़ ने किया है रसल को परेशान
बाएं हाथ के बांग्लादेशी तेज़ गेंदबाज़ मुस्तफ़िज़ुर रहमान, कोलकाता के सबसे धाकड़ बल्लेबाज़ आंद्रे रसल को ख़ासा परेशान करते हैं और उन्होंन टी20 मैचों में रसल को तीन बार आउट किया है। लॉर्ड नाम से मशहूर शार्दुल ठाकुर भी रसल को चार पारियों में दो बार आउट कर चुके हैं। हालांकि दोनों के ख़िलाफ़ रसल का स्ट्राइक रेट 150 से ऊपर का रहा है, जो उनकी अद्भुत बल्लबाज़ी क्षमता को दिखाता है।
वहीं दूसरी तरफ़ इस सीज़न में अब तक घातक गेंदबाज़ी करने वाले उमेश यादव, डेविड वॉर्नर को आठ में से तीन पारियों में आउट कर चुके हैं। हालांकि इस दौरान वॉर्नर ने भी उमेश पर 161 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं।
रहाणे को भाती है दिल्ली की गेंदबाज़ी
पहले मैच में अच्छी शुरुआत करने वाले कोलकाता के सलामी बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे को दिल्ली के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी करना पसंद है। उन्होंने अपने आईपीएल करियर में दिल्ली के ख़िलाफ़ ही सबसे अधिक रन (18 पारी, 784 रन) बनाए हैं, जिसमें एक शतक भी शामिल है। इस दौरान उन्होंने दिल्ली के ख़िलाफ़ सात बार 50+ का स्कोर बनाया है, जो कि इस फ़्रेंचाइज़ी के ख़िलाफ़ विराट कोहली (आठ बार) के बाद सर्वाधिक 50+ का स्कोर है। दिल्ली के ख़िलाफ़ उनका औसत भी 65.3 का रहा है, जो कि किसी भी बल्लेबाज़ का किसी एक आईपीएल टीम के ख़िलाफ़ तीसरा सर्वाधिक औसत है।
वहीं पिछले मैच में शानदार बल्लेबाज़ी करने वाले पृथ्वी शॉ को कोलकाता की गेंदबाज़ी जमती है। उन्होंने अपनी इस सर्वाधिक प्रिय टीम के ख़िलाफ़ छह पारियों में 56.8 की शानदार औसत और 171 की जानदार स्ट्राइक रेट से 341 रन बनाए हैं। इन छह पारियों में उनके नाम चार अर्धशतक है।
दिल्ली के ख़िलाफ़ रसल बन जाते हैं 'महामानव'
धाकड़ हरफ़नमौला खिलाड़ी रसल दिल्ली के ख़िलाफ़ और भी धाकड़ बन जाते हैं। अगर आप को यह सही नहीं लगता तो उनका दिल्ली के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी दोनों का रिकॉर्ड ही देख लीजिए। आईपीएल 2018 से उन्होंने दिल्ली के ख़िलाफ़ छह पारियों में 50 की औसत और लगभग 200 की स्ट्राइक रेट से 250 रन बनाए हैं, जो कि रसल का किसी भी आईपीएल टीम के ख़िलाफ़ सर्वाधिक है। उन्होंने दिल्ली के ख़िलाफ़ पिछली छह पारियों में पांच बार 40+ का स्कोर बनाया है। इसके अलावा उन्होंने दिल्ली के ख़िलाफ़ ही 18 की बेहतरीन औसत से नौ पारियों में 13 विकेट लिए हैं, जो कि किसी भी अन्य टीमों की तुलना में उनके लिए सर्वाधिक है।
उमेश के पास एक सार्वकालिक रिकॉर्ड अपने नाम करने का मौक़ा
इस बीच पर्पल कैपधारी उमेश यादव के नाम एक बेहतरीन रिकॉर्ड को अपने नाम करने का मौक़ा है। वह तीन और विकेट लेकर पावरप्ले में सर्वाधिक विकेट लेने का नाम रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं। उनके नाम पावरप्ले में 51 आईपीएल विकेट दर्ज हैं, जबकि संदीप शर्मा के नाम 53 पावरप्ले विकेट हैं। ख़ास बात यह है कि उमेश ने इस सीज़न खेले अपने चारों मैचों में पावरप्ले के दौरान विकेट लिया है। इसलिए प्रबल संभावना है कि वह इस रिकॉर्ड को आने वाले मैच में तोड़ दें।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।dayasagar95