मैच (15)
ENG v PAK (1)
ENG v PAK (W) (1)
T20WC Warm-up (6)
Vitality Blast (5)
CE Cup (2)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : जाडेजा कर सकते हैं कोहली को परेशान

चेन्नई के विदेशी गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ डुप्लेसी करते हैं संघर्ष

Virat Kohli and Ravindra Jadeja share a lighthearted moment as they enter the ground for an important game, Chennai Super Kings vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2022, Pune, 4 May 2022

कोहली हैं जाडेजा के फ़ेवरिट बनी  •  BCCI

आईपीएल 2023 में मंगलवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का सामना पड़ोसी चेन्नई सुपर किंग्स से होगा। दोनों पड़ोसियों की अब तक की लड़ाई में पलड़ा चेन्नई का भारी रहा है और उन्होंने 30 में से 19 मुक़ाबले जीते हैं। दूसरी तरफ़ बेंगलुरु के लिए यह आंकड़ा महज़ 10 जीत का है। हालांकि बेंगलुरु के मैदान पर यह मुक़ाबला होगा, जहां पर मामला बराबरी का है और दोनों ने चार-चार मुक़ाबलों को अपने नाम किया है। इस आईपीएल में भी दोनों टीमें चार मैच में दो जीत और दो हार के साथ अंक तालिका के बीच में हैं। आइए डालते हैं इस मैच के कुछ प्रमुख आंकड़ों और मैच-अप्स पर नज़र।
बेंगलुरु के बल्लेबाज़ों को रहना होगा जाडेजा से सावधान
रवींद्र जाडेजा ने अपने अंतर्राष्ट्रीय फ़ॉर्म को आईपीएल में भी बरक़रार रखा है। उन्होंने इस सीज़न के चार मैचों में 14 की बेहतरीन औसत और सिर्फ़ 6.38 की क़िफ़ायती इकॉनमी रेट से छह विकेट लिए हैं। बेंगलुरु के ख़िलाफ़ उनकी विकेटों की संख्या और ऊपर पहुंच सकती है। इसका कारण बेंगलुरु के बल्लेबाज़ों के ख़िलाफ़ उनका टी20 मैचों में उम्दा प्रदर्शन है। उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल को सात, दिनेश कार्तिक को तीन और विराट कोहली को तीन बार टी20 मैचों में आउट किया है। इस दौरान कोहली का स्ट्राइक रेट उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 107 का रहा है, जबकि मैक्सवेल उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 10.3 की औसत से रन बना पाते हैं।
हर्षल के प्रमुख शिकार हैं रायुडू
अंबाती रायुडू चेन्नई के मध्यक्रम की एक अहम कड़ी हैं। जब वह एकादश में नहीं होते हैं, तो कप्तान महेंद्र सिंह धोनी उन्हें इंपैक्ट प्लेयर के रूप में टीम में लाते हैं। हालांकि वह अभी तक इस सीज़न में अपनी छाप नहीं छोड़ पाए हैं। बेंगलुरु के ख़िलाफ़ भी उनके लिए कठिनाई होने वाली है, क्योंकि हर्षल पटेल उन्हें ख़ासा परेशान करते हैं। हर्षल, रायुडू को आठ में से पांच पारियों में आउट कर चुके हैं, जबकि रायुडू इस दौरान सिर्फ़ 10.8 की औसत और 123 के स्ट्राइक रेट से रन बना पाते हैं। अब देखना होगा कि डेथ ओवरों में कौन किसका करता है डेथ और कौन मारता है बाज़ी।
कॉन्वे का स्ट्राइक रेट कर सकता है चेन्नई को परेशान
पिछले साल अपने आईपीएल सीज़न डेब्यू में सबको प्रभावित करने वाले डेवन कॉन्वे के लिए यह सीज़न मिला जुला रहा है। उन्होंने इस सीज़न की चार पारियों में 24.50 की औसत से 98 रन बनाए हैं, जिसमें एक अर्धशतक और एक 47 का स्कोर रहा है। इसका मतलब है कि अन्य दो पारियों में उनका स्कोर 1 और 0 है। इस दौरान कॉन्वे का स्ट्राइक रेट भी 127 का रहा है, जो कि आईपीएल की तेज़ी से मेल नहीं खाता है। इस मैच में भी कॉन्वे इसी समस्या से जूझ सकते हैं। कारण बेंगलुरु के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट है। कॉन्वे, वेन पॉर्नेल के ख़िलाफ़ सिर्फ़ 67 के स्ट्राइक रेट से रन बना पाते हैं, वहीं मोहम्मद सिराज के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट 100 का है। मैक्सवेल भी अगर गेंदबाज़ी करते हैं, तो कॉन्वे को समस्या हो सकती है क्योंकि वह भी कॉन्वे को खुलकर बल्लेबाज़ी करने नहीं देते हैं और सिर्फ़ 122 के स्ट्राइक रेट से रन देते हैं।
फ़ाफ़ के लिए शाप बन सकते हैं चेन्नई के विदेशी गेंदबाज़
फ़ाफ़ डुप्लेसी के लिए अब तक का यह आईपीएल बहुत अच्छा रहा है और उन्होंने चार पारियों में 66 की औसत और 168 के स्ट्राइक रेट से 197 रन बनाए हैं। हालांकि उनकी पुरानी टीम चेन्नई के विदेशी गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ उनका टी20 प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा है। मोईन अली के ख़िलाफ़ डुप्लेसी का स्ट्राइक रेट सिर्फ़ 100 का है, वहीं मोईन ने उन्हें दो बार आउट किया है। अगर डुप्लेसी के हमवतन ड्वेन प्रिटोरियस इस मैच में खेलते हैं तो वह भी अपने पूर्व कप्तान को परेशान कर सकते हैं। प्रिटोरियस ने भी डुप्लेसी को दो बार आउट किया है, जबकि डुप्लेसी उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 120 के स्ट्राइक रेट और 12 की औसत से रन बना पाते हैं।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं. @dayasagar95