भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज़ श्रेयस अय्यर एक बार फिर से मैदान पर उतरने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) ने उन्हें फिट घोषित कर दिया है। इसका मतलब है कि वह सितंबर 2021 में शुरू होने वाले आईपीएल के दूसरे चरण में भाग ले सकेंगे। ज्ञात हो कि अय्यर की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स आईपीएल 2020 में फ़ाइनल तक पहुंचने में कामयाब रही थी। चोट के कारण आईपीएल 2021 से अय्यर के बाहर होने के बाद टीम की कमान ऋषभ पंत को सौंपी गई थी।

23 मार्च को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घर पर खेली जो रही वनडे सीरीज़ के दौरान 26 वर्षीय अय्यर के कंधे पर गहरी चोट लगी थी। इसके बाद उन्हें इंग्लैंड जाकर सर्जरी करानी पड़ी थी। अय्यर अब तक भारतीय टीम के लिए 23 वनडे और 29 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं।

अय्यर ने एनसीए में सप्ताह भर बिताया और गहन पुनर्वास कार्यक्रम (रिहैबिलिटेशन) पूरा किया। अपनी फ़िटनेस साबित करने के बाद, यह माना जा रहा है कि अय्यर को एनसीए की मेडिकल टीम ने क्रिकेट में वापसी के लिए फ़िट घोषित कर दिया है।

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने पीटीआई को बताया, "हां, एनसीए ने श्रेयस को एक फ़िट सर्टिफ़िकेट जारी किया है। वह एक हफ़्ते के लिए एनसीए में रहे और उनका अंतिम मूल्यांकन कुछ दिन पहले ही हुआ है। सभी चिकित्सा और शारीरिक मापदंडों के आधार पर, वह अब मैच खेलने के लिए तैयार हैं। दो महीनों में भारत अपना टी20 विश्व कप अभियान शुरू करने जा रहा है और यह ख़बर भारतीय टीम के लिए काफ़ी सुखद है।"

अय्यर ने बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के मैदान पर अपना रिहैबिलिटेशन किया था लेकिन बीसीसीआई के प्रोटोकॉल के अनुसार, उन्हें फ़िर से चयन के लिए एनसीए अधिकारियों की मंज़ूरी लेना अनिवार्य था।

अय्यर की क्रिकेट में वापसी के साथ अब यह देखना काफी मज़ेदार होगा कि दिल्ली कैपिटल्स की मैनेजमेंट अब कप्तानी की भार किसके कंधो पर डालेगी। जब कैपिटल्स पिछले साल अपने पहले फ़ाइनल में पहुंचे थे तब अय्यर ने टीम का अच्छी तरह से नेतृत्व किया था। पंत भी ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित कर चुके हैं।