फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : राशिद के पास है बटलर का तोड़

अगर राजस्थान रॉयल्स को 2008 के बाद अपना पहला ख़िताब जीतना है तो उसे इतिहास बदलना होगा

Prasidh Krishna picked up two wickets, including the key scalp of Virat Kohli, Rajasthan Royals vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2022, Pune, April 26, 2022

इस सीज़न में जब भी प्रसिद्ध कृष्णा ने दो विकेट अपने नाम किए हैं, राजस्थान को जीत मिली है  •  BCCI

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरे जो घुटनों के बल चले। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 का काफ़िला मुंबई, पुणे और कोलकाता होता हुआ अब गुजरात की नगरी अहमदाबाद में अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच चुका है। 70 लीग मैच और तीन प्लेऑफ़ मैच के बाद हमें इस सीज़न की दोनों फ़ाइनलिस्ट टीमें मिल चुकी हैं। एक तरफ़ है गुजरात टाइटंस जो अपने पहले सीज़न में ही फ़ाइनल में पहुंची है और उसके पास अपने घर पर खेलने का अवसर होगा। वहीं दूसरी तरफ़ है राजस्थान रॉयल्स जिसे 2008 के बाद अपने पहले ख़िताब की तलाश है। इस सीज़न के अंतिम घमासान मुक़ाबले से पहले आइए कुछ रोमांचक आंकड़ों पर नज़र डालते हैं।
राजस्थान को बदलना होगा इतिहास
आईपीएल 2018 से फ़ाइनल में भिड़ने वाली टीमों के बीच एक विचित्र सिलसिला चला आ रहा है। पिछले चार सीज़नों से विजेता टीम ने पूरे सीज़न में उपविजेता टीम का सूपड़ा साफ़ किया है। इस सीज़न में गुजरात टाइटंस ने दो बार राजस्थान रॉयल्स को धूल चटाई है और अगर इतिहास पर गौर करें तो उनका पलड़ा भारी नज़र आ रहा है।
प्रसिद्ध के प्रदर्शन पर होगी निगाहें
इस सीज़न में प्रसिद्ध कृष्णा और राजस्थान रॉयल्स के प्रदर्शन के बीच समानता देखने को मिली है। वह इसलिए कि जब भी प्रसिद्ध मैच में दो या उससे अधिक विकेट झटकते हैं, राजस्थान को हमेशा जीत मिली है। इतना ही नहीं, पांच मैचों में वह खाली हाथ पवेलियन लौटे हैं और उनमें से चार मैचों में राजस्थान को खाली हाथों वापस जाना पड़ा है। मतलब साफ़ है कि अगर प्रसिद्ध दूसरे क्वालीफ़ायर की तरह फ़ाइनल में धूम मचाते हैं तो गुजरात को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
सिर पर कफ़न बांधकर खेलते हैं गिल
आईपीएल 2022 में शुभमन गिल करो या मरो वाले अंदाज़ के साथ बल्लेबाज़ी कर रहे हैं। जब उनका बल्ला चला है, उन्होंने चार अर्धशतक लगाए हैं। हालांकि जब वह फ़्लॉप होते हैं तो वह 10 रन का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाते। इस सीज़न में वह छह बार 10 से कम के स्कोर पर आउट हुए हैं। इसके बावजूद वह इस सीज़न के सबसे सफल ओपनरों में से एक हैं। इस सीज़न में तेज़ गेंदबाज़ी के ख़िलाफ़ नौ बार आउट हो चुके गिल स्पिन के विरुद्ध 154 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए गुजरात चाहेगी कि वह पावरप्ले में संभलकर खेलने के बाद मध्य ओवरों में अपने हाथ खोलें। रविचंद्रन अश्विन की गेंदबाज़ी गिल को रास आती है और वह उनके ख़िलाफ़ 166 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। इसके अलावा राजस्थान को बचकर रहना होगा क्योंकि राजस्थान के विरुद्ध अपनी पिछली छह पारियों में चार बार गिल ने 30 से अधिक रन बनाए हैं और उनकी टीम चारों मौक़ों पर विजयी रही है।
यशस्वी साबित हो रहे हैं जायसवाल
पहले तीन मैचों में केवल 25 रन बनाने के बाद ड्रॉप किए गए यशस्वी जायसवाल ने दमदार वापसी की है। पावरप्ले में 147 के स्ट्राइक रेट से खेलते हुए उन्होंने टीम को तेज़ शुरुआत दिलाई है जिससे जॉस बटलर को पूरा समय मिल रहा है। पावरप्ले के दौरान औसतन हर 3.7 गेंदों पर एक बाउंड्री लगाकर वह टीम का काम आसान कर रहे हैं।
राशिद के पास है बटलर का तोड़
बटलर 824 रन बनाकर इस समय ऑरेंज कैप के हक़दार हैं। इस सीज़न में सर्वाधिक चार शतक जड़कर उन्होंने साफ़ कर दिया है कि वह अकेले अपने दम पर टीम को जीत दिला सकते हैं। सीज़न के बीच में लड़खड़ाने के बाद उनका बल्ला फिर से बोलने लगा है। गुजरात टाइटंस के विरुद्ध इस सीज़न के दोनों मैचों में वह अर्धशतक लगा चुके हैं लेकिन हर बार की तरह इस बार भी उन्हें राशिद ख़ान से बचकर रहना होगा। राशिद बटलर को आईपीएल में तीन और कुल मिलाकर टी20 मैचों में चार बार अपना शिकार बना चुके हैं। राशिद के ख़िलाफ़ बटलर की औसत 10 से नीचे गिर जाती है और उनका स्ट्राइक रेट 70 से भी कम का है। इन दोनों की जंग पर आईपीएल 2022 की ट्रॉफ़ी टिकी हुई है।

अफ़्ज़ल जिवानी (@ jiwani_afzal) ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।