मैच (14)
ENG v PAK (1)
आईपीएल (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
USA vs BAN (1)
WI vs SA (1)
ख़बरें

रिज़वान: बाबर और मैंने नई गेंद पर आक्रमण करने का फ़ैसला किया था

वहीं विलियमसन ने महसूस किया कि उनके गेंदबाज़ अधिक अनुशासित हो सकते थे

Babar Azam and Mohammad Rizwan got back into their groove, New Zealand vs Pakistan, T20 World Cup 2022, 1st Semi-Final Sydney, November 9, 2022

बाबर और रिज़वान ने पावरप्ले में कड़ा प्रहार करने का सोच-समझकर फ़ैसला लिया  •  AFP/Getty Images

सिडनी में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ सेमीफ़ाइनल में उतरने से पहले पाकिस्तान का पावरप्ले रिकॉर्ड इस विश्व कप में सबसे ख़राब में से एक था। पाकिस्तान ने इस दौर में 5.93 के रन रेट से रन बनाए थे। इस मामले में उनसे ख़राब रिकॉर्ड सिर्फ़ ज़िम्बाब्वे और नीदरलैंड्स का रहा था। पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज़ व्यक्तिगत रूप से और एक जोड़ी के तौर पर भी दबाव में थे। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के रॉबिन उथ्प्पा सहित कई विशेषज्ञों ने सुझाव दिया था कि उन दोनों में से किसी एक को नीचे भेजा जाए और मोहम्मद हारिस से पारी की शुरुआत कराई जाए।
हालांकि इस बड़े मुक़ाबले में बाबर आज़म और मोहम्मद रिज़वान ने तेज़ अर्धशतक और 76 गेंद में 105 रन की साझेदारी कर 153 के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान को काफ़ी आगे कर दिया। उन्होंने पहले छह ओवरों में 55 रन बटोरे। यह पाकिस्तान का इस टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ पावरप्ले स्कोर था।
रिज़वान ने शुरुआती हमला किया और पहले पांच ओवरों में पांच चौके लगाकर 13 गेंदों में 26 रन पर पहुंच गए। अपनी 43 गेंदों में 57 रन की बेहतरीन पारी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच का पुरस्कार प्राप्त करते हुए रिज़वान ने कहा कि पावरप्ले में कड़ा प्रहार करना पाकिस्तान की सोची-समझी रणनीति थी। उन्हें यह भान था कि सिडनी की इस्तेमाल की गई पिच पर पुरानी गेंद के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी कठिन हो जाएगी।
रिज़वान ने कहा, "जब हमने बाउंड्री लाइन पार की, मैंने और बाबर ने फ़ैसला किया कि हम नई गेंद पर आक्रमण कर सकते हैं, क्योंकि हम जानते थे कि पिच थोड़ी मुश्किल थी और 150 [153] इस पिच पर एक अच्छा टारगेट था। हमने तय किया कि हम कड़ा प्रहार करेंगे और विपक्षी टीम पर आक्रमण करेंगे और जब हम पावरप्ले फ़िनिश करेंगे, तो कोई एक लंबा खेलेगा। निश्चित रूप से पिच कठिन थी और अल्हम्दुलिल्लाह, अल्लाह ने हमारी मदद की और हम सफल हुए।"
रिज़वान की कई शुरुआती बाउंड्री में स्पष्ट आक्रामक रवैया था, विशेष रूप से जब वह टिम साउदी की गुड लेंथ गेंद पर शफ़ल करके आए और लेग साइड में घुमा दिया। हालांकि न्यूज़ीलैंड की ढीली गेंदबाज़ी से भी पाकिस्तान को शरुआत में कुछ मदद मिली। ट्रेंट बोल्ट का आज दिन सही नहीं था। उन्होंने बाबर को शुरू में लगभग आउट कर दिया था लेकिन विकेटीकीपर डेवन कॉन्वे ने डाइव लगाते हुए कैच टपका दिया। साथ ही बोल्ट ने कई मौक़ों पर बल्लेबाज़ों को हाथ खोलने की जगह दी।
न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने स्वीकार किया कि उनके गेंदबाज़ पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज़ों के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते थे।
जब मैदान पर न्यूज़ीलैंड की ख़राब फ़ील्डिंग को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा, "फ़ील्डिंग ठीक थी। देखिए बाबर और रिज़वान ने हम पर दबाव डाला और काफ़ी शानदार खेला। ईमानदारी से कहूं तो हम अपनी लाइन-लेंथ के साथ थोड़ा और अनुशासित होना चाहते हैं और अगर हम इसे सटीक रखने में सक्षम होते तो मैच को कठिन बना सकते थे।"
न्यूज़ीलैंड के कप्तान ने आगे कहा, "खेल के अलग-अलग हिस्से होते हैं जिन्हें आप थोड़ा बेहतर करना चाहते हैं, लेकिन दिन के अंत में पाकिस्तान निश्चित रूप से विजेता बनने का हक़दार था।"

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।