मैच (7)
IND v ENG (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
PSL 2024 (1)
WPL (1)
ख़बरें

रोड्स : एशिया कप में दो मैच हारना 'भगदड़' की कोई वजह नहीं

पूर्व साउथ अफ़्रीकी दिग्गज का मानना है कि रवि बिश्नोई आनेवाले समय के बड़े सितारों में से एक होंगे

भारत एशिया कप के सुपर 4 में अपने पहले दो मुक़ाबले गंवाकर फ़ाइनल के रेस से बाहर हो गया था  •  AFP/Getty Images

भारत एशिया कप के सुपर 4 में अपने पहले दो मुक़ाबले गंवाकर फ़ाइनल के रेस से बाहर हो गया था  •  AFP/Getty Images

पूर्व साउथ अफ़्रीकी टेस्ट क्रिकेटर जॉन्टी रोड्स के अनुसार भारतीय टीम का एशिया कप में निराशाजनक प्रदर्शन किसी "भगदड़" का कारण नहीं। रोड्स के मुताबिक़ भारत जैसी टीम में सबको बराबर का मौक़ा देना अपने आप में एक कड़ी चुनौती है।
कानपूर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में रोड सेफ़्टी वर्ल्ड सीरीज़ के पहले मुक़ाबले के बाद रोड्स ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, "मुझे ऐसा नहीं लगता कि कुछ मैच हार जाने से टीम में भगदड़ मचनी चाहिए। आपको पता होना चाहिए कि आपके लिए [एशिया कप में] क्या ज़रूरी था। हम हमेशा भारतीय क्रिकेट की ताक़त की बात करते हैं और इसका मुख्य कारण यही है कि कितने सारे टूर्नामेंट खेले जाते हैं जहां युवा प्रतिभाओं को खेलने के अवसर मिलता है। यह अच्छी बात है कि आपके पास एक बड़ा प्लेयर पूल उपलब्ध हो जाता है लेकिन इसमें कठिनाई यह होती है कि टी20 क्रिकेट ऐसी चीज़ है जहां एक स्पष्ट भूमिका काम आता है ताकि आप उसे अभ्यास से और बेहतर बना सकें।"
रोड्स ने माना कि 2021 के तुरंत बाद इस साल भी टी20 विश्व कप के आयोजन के चलते मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा के लिए टीम संयोजन को सटीक रखने के साथ खिलाड़ियों को पर्याप्त मौक़ा देना एक बड़ी चुनौती रही होगी। उन्होंने कहा, "विश्व कप के साल में आप चाहते हैं एक फ़ॉर्मुला निकालना और फिर उसी के हिसाब से एक टीम को खिलाना। भारत में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की कोई कमी नहीं लेकिन विश्व कप दल घोषणा करने के कट-ऑफ़ से पहले आप कैसे सबको पर्याप्त अवसर दे सकते हैं?
"हालांकि आपके [भारत के] पास एक फ़ायदा है कि आपके अनुभवी खिलाड़ी विश्व कप के लिए 'स्विच इन, स्विच आउट' (आसानी से टीम में वापसी) कर सकते हैं। मैं मानता हूं जब आप विश्व कप से पहले किसी टूर्नामेंट में फ़ेवरिट होने के बावजूद हारते हैं तो यह अच्छा हो सकता है क्योंकि यह आपको और प्रेरित करेगा।"
जब पंजाब किंग्स के फ़ील्डिंग कोच रोड्स को मौजूदा भारतीय टीम में किसी एक सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी का नाम लेने को कहा गया तो उन्होंने तीन नाम लिए। रोड्स ने कहा, "लेग स्पिन पहले से बदल गया है। आज का लेग स्पिनर ज़्यादा फ़्लैट और सीधी गेंदबाज़ी करता है और मुझे लगता है रवि बिश्नोई आनेवाले समय में बड़ा प्रभाव डालेंगे। मुझे दीपक हुड्डा भी पसंद हैं क्योंकि वह बल्लेबाज़ी क्रम में कहीं भी खेल सकते हैं। भारत में इतने अच्छे युवा बल्लेबाज़ हैं कि आपको आसानी से मौक़े नहीं मिलते लेकिन उन्होंने अपने मौक़े भुनाए हैं और यह अच्छी बात है। और मुझे अर्शदीप सिंह को गेंदबाज़ी करते देखने में बहुत मज़ा आता है। मैंने उनके साथ काफ़ी समय बिताया है और उन्होंने हमेशा ही प्रभावित किया है।"

देबायन सेन ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सहायक एडिटर और स्थानीय भाषा लीड हैं।