मैच (6)
IPL (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
IRE-W vs THAI-W (1)
SA v SL (W) (1)
फ़ीचर्स

MI vs KKR मैच रिपोर्ट कार्ड : वेंकटेश के शतक पर भारी पड़ी मुंबई के बल्‍लेबाज़ों की टोली

दोनों टीमों के मैच के हर क्षेत्र के प्रदर्शन पर एक नज़र

अर्धशतकीय पारी खेलकर फ़ॉर्म में लौट आए हैं इशान किशन  •  BCCI

अर्धशतकीय पारी खेलकर फ़ॉर्म में लौट आए हैं इशान किशन  •  BCCI

आईपीएल में डबल हेडर के पहले मैच में रविवार को बायें हाथ के बल्‍लेबाज़ों का ज़लवा देखने को मिला। वानखेड़े में हुए इस मैच में मुंबई इंडियंस के गेंदबाज़ों पर वेंकटेश अय्यर ने खु़लकर प्रहार किया और शतक पूरा किया तो मुंबई की पारी में इशान किशन का ज़लवा देखने को मिला। तो चलिए देखते हैं कि इस मैच में किस टीम को हर क्षेत्र में कितने ग्रेड मिले हैं।

बल्लेबाज़ी

कोलकाता (A+) - कोलकाता नाइट राइडर्स के पास वेंकटेश हैं और इस मैच में उन्‍होंने एक बार फ‍िर दिखाया कि वह इस टीम के लिए कितने मुख्‍़य हैं। 2008 में जब आईपीएल का पहला मैच खेला गया था तब किसी केकेआर बल्‍लेबाज़ ने शतक लगाया था और पूरे 15 साल के बाद अय्यर ने यह कारनामा करके दिखाया है। उन्‍होंने अपने बैकफ़ुट खेल की बेहतरीन झलक पेश की। कोलकाता की पूरी पारी इनके ही इर्दगिर्द घूमती रही।
मुंबई (A++) - मुंबई ने बल्‍लेबाज़ी में बेहतरीन प्रदर्शन किया। इशान अपनी पुरानी लय में लौटते दिखे। वहीं इम्‍पैक्‍ट प्‍लेयर के तौर पर रोहित शर्मा आउट जरूर जल्‍दी हुए लेकिन उन्‍होंने भी अच्‍छे शॉट खेलकर मैच को मुंबई के हक़ में डालना शुरू कर दिया था। बाद में सूर्यकुमार यादव भी लय में लौटते दिखे तो तिलक वर्मा भी अहम पारी खेलकर लौटे।

गेंदबाज़ी

मुंबई (A) - मुंबई की गेंदबाज़ी में केवल स्पिनर ही थोड़े सहज नज़र आए। पहले पीयूष चावला ने अपने पहले ही ओवर में मुंबई को सफलता दिला दी थी। तो बाद में युवा स्पिनर ऋतिक शौकीन ने नितीश राणा और शार्दुल ठाकुर के विकेट लेकर कोलकाता के मध्‍य क्रम को बिखेरा था, लेकिन उनके तेज़ गेंदबाज़ों ने वेंकटेश के बैकफ़ुट गेम को देखते हुए भी उनके पाले में गेंद की। ऐसे में कहा जा सकता है कि वे थोड़ा समझदारी से खेल सकते थे।
कोलकाता (B) - कोलकाता की गेंदबाज़ी बिखरी हुई नज़र आई। ना तो उनके तेज़ गेंदबाज़ ख़ास कर पाए और उनके प्रमुख हथियार स्पिनर भी अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे। नितीश राणा का हर एक दांव बेदम दिखाई दिया। हां सुयश शर्मा ने जरूर थोड़ी वापसी कराई लेकिन तब तक अन्‍य गेंदबाज़ काम बिगाड़ चुके थे।

फ़ील्डिंग

मुंबई (A++) - मुंबई का क्षेत्ररक्षण आज बेहतरीन रहा। ख़ासकर शौकीन और तिलक वर्मा के कैच। शौकीन ने तो एन जगदीशन का बेहतरीन कैच कवर प्‍वाइंट पर लिया। तो वहीं तिलक ने डीप मिडविकेट पर आगे की ओर भागते हुए शार्दुल का कैच लिया। इसके अलावा भी शौकीन ने डीप पर बहुत ही अच्‍छा क्षेत्ररक्षण किया।
कोलकाता (A+) - कोलकाता का भी क्षेत्ररक्षण अच्‍छा रहा, लेकिन मुंबई इंडियंस जैसा नहीं। कोलकाता के ख़ाते में पहला विकेट रोहित के रूप में उमेश यादव की दिलेरी से ही आया, जहां उन्‍होंने मिडऑफ़ पर बायीं ओर डाइव लगाते हुए बेहतरीन कैच लपका।

रणनीति

मुंबई (A+) - मुंबई की रणनीति की बात की जाए तो सूर्यकुमार ने अपने गेंदबाज़ों का सही इस्‍तेमाल किया। कोलकाता के बल्‍लेबाज़ स्पिन पर फंस रहे थे और उन्‍होंने बहुत ही जल्‍दी चावला को गेंद थमा दी थी। इसके बाद शौकीन का भी उन्‍होंने बहुत अच्‍छे से इस्‍तेमाल किया। बल्‍लेबाज़ी में सूर्यकुमार खु़द तीसरे नंबर पर बल्‍लेबाज़ी करने आए जो एक बहुत अच्‍छा फ़ैसला कहा जा सकता है।
कोलकाता (A) - कोलकाता की रणनीति एक तरह से सही नहीं रही, लेकिन यह मुंबई के बल्‍लेबाज़ों के आक्रमण की वजह से था। जिसकी शुरुआत शार्दुल ठाकुर ने दूसरे ओवर में कराई। इसके बाद मुंबई ने मुड़कर नहीं देखा। पावरप्‍ले में सुनील नारायण को लाना भी उनको भारी पड़ गया जिससे मुंबई पूरी तरह से लय में आ गई थी। यही नहीं बल्‍लेबाज़ी में आंद्रे रसल से पहले रिंकू सिंह को भेजना भी कोलकाता को भारी पड़ गया क्‍योंकि इसकी वजह से 20 से 25 रन कम बने।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26