मैच (16)
IPL (3)
PAK v WI [W] (1)
Pakistan vs New Zealand (2)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
फ़ीचर्स

हारे हुए मैच में स्नेह और हरलीन ने बटोरे सबसे ज़्यादा अंक

त्रिकोणीय सीरीज़ के फ़ाइनल में कई भारतीय खिलाड़ियों का ख़राब प्रदर्शन

साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ हरलीन ने 46 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली  •  BCCI

साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ हरलीन ने 46 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली  •  BCCI

साउथ अफ़्रीका और भारत के बीच खेले गए फ़ाइनल में भारत ने भले ही पहली पारी में 109 रन बनाए थे लेकिन दूसरी पारी के पहले 10 ओवर में भारत हावी था, जहां मेज़बान टीम 10 ओवर में 46 रन पर तीन विकेट गंवा कर बैकफ़ुट पर था। हालांकि इसके बाद साउथ अफ़्रीका की टीम ने काउंटर अटैक किया, जिसे भारतीय टीम संभालने में कामयाब नहीं हो पाई।
आइए देखते हैं कि इस मैच में किस भारतीय खिलाड़ी ने कितने अंक प्राप्त किए।
क्या सही, क्या ग़लत
एक छोटे स्कोर की रक्षा करते हुए स्पिन गेंदबाज़ों ने कमाल की गेंदबाज़ी की और साउथ अफ़्रीकी बल्लेबाज़ों को लगातार काबू में रखा लेकिन पहले 10 ओवर के बाद भारतीय टीम कहीं न कहीं बैकफ़ुट पर नज़र आई और क्लोई ट्राइऑन के प्रहारों का उनके पास कोई जवाब नहीं था। हरमनप्रीत कौर अपने स्पिन गेंदबाज़ों को बेहतर तरीक़े से भी रोटेट करने में नाक़ाम रहीं।
(रेटिंग्स 1 से 10, सर्वाधिक 10)
स्मृति मांधना, 4: स्मृति एक बार फिर से भारतीय टीम को एक बढ़िया शुरुआत दिलाने में असफल रहीं। इस पूरे सीरीज़ में स्मृति सिर्फ़ एक ही मैच में (वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़) बढ़िया पारी खेलने में सफल रही हैं। टी20 विश्व कप से पहले भारत उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहा होगा।
जेमिमाह रोड्रिग्स, 5: एक सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर भारत ने एक बार फिर से जेमिमाह को मौक़ा दिया था। हालांकि वह इस मौक़े को भुनाने में क़ामयाब नहीं हो पाईं। उन्होंने 18 गेंदों में सिर्फ़ 11 रन बनाएं और नोनकुलुलेको म्लाबा के ख़िलाफ़ बड़ा शॉट लगाने के फ़िराक़ में स्टंप हो गईं।
हरलीन देओल, 9: एक मुश्किल पिच पर जहां भारत निरंतर अंतराल पर विकेट गंवा रहा था, वहीं हरलीन एक छोर पर जमी हुईं थी। उनकी 46 रनों की पारी के कारण ही भारत 100 से ज़्यादा का स्कोर बना पाया।
हरमनप्रीत कौर,7: हरमनप्रीत ने अपनी पारी की शुरुआत में थोड़ा संयम के साथ बल्लेबाज़ी कर रही थीं। उन्होंने हरलीन के साथ 48 रनों की साझेदारी भी निभाई लेकिन तेज़ी से रन बनाने के प्रयास में वह स्टंप आउट हो गईं।
दीप्ति शर्मा, 8: दीप्ति ने पहले एक मुश्किल पिच पर 14 गेदों में 16 रनों की पारी खेली और उसके बाद जब गेंदबाज़ी की बारी आई तो उन्होंने अपनी धारदार गेंदबाज़ी से साउथ अफ़्रीका को बैकफ़ुट पर धकेलने का काम किया। हालांकि अपने आख़िरी ओवर में उन्होंने 13 रन ख़र्च किए और वहां से मैच पूरी तरह से भारत के हाथ से निकल गया।
पूजा वस्त्रकर, 4: इस मैच में पूजा को बल्लेबाज़ी का तो ज़्यादा मौक़ा नहीं मिला लेकिन अपनी दो ओवर की गेंदबाज़ी में उन्होंने 18 रन लुटाए और साउथ अफ़्रीका की टीम पर जो दबाव बना था, उसे उन्होंने कम करने का काम किया।
स्नेह राणा, 9: स्नेह को तो बल्लेबाज़ी करने का मौक़ा नहीं मिला लेकन एक स्पिन लेती पिच पर हरमन ने उन्हें जब पावरप्ले में गेंदबाज़ी दी तो उन्होंने साउथ अफ़्रीका को शुरुआती झटके देने का काम किया। तीन बढ़िया ओवर फेंकने के बाद उन्होंने भी अपने आख़िरी ओवर में काफ़ी रन ख़र्च किए।
रेणुका सिंह, 7.5: नौवैं ओवर में रेणुका को पहला ओवर दिया गया। विकेट टू विकेट गेंदबाज़ी करते हुए उन्होंने पहले तो विपक्षी बल्लेबाज़ों को खुल कर रन बनाने का मौक़ा नहीं दिया और फिर सुने लूस और क्लोई ट्राइऑन की साझेदारी भी तोड़ी। हालांकि अपने तीसरे ओवर में उन्होंने 12 रन दिए, एक लो स्कोरिंग मैच में यह काफ़ी महंगा ओवर साबित हुआ।
राजेश्वरी गायकवाड़, 7: राजेश्वरी ने अपने चार ओवर के स्पेल में 25 रन देकर एक विकेट लिया। स्पिन गेंदबाज़ों की मदद कर रही इस पिच पर उन्होंने शुरुआत बढ़िया की थी लेकिन लाइन और लेंथ पर उनका कंट्रोल काफ़ी कम था, जिसके कारण साउथ अफ़्रीकी बल्लेबाज़ों को वह कुछ ख़ास परेशान नहीं कर पाईं।
जिन खिलाड़ियों को रेटिंग्स नहीं दिए गए हैं, उन्हें काफ़ी कम बल्लेबाज़ी या गेंदबाज़ी करने का मौक़ा मिला।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं