मैच (12)
आईपीएल (2)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : धवन रहें अश्विन-चहल-बोल्ट की तिकड़ी से सावधान

पड़िक्कल को अर्शदीप तो सैमसन को है करन से खतरा

Sanju Samson meets his match-winner Jos Buttler after the latter seals their spot in the final, Rajasthan Royals vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2022 Qualifier 2, Ahmedabad, May 27, 2022

राजस्थान रॉयल्स अपने अगले मैच के लिए तैयार  •  BCCI

राजस्थान की टीम अपने नए घर असम की राजधानी गुवाहाटी से अपने घरेलू मैचों की शुरुआत कर रही है। हालांकि उन्होंने सीज़न की शुरुआत हैदराबाद के ख़िलाफ़ उनके घर जाकर जीत से की है। 5 अप्रैल, बुधवार को होने वाले इस मैच में राजस्थान के सामने पंजाब की टीम होगी, जिन्होंने अपने पहले मुक़ाबले में कोलकाता के ख़िलाफ़ प्रभावी प्रदर्शन किया था। एक नज़र डालते हैं कि इस मैच में आंकड़े किसके पक्ष में हैं।
आमने-सामने
अब तक दोनों टीमों के बीच 24 मैच खेले गए हैं। इसमें राजस्थान का पलड़ा भारी रहा है औऱ उन्होंने कुल 14 मैच जीते हैं, वहीं पंजाब ने 10 मुक़ाबलों में विजय हासिल की है। इस मैच के आयोजन स्थल गुवाहाटी के बरसापारा क्रिकेट स्टेडियम में पेस गेंदबाज़ों का प्रभाव रहा है, साथ ही पहले बल्लबाज़ी करने वाली टीम अधिक जीतती है। अब तक इस मैदान पर कुल 13 मैच खेले गए हैं जिसमें से 7 मैच पहले बल्लेबाज़ी करने वाली टीम और 5 मैच बाद में बल्लेबाज़ी करने वाली टीम जीती है। आंकड़े बताते हैं कि इस मैदान पर जीत हासिल करने के लिए पहले बल्लेबाज़ी करते हुए कम से कम 170 रन बनाने की ज़रूरत होती है।
पंजाब के गेंदबाज रहे हैं प्रभावी
पंजाब की ओर से अर्शदीप सिंह और राहुल चाहर सबसे क़ामयाब गेंदबाज़ रहे हैं। अर्शदीप ने दो बार देवदत्त पड़िक्कल को आउट किया है तो चाहर ने दो बार जॉस बटलर का महत्वपूर्ण विकेट लिया है। वहीं सैम करन दो बार सैमसन को चलता करने में सफल रहे हैं।
धवन रहें अश्विन-चहल-बोल्ट की तिकड़ी से सावधान
पंजाब के बल्लेबाज़ों को राजस्थान के स्पिन जोड़ी से सावधान रहना होगा। रविचंद्रन अश्विन ने चार बार शिखर धवन का विकेट लिया है, जबकि युज़वेंद्र चहल ने तीन बार धवन का शिकार किया है, वहीं ट्रेंट बोल्ट ने दो बार शिखर को बाहर का रास्ता दिखाया है। इतना ही नहीं संदीप शर्मा की गेंद भी धवन को आउट करने में गुरेज़ नहीं करती है।
कैसी है राजस्थान की टीम
टी20 क्रिकेट में 9 हज़ार से ज्यादा (9220) रन बनाने वाले जॉस बटलर और 5 हज़ार से ज्यादा (5672) रन बनाने वाले संजू सैमसन टीम के आधार स्तंभ हैं। इस मामले में हेटमायर और पड़िक्कल भी पीछे नहीं रहे हैं। जबकि आईपीएल की बात करें तो सैमसन साढ़े तीन हज़ार रनों से ज्यादा रन (3581) बना चुके हैं, वहीं जॉस बटलर तीन हज़ार आईपीएल रनों (2885) के क़रीब पहुंच चुके हैं। हेटमायर आईपीएल में 150 के स्ट्राइक रेट के साथ खेलते हैं।
गेंदबाजी डिपार्टमेंट में युज़वेंद्र चहल सबसे आगे हैं। उनके नाम 303 टी20 विकेट हैं। रवि अश्विन के 288, एडम जैंपा के 265 और ट्रेंट बोल्ट के 214 विकेट हैं। वहीं चहल 170 आईपीएल विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं औऱ राजस्थान की गेंदबाज़ी की धार को पैना बनाते हैं। उनके साथी रवि अश्विन 158 आईपीएल विकेटों के साथ विरोधी पक्ष के हमले को कुंद करने में लीड करते हैं। बोल्ट के खाते में भी 94 आईपीएल विकेट हैं। जबकि संदीप शर्मा के खाते में 114 आईपीएल विकेट दर्ज हैं।
कैसी है पंजाब की टीम
पंजाब के कप्तान शिखर धवन अपनी टीम में सबसे अनुभवी हैं और सभी टी20 क्रिकेट के मैचों में 300 से ज़्यादा मैच खेलते हुए 9 हज़ार से ज़्यादा रन बना चुके हैं। लियाम लिविंगस्टोन भी साढ़े चार हज़ार रनों का आंकड़ा पार कर चुके हैं। वहीं आईपीएल के आंकड़ों पर गौर करें तो धवन 207 मैचों में 6284 रन बना चुके हैं। धवन के अलावा टीम का कोई भी बल्लेबाज़ आईपीएल में हज़ार रन के आंकड़े को नहीं छू पाया है।
गेंदबाज़ों की बात करें तो कगिसो रबाडा के 172 मैचों में 223 विकेट दर्ज हैं। वहीं सबसे महंगे आईपीएल खिलाड़ी सैम करन 150 टी20 विकेटों से एक विकेट दूर हैं। वहीं राहुल चाहर, ऋषि धवन और अर्शदीप सिंह टी20 क्रिकेट में विकेटों का शतक लगा चुके हैं। इन गेंदबाज़ों के आईपीएल के रिकार्ड पर नज़र दौड़ाएं तो रबाडा विकेटों के शतक से एक कदम दूर हैं। जबकि राहुल चाहर 58, अर्शदीप सिंह 43 और सैम करन 33 आईपीएल विकेट ले चुके हैं।