मैच (19)
IPL (2)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
WT20 WC QLF (Warm-up) (5)
CAN T20 (2)
ख़बरें

15 करोड़ 25 लाख रुपयों की मोटी रक़म देकर मुबई इंडियंस ने इशान किशन को ख़रीदा

दीपक चाहर को भी मिला 14 करोड़

कयास लगाए जा रहे थे कि श्रेयस अय्यर को एक बड़ी रक़म देकर कोई टीम ख़रीदेगी और यह कयास बिल्कुल सही साबित हुआ। काफ़ी देर तक कई टीमों ने श्रेयस को ख़रीदने के लिए बोली लगाई लेकिन अंत में कोलाकाता नाइट राइडर्स की टीम ने उन्हें 12.25 करोड़ की रक़म देकर खरीद लिया लेकिन आज दिन के सबसे मोटी रकम अब तक इशान किशन के नाम रही है। उनके लिए मुंबई इंडियस ने लगातार बोली लगा कर अपने टीम में शामिल किया। किशन के लिए हैदराबाद सहित कई अन्य टीमों ने उनके लिए बोली लगाई। विकेट कीपर खिलाड़ियों में एक और मोटी रक़म पाने वाले खिलाड़ी निकोलस पूरन बने। उन्हें आज सनराइज़र्स की टीम ने 10.75 करोड़ रूपए की बोली लगाई।
पहले दिन के निलामी के अंतिम चरण में अनकैप्ड खिलाड़ियों का बोल बोला रहा। जिसमें शाहरूख़ ख़ान, राहुल तेवतिया और आवेश जैसे खिलाड़ियों पर कई टीमों ने निवेश किया। राहुल त्रिपाठी, जो पिछले सीज़न तक नाइट राइडर्स के खिलाड़ी थे, ने सभी टीमों का काफ़ी ध्यान आकर्षित किया और आईपीएल में अब तक के छठे सबसे अधिक अनकैप्ड कमाई करने वाले खिलाड़ी बन गए, जब सनराइजर्स ने उन्हें ख़रीदा था, तब उनकी कीमत 8.5 करोड़ रुपये थी। उनके अलावा के गौतम को 2021 में सुपर किंग्स को 9.25 करोड़ रुपये में ख़रीदा था। वहीं क्रुणाल पंड्या को 2018 में मुंबई ने 8.8 करोड़ रुपये में और पवन नेगी को 2016 में डेयरडेविल्स ने 8.5 करोड़ रूपए में ख़रीदा था। शाहरुख ख़ान ने जल्द ही त्रिपाठी को पांचवें स्थान पर धकेल दिया, हालांकि, अधिकांश भाग के लिए सुपर किंग्स और किंग्स के बीच बोली लगाई गई लेकिन अंत में किंग्स ने उन्हें 9 करोड़ देकर अपनी टीम में वापस बुला लिया।
हालांकि भारतीय युवा तेज़ गेंदबाज़ आवेश ख़ान को लखनऊ की टीम ने 10 करोड़ रूपए मे ख़रीदा। वह आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे अनकैप्ड खिलाड़ी बन गए हैं।
वही भारतीय तेज़ गेंदबाज़ के लिए भी इस निलामी में जम कर बोली लगाई गई। चैन्नई सुपर किंग्स ने भले ही बोली की शुरुआत नहीं की लेकिन उन्होंने 14 करोड़ की अंतिम बोली ज़रूर लगाई। सुपर किंग्स ने आईपीएल निलामी के इतिहास मे इतना पैसा कभी किसी और टीम को नहीं दिया है। उनकी टीम के तेज़ गेंदबाज़ों की सूची में कई गेंदबाज़ों की ज़रूरत है।
पिछले आईपीएल के सितारों में से एक हर्षल पटेल वापस उसी टीम में वापस चले गए, जिसका वह हिस्सा थे, रॉयल चैलेंजर्सने उन्हें 10.75 करोड़ रूपए देकर खरीदा। उनके लिए सुपर किंग्स और सनराइज़र्स ने भी काफ़ी देर तक बोली लगाई।
पंजाब किंग्स के पर्स में सबसे ज़्यादा पैसे थे। इसका फ़ायदा उठाते हुए उनकी टीम ने मार्की खिलाड़ियों की निलामी में जम कर बोली लगाई। पहले उन्होंने शिखर धवन को 8 करोड़ देकर ख़रीदा और उसके बाद कगिसो रबाडा को उन्होंने 9.25 करोड़ की राशि देकर ख़रीदा। धवन के लिए बोली लगाने की दौड़ में दिल्ली कैपिटल्स की भी टीम थी, साथ ही उन्होंने आर अश्विन और रबाडा के लिए भी बोली लगाई लेकिन उन्हें ख़रीदने में सफल नहीं हुए।
शुरुआती अपडेट में, कोलकाता नाइट राइडर्स ने पैट कमिंस के लिए लगातार बोली लगाई और उन्हें 7.25 करोड़ रूपए में अपने टीम में शामिल करने में सफल रही जबकि अश्विन को राजस्थान रॉयल्स को 5 करोड़ में ख़रीदा। वहीं न्यूज़ीलैंड के बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट को राजस्थान की टीम ने 8 करोड़ की राशि देकर ख़रीदा।
सभी टीम कहीं ना कहीं अपने खिलाड़ियों को वापस ख़रीदना चाहती थी। दिल्ली कैपिटल्स के अलावा कई टीमें ऐसी थी जो अपने खिलाड़ियों के वापस अपने टीम में लाने में सफल नहीं हुई। मुंबई ने बोल्ट के लिए बोली लगाई लेकिन वह सफल नहीं हुए। वहीं चैन्नई सुपर किंग्स ने भी फ़ाफ़ डुप्लेसी के लिए बोली लगाई लेकिन वह भी सफल नहीं हुए। उन्हें रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु की टीम ने 7 करोड़ की राशि देकर ख़रीदी। क्या डुप्लेसी बैंगलुरु की टीम के नए कप्तान हो सकते हैं? ये देखने और सोचने वाली बात होगी।
पंजाब किंग्स की टीम ने मोहम्मद शमी के लिए बोली नहीं लगाई। शमी को गुजरात टाइटंस टीम ने 6.25 करोड़ में अपनी टीम में शामिल किया। मुंबई ने क्विंटन डी कॉक के लिए देर से बोली लगाई लेकिन डिकॉक लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए नीलामी की पहली खरीद थे। उन्हें 6.75 करोड़ करोड़ में ख़रीदा गया। कैपिटल्स ने अंततः अपना खाता खोला, मार्की खिलाड़ियों के दौर के अंत में, सनराइज़र्स हैदराबाद के पूर्व कप्तान डेविड वार्नर को खरीदा। उन्हें 6.25 की राशि दी गई।
पंजाब किंग्स के दृष्टिकोण से, वे अब अपने सलामी जोड़ी के लिए लगभग सेट हो चुके हैं। जहां धवन और मयंक की जोड़ी उनके लिए पारी की शुरुआत करेगी। इसी तरह डिकॉक सुपर जायंट्स के पास जा रहे हैं, जिनके पास पहले से केएल राहुल हैं, ऐसे में उनकी भी ओपनिंग जोड़ी लगभग तय है। वार्नर दिल्ली की टीम में गए हैं और वह पृथ्वी शॉ के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। एक महत्वपूर्ण बात यह रही कि सनराइज़र्स ने वॉर्नर के लिए कोई बोली नहीं लगाई। वॉर्नर 2016 में हैदराबाद की टीम के कप्तान थे, जब उनकी टीम ने आईपीएल जीता था।
देवदत्त पडिक्कल 7.75 करोड़ के राशि के साथ रॉयल्स की टीम में जा रहे हैं।
स्टीव स्मिथ, और सुरेश रैना, और डेविड मिलर के लिए फिलहाल कोई ख़रीददार नहीं मिला है। उनके लिए एक और बार बोली लगाई जाएगी।
वहीं हरफ़नमौला खिलाड़ी वॉशिंगटन सुंदर के लिए बी कई टीमों के द्वारा बोली लगाया जिसमें टाइटंस, सुपर जायंट्स जैसी टीमें शामिल थी। उन्हें हैदराबाद की टीम ने 8.75 करोड़ देकर अपनी टीम में शामिल किया। इसके बाद क्रुणाल पंड्या अपने भाई के साथ टाइटंस की टीम में खेलते हुए नहीं दिखेंगे। उन्हें सुपर जायंट्स की टीम ने 8.25 करोड़ की राशि देकर ख़रीदा।
अंबाती रायडू बेस प्राइस 2 करोड़ था। उनके लिए पहले चेन्नई और दिल्ली ने बोली शुरू की। हालांकि उनके लिए अंतिम बोली चैन्नई सुपर किंग्स ने लगाई। इसके लिए सुपर किंग्स की टीम को 6.25 करोड़ की बोली लगाई।
अनकैप्ड बल्लेबाज़ोंं की सूची में कर्नाटक के 27 वर्षीय बल्लेबाज़ अभिनव मनोहर के लिए निलामी में कई टीमों ने बोली लगाई। नाइट राइडर्स और कैपिटल्स की टीम के बीच काफ़ी देर तक खींच-तान चली। हालांकि टाइटंस ने उन्हें 2.6 करोड़ रूपए में ख़रीदा।
जैसा कि अपेक्षित था, दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज़ सह लेगस्पिनर डेवाल्ड ब्रेविस को मुंबई इंडियंस ने 3 करोड़ की बोली लगा कर अपने टीम में शामिल किया।
इस बीच राहुल त्रिपाठी, जो पिछले सीज़न तक नाइट राइडर्स के खिलाड़ी थे, ने सभी टीमों का काफ़ी ध्यान आकर्षित किया और आईपीएल में अब तक के छठे सबसे अधिक अनकैप्ड कमाई करने वाले खिलाड़ी बन गए, जब सनराइजर्स ने उन्हें ख़रीदा था, तब उनकी कीमत 8.5 करोड़ रुपये थी। उनके अलावा के गौतम को 2021 में सुपर किंग्स को 9.25 करोड़ रुपये में ख़रीदा था। वहीं क्रुणाल पंड्या को 2018 में मुंबई ने 8.8 करोड़ रुपये में और पवन नेगी को 2016 में डेयरडेविल्स ने 8.5 करोड़ रूपए में ख़रीदा था। शाहरुख ख़ान ने जल्द ही त्रिपाठी को पांचवें स्थान पर धकेल दिया, हालांकि, अधिकांश भाग के लिए सुपर किंग्स और किंग्स के बीच बोली लगाई गई लेकिन अंत में किंग्स ने उन्हें 9 करोड़ देकर अपनी टीम में वापस बुला लिया।
वहीं राहुल तेवतिया के लिए भी टीमों ने काफ़ी देर बोली लगाई। हालांकि अंत में उन्हें टाइटंस की टीम ने 9 करोड़ रूपया में ख़रीद लिया।
ख़बर आगे भी जारी रहेगी...