मैच (13)
T20 वर्ल्ड कप (4)
SL vs WI [W] (1)
T20 Blast (8)
ख़बरें

मिचेल स्टार्क: मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे बड़े मैचों और बड़े मौक़ों पर विकेट मिले हैं

ट्रैविस हेड के विकेट को अपने लिए यादग़ार मानते हैं स्टार्क

IPL इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी मिचेल स्टार्क के लिए IPL 2024 कुछ ख़ास नहीं रहा था, लेकिन पहले क्वालिफ़ायर में अपना पूरा अनुभव झोंकते हुए उन्होंने सनराइज़र्स हैदराबाद (SRH) के शीर्षक्रम को झकझोर डाला। स्टार्क ने पावरप्ले में तीन ओवर किए और ट्रैविस हेड, नीतिश कुमार रेड्डी और शहबाज़ अहमद को पवेलियन भेजा।
उन्होंने पारी की दूसरी ही गेंद पर एक अंदर आती गेंद से अपने ऑस्ट्रेलियाई साथी हेड को बोल्ड किया। अगले ओवर में वैभव अरोड़ा ने फ़ॉर्म में चल रहे दूसरे सलामी बल्लेबाज़ अभिषेक शर्मा को पवेलियन भेजा। तीसरे ओवर की लगातार गेंदों पर रेड्डी और शहबाज़ भी स्टार्क का शिकार थे।
पहली पारी के बाद ब्रॉडकास्टर से बात करते हुए स्टार्क ने कहा, "मुझे लगता है कि मैंने अब तक ठीक-ठाक क्रिकेट खेला है और मैं भाग्यशाली हूं कि मैंने बड़े मैचों और बड़े मौक़ों पर प्रदर्शन किया है। नौ महीने पहले भी हम एक बड़े मैच (विश्व कप फ़ाइनल) के लिए इसी स्टेडियम में थे। मैं ख़ुश हूं कि मैं टीम को ज़रूरी और सही शुरुआत दिला सका। हमें पता था कि पावरप्ले में विकेट हासिल करना बहुत ज़रूरी है क्योंकि वे लोग पावरप्ले में ही बड़े रन के लिए जाते हैं। हमारा पूरा गेंदबाज़ी क्रम इस पारी के दौरान शानदार रहा।"
यह पहली बार नहीं है जब स्टार्क ने बड़े मौक़े पर अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है। इस मैच से पहले उनके नाम 12 मैचों में 11.37 की महंगी इकॉनमी के साथ सिर्फ़ 12 विकेट थे। लेकिन SRH के ख़िलाफ़ उन्होंने अपना सबकुछ झोंक दिया और चार ओवर में 34 रन देकर तीन विकेट लिए।
2023 वनडे विश्व कप के दौरान भी पहले 10 मैचों में स्टार्क के नाम सिर्फ़ आठ विकेट थे और उनकी इकॉनमी भी 6.55 थी, लेकिन नॉकआउट मैचों में उन्होंने सिर्फ़ 4.45 की इकॉनमी से रन देते हुए छह विकेट हासिल कर लिए। स्टार्क के लिए इस मैच में हेड का विकेट सबसे शानदार था, जो लगातार शानदार फ़ॉर्म में चल रहे हैं।
स्टार्क ने कहा, "हेड इस पूरे टूर्नामेंट के दौरान शानदार रहे हैं और हमें पता था कि यह एक बड़ा विकेट होगा। अभिषेक के साथ उनकी साझेदारी उनकी सफलता का मूल मंत्र है। इसलिए दोनों बल्लेबाज़ों को सस्ते में पवेलियन भेजना सुखद था और इसके बाद चीज़ें हमारे लिए आसान हो गईं।"
प्लेयर ऑफ़ द मैच बनने के बाद स्टार्क ने कहा, "अभिषेक और हेड के फ़ॉर्म को देखते हुए मैंने अपने लेंथ को थोड़ा पीछे खींचा था। वे अपने बाजुओं को खोलने के लिए थोड़ा रूम चाहते हैं, इसलिए मैंने हार्ड लेंथ गेंदों पर गेंद को अंदर लाने की कोशिश की। विकेट में भी कुछ स्विंग था और उससे भी हमें मदद मिली।"