मैच (16)
IPL (3)
PAK v WI [W] (1)
Pakistan vs New Zealand (2)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
फ़ीचर्स

पंजाब किंग्स : विदेशी ऑलराउंडर की रेस में एक और ख़रीददार

दूसरी सबसे बड़ी पर्स के साथ पंजाब अपने पसंदीदा खिलाड़ियों पर मोटा पैसा ख़र्च कर सकती है

पंंजाब किंग्स एक विदेशी ऑलराउंडर पर मोटा पैरा ख़र्च करने को देखेगी  •  BCCI

पंंजाब किंग्स एक विदेशी ऑलराउंडर पर मोटा पैरा ख़र्च करने को देखेगी  •  BCCI

उनके पास क्या है?
पंजाब किंग्स ने 2023 की नीलामी से पहले पूर्व कप्तान मयंक अग्रवाल और ओडीन स्मिथ समेत कुल नौ खिलाड़ियों को रिलीज़ किया। उम्मीद है कि नए कप्तान शिखर धवन और जॉनी बेयरस्टो ओपन करेंगे और भानुका राजापक्षा, लियम लिविंगस्टन और शाहरुख़ ख़ान मध्य क्रम में होंगे। गेंदबाज़ी की कमान कगिसो रबाडा और अर्शदीप सिंह संभालेंगे।
वर्तमान दल : शिखर धवन (कप्तान), शाहरुख़ ख़ान, जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), प्रभसिमरन सिंह (विकेटकीपर), भानुका राजापक्षा, जितेश शर्मा (विकेटकीपर), राज बावा, ऋषि धवन, लियम लिविंगस्टन, अथर्व तायड़े, अर्शदीप सिंह, बलतेज सिंह, नेथन एलिस, कगिसो रबाडा, राहुल चाहर, हरप्रीत बराड़
नीलामी में क्या लेकर उतरेंगे
32.2 करोड़ रुपयों के साथ पंजाब नीलामी में दूसरी सबसे बड़ी पर्स के साथ उतरेगी और इस वजह से वह अपने पसंदीदा खिलाड़ियों पर मोटा पैसा ख़र्च कर सकती है। उनके पास फ़िलहाल पांच विदेशी खिलाड़ियों समेत कुल 16 खिलाड़ी हैं और वह तीन और विदेशी खिलाड़ियों को अपने दल में जोड़ सकती है।
उन्हें क्या चाहिए?
  • सबसे पहले तो पंजाब को मयंक और ओडीन के रिप्लेसमेंट खिलाड़ी चाहिए। सलामी जोड़ी के सेट होने के चलते वह ऐसे खिलाड़ी (संभवतः भारतीय) के लिए जा सकते हैं जो नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी कर सके।
  • पंजाब एक विदेशी ऑलराउंडर को करोड़पति बना सकती है जो मध्य क्रम की उनकी समस्या को सुलझाए।
  • राहुल चाहर टीम के प्रमुख स्पिनर हैं और टीम को उनके बैक-अप की तलाश होगी। इसके अलावा पंजाब अपने घरेलू मैच मोहाली और धर्मशाला में खेलती आई है और उन परिस्थितियों में एक भारतीय तेज़ गेंदबाज़ उपयोगी साबित होगा।
  • संभावित टारगेट
  • पंजाब दोबारा मयंक को अपनी टीम में जोड़ने को देख सकती है लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो मनीष पांडे नंबर तीन के अच्छे विकल्प होंगे। मनीष ने 2022 की सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी में कर्नाटका की ओर से सर्वाधिक रन बनाए थे। साथ ही 2014 में वह वर्तमान कोच ट्रेवर बेलिस के मार्गदर्शन में आईपीएल खेल चुके हैं।
  • विदेशी ऑलराउंडर के स्थान के लिए पंजाब सैम करन (जो पहले उनके लिए खेल चुके हैं) या बेन स्टोक्स की ओर देख सकती है। स्टोक्स उनके लिए वही भूमिका निभा सकते हैं जो वह इंग्लैंड के मध्य क्रम में करते हैं। शीर्ष क्रम में खेलने वाले कैमरन ग्रीन भी एक विकल्प हो सकते हैं।
  • इसके अलावा शाकिब अल हसन एक अच्छे विकल्प हो सकते हैं क्योंकि वह पावरप्ले में गेंदबाज़ी कर सकते हैं और दूसरे स्पिनर की भूमिका भी निभाएंगे। श्रेयस गोपाल और मुरुगन अश्विन स्पिन गेंदबाज़ी बैक-अप हो सकते हैं। इसके अलावा पंजाब ऐडम ज़ैम्पा का भी रुख़ कर सकती है।
  • जहां तक भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों का सवाल है, उत्तर प्रदेश के शिवम मावी पर उनकी नज़र होगी। इसके अलावा कर्नाटका के विधवत कवेरप्पा और विजयकुमार वैशाख पर भी उनकी निगाहें जमी होंगी। इन दोनों खिलाड़ियों ने सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी में 13 से कम की औसत और 6.5 से कम की इकॉनमी से गेंदबाज़ी की थी।
  • आशीष पंत ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।