मैच (17)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
T20I Tri-Series (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ख़बरें

शीर्ष तीन टीमों के ख़िलाफ़ खेलने से हमें विश्व कप में लाभ मिलेगा : मिताली

'विश्व कप से ठीक पहले मेज़बान न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ खेलना भी हमारे हक़ में'

Mithali Raj struck the winning runs, England vs India, 3rd women's ODI, Worcester, July 3, 2021

'2017 में हमसे कोई उम्मीद नहीं थी, लेकिन अब सबकी उम्मीदें हम पर हैं'  •  Getty Images

भारतीय महिला क्रिकेट टीम को अगले साल होने वाले विश्व कप से पहले सिर्फ़ एक वनडे सीरीज़ खेलनी है, लेकिन कप्तान मिताली राज का मानना है कि उनकी टीम को विश्व कप के लिए अच्छी तैयारी मिली है।
2021 में भारत ने साउथ अफ़्रीका की मेज़बानी की थी। इसके बाद भारत तीनों फ़ॉर्मेट की सीरीज़ खेलने इंग्लैंड और फिर साउथ अफ़्रीका गई। हालांकि इन तीनों सीरीज़ में उन्हें हार का सामना करना पड़ा, लेकिन उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को उनके घर पर कड़ी टक्कर दिया। मिताली की टीम ने इस दौरान ऑस्ट्रेलिया की 26 मैचों की लगातार जीत के विश्व रिकॉर्ड को भी रोका। अब भारत को मार्च-अप्रैल में होने वाले विश्व कप से पहले मेज़बान न्यूज़ीलैंड से ही पांच मैचों की वनडे सीरीज़ में भिड़ना है।
मिताली राज ने दिल्ली में एक कार्यक्रम के इतर संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, "हमने मार्च से विश्व के तीन शीर्ष टीमों के ख़िलाफ़ क्रिकेट खेला है और हमें अच्छी तैयारी मिली है। इसके अलावा लड़कियां लगातार घरेलू क्रिकेट खेल रही हैं, वहीं कई लड़कियां द हंड्रेड और महिला बिग बैग लीग का भी हिस्सा थी। हमें मैच प्रैक्टिस मिल रही है, जो कि अभी सबसे महत्वपूर्ण बात है। विश्व कप से पहले न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ खेलना भी हमारे लिए अच्छी बात है।"
ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ सीरीज़ में प्रदर्शन पर उन्होंने कहा, "जब आप मजबूत टीम के ख़िलाफ़ खेलते हैं, तब आप अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करते हैं। हम भले ही सीरीज़ हार गए, लेकिन सभी मैच काफ़ी क़रीबी और रोमांचक थे। हमने 270 के ऊपर का स्कोर बनाया और फिर इतने ही बड़े लक्ष्य का पीछा भी किया। अगर हम लगातार ऐसा करने में क़ामयाब रहते हैं, तो निश्चित रूप से हम विश्व क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ टीमों में होंगे।"
भारत के मध्य क्रम को सुधार की ज़रूरत है, लेकिन कप्तान का मानना है कि विश्व कप जीतने क लिए हर विभाग को अभी और बेहतर करना होगा। उन्होंन कहा, "हम एक इकाई की तरह बल्लेबाज़ी करते हैं, इसलिए आप किसी एक विभाग पर सवाल नहीं खड़े कर सकते। कई बार ऐसा हुआ है कि जब हमारा शीर्ष क्रम असफल हुआ है, तब मध्य क्रम ने ही टीम को संभाला है। एक टीम के रूप में हमारा लक्ष्य हमेशा एक बड़ा स्कोर खड़ा करना होता है।"
भारत, इंग्लैंड में हुई 2017 के विश्व कप में उपविजेता था, हालांकि तब टीम से किसी ने भी फ़ाइनल तक पहुंचने की उम्मीद नहीं की थी। मिताली ने कहा, "तब किसी को उम्मीद नहीं थी लेकिन अब 2021 में सभी को उम्मीद है। लगातार अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट और टी20 लीग में खेलने से हमारे खिलाड़ियों को अनुभव मिला है। हमारे पास भले ही युवा खिलाड़ी हैं, लेकिन उनके पास अच्छा अनुभव है। हमें बस एक टीम की तरह बेहतर तालमेल से खेलने की ज़रूरत है। विश्व कप में हर मैच अलग होगा और हमें तेज़ी से अपने विरोधी टीमों को पढ़ना होगा।"