मैच (9)
इंग्लैंड बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
महाराजा टी20 (2)
आयरलैंड बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
द हंड्रेड (महिला) (1)
द हंड्रेड (पुरुष) (1)
ओमान बनाम बहरीन (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
रॉयल लंदन कप (1)
फ़ीचर्स

भारतीय शीर्ष क्रम में हुड्डा ने दिखाई अपनी ताक़त

एक यात्री क्रिकेटर को बड़ा मौक़ा मिला और आयरलैंड में वह प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ बनकर उभरे

Deepak Hooda had a good game, Ireland vs India, 1st T20I, Dublin, June 26, 2022

आयरलैंड के ख़िलाफ़ टी20 सीरीज़ में दीपक हुड्डा ने शीर्ष क्रम पर प्रभावित किया  •  Sportsfile/Getty Images

जब भारतीय कप्तान हार्दिक पंड्या ने घोषणा की कि ऋतुराज गायकवाड़ के चोटिल होने के बाद संजू सैमसन को प्लेइंग इलेवन में जगह दी गई है तो मैदान में मौजूद दर्शक चियर्स और हूटिंग करने लगे। जहां सैमसन ने वापसी करते हुए अपना पहला टी20 अर्धशतक लगाया, लेकिन यह दीपक हुड्डा थे जिन्होंने 57 गेंद में 104 रन बनाकर पूरी तरह से शो अपने नाम कर लिया।
रविवार को हुड्डा ने अपने शॉट रेंज की झलक दिखाई। जहां बारिश से प्रभावित मैच में उन्होंने 29 गेंद में 47 रन बनाकर भारत को 12 ओवर के मैच में 109 रनों तक पहुंचाया। दो दिन बाद सूरज से खिली दोपहर में हुड्डा को अपने शॉट की रेंज को दिखाने का पूरा मौक़ा मिल गया और वह सुरेश रैना, रोहित शर्मा और केएल राहुल के बाद टी20 अंतर्राष्ट्रीय में भारत के लिए शतक लगाने वाले चौथे भारतीय बन गए।
मंगलवार को परिस्थितियां ऐसी थी कि यहां रविवार की तरह ज़्यादा सीम और स्विंग नहीं देखने को मिली लेकिन बाउंस अच्छा था। जब इशान किशन क्रीज़ से बाहर निकलकर मार्क ऐडेर को मारने गए तो गेंदबाज़ की इस गेंद ने उछाल लिया और गेंद बल्ले का किनारा लेकर पीछे चली गई। पांच गेंद बाद ऐडेर ने एक बेहतरीन बाउंसर डाली जो एंगल के साथ हुड्डा के अगले कंधे की ओर आई। ज़्यादातर बल्लेबाज़ ऐसी गेंद पर डिफेंस ही करते हैं लेकिन हुड्डा बहुत तेज़ी से पोजिशन में आए, वह हल्का सा शफल हुए और गेंद की लाइन में आकर स्क्वेयर लेग बाउंड्री की ओर हुक कर दिया।
यह एक संकेत होना चाहिए था लेकिन आयरलैंड के गेंदबाज़ इस संकेत को समझ नहीं सके। जब भी गेंदबाज़ बाउंसर करते, हुड्डा ताक़त के साथ गेंद को वापस भेजते। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के डाटा के अनुसार हुड्डा ने शॉर्ट या शॉर्ट ऑफ़ गुड लेंथ पर 13 गेंद में 37 रन बनाए।
जब आयरलैंड के गेंदबाज़ आगे गेंद डालते तो हुड्डा फ्रंटफुट पर आकर स्ट्रेट या एक्स्ट्रा कवर की ओर ड्राइव खेल देते। इसके बाद उन्होंने तेज़ गेंदबाज़ और स्पिनरों पर ख़ुद ही लेंथ बनाकर खेलना शुरू कर दिया। कदम निकालकर केविन पीटरसन की स्टाइल में कट लगाकर उन्होंने 10वें ओवर में 27 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया।
हुड्डा तेज़ी से 60, 70 और 80 रनों तक पहुंचे और अपने पहले शतक की ओर बढ़ते हुए थोड़ा धीमे हो गए। 91 से 100 रनों तक पहुंचने के लिए उन्हें 10 गेंद लगी।
जब हुड्डा 55 गेंदों में शतक तक पहुंचे, तो उन्होंने आसमान की ओर देखा और मालाहाइड भीड़ और भारतीय डगआउट से तालियों की गड़गड़ाहट में मैदान गूंज उठा।
2013 में टी20 में पदार्पण करने के बाद, हुड्डा को इस लम्हे के लिए लंबा इंतज़ार करना पड़ा। वह एक यात्री रहे हैं। हुड्डा की जड़ें हरियाणा से हैं, लेकिन वह दिल्ली में पले बढ़े और पिता की एयर फोर्स में नौकरी की वजह से बड़ौदा गए। हुड्डा सर्विसेज की ओर से भारतीय घरेलू क्रिकेट में खेलने का विकल्प चुन सकते थे लेकिन उन्होंने बड़ौदा को चुना। हालांकि, क्रुणाल पंड्या से विवाद के बाद 2021-22 भारतीय घरेलू सीज़न से पहले वह राजस्थान से खेलने लगे।
आईपीएल में वह राजस्थान रॉयल्स, सनराइज़र्स हैदराबाद, पंजाब किंग्स और लखनऊ सुपर जाएंट्स का हिस्सा रहे हैं, जहां वह मध्य क्रम के बल्लेबाज़ के तौर पर खेले। हाल ही में सुपर जाएंट्स के लिए खेलते हुए उन्होंने दिखाया कि वह शीर्ष क्रम में बल्लेबाज़ी कर सकते हैं।
आईपीएल 2022 में हुड्डा ने चार बार नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी की, जहां उन्होंने 38.50 के औसत और 134 के स्ट्राइक रेट से 154 रन बनाए। फ़िट हुए सूर्यकुमार यादव के आयरलैंड में नंबर तीन पर खेलने की संभाववना थी, लेकिन भारतीय टीम प्रबंधन ने हुड्डा को मौक़ा देने का निर्णय लिया और उन्होंने दोनों हाथों से इस मौक़े को भुनाया।
हुड्डा ने दूसरे टी20 में अपनी बल्लेबाज़ी का जलवा दिखाया और जबकि पिछले 15 टी20 से तो उन्होंने गेंदबाज़ी ही नहीं की है। उनकी ऑफ़ स्पिन बायें हाथ के बल्लेबाज़ों से भरे लाइन अप में कारगर साबित होती है। लखनऊ में फ़रवरी में इस साल श्रीलंका के ख़िलाफ़ डेब्यू करते हुए उन्होंने चरिथ असलंका को स्पिन में फंसाया। श्रेयस अय्यर के अलावा हुड्डा ही भारतीय टी20 विश्व कप के संभावितों में अकेले है। जो गेंद भी डाल सकते हैं।
मैच के बाद प्लेयर ऑफ़ द मैच और प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ बनने के बाद हुड्डा ने कहा, "मुझे आक्रामक होकर खेलना पसंद है और परिस्थिति के मुताबिक। "आजकल मुझे शीर्षक्रम पर बल्लेबाज़ी करने का मौक़ा मिल रहा है, तो मेरे पास समय है और मैं परिस्थिति के मुताबिक बल्लेबाज़ी कर रहा हूं।"
साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ पिछली सीरीज़ में दिनेश कार्तिक ने टी20 विश्व कप के लिए दावा पेश किया तो अब आयरलैंड में हुड्डा ने शीर्ष क्रम स्थान के लिए दावा ठोक दिया है।

देवरायन मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।