मैच (19)
IPL (2)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
WT20 WC QLF (Warm-up) (5)
CAN T20 (2)
ख़बरें

एक ओवर में 6 छक्के जड़ कर अमेरिका के जसकरण मल्होत्रा ने की हर्शेल गिब्स की बराबरी

पापुआ न्यू गिनी के ख़िलाफ़ वनडे मैच में किया यह कारनामा

जसकरण ने हर्शेल गिब्स के रिकॉर्ड की बराबरी की  •  USA Cricket

जसकरण ने हर्शेल गिब्स के रिकॉर्ड की बराबरी की  •  USA Cricket

दो साल बाद राष्ट्रीय टीम में वापसी का जश्न अमेरिका के जसकरण मल्होत्रा ने एक अनोखे अंदाज़ में मनाया। उन्होंने मस्कट, ओमान में खेले जा रहे दो देशों की वनडे सीरीज़ के दूसरे मैच में पापुआ न्यू गिनी के ख़िलाफ़ एक ओवर में छह छक्के जड़े और हर्शेल गिब्स के रिकॉर्ड की बराबरी की।
उन्होंने इस मैच में 124 गेंदों में चार चौकों और 16 छक्कों की मदद से नाबाद 173 रन की सनसनीखेज पारी खेली और अमेरिका की तरफ से वनडे अंतर्राष्ट्रीय मैच में शतक जमाने वाले पहले खिलाड़ी बने। उन्होंने एक ओवर में छह छक्के का रिकॉर्ड पारी के अंतिम ओवर में पापुआ न्यू गिनी के मध्यम तेज़ गेंदबाज़ गाउडी टोका की गेंदों पर बनाया।
टोका ने इस ओवर की शुरुआती तीन गेंदें वाइड यॉर्कर्स डालकर की, लेकिन जसकरण ने इसे क्रमशः लांग ऑन, एक्स्ट्रा कवर और लांग ऑफ़ के ऊपर भेज दिया। इसके बाद टोका एंगल बदलते हुए राउंड द स्टंप आए और पैरों पर फ़ुल गेंद फेंकी, जसकरण ने भी ऑफ़ साइड के बाहर गॉर्ड लेते हुए इसे वाइड लांग ऑन के ऊपर भेज दिया। इसके बाद टोका ने फिर एंगल बदला और ओवर द विकेट आए। गेंद का हाल फिर ज्यों का त्यों था। इस बार गेंद लांग ऑफ़ बाउंड्री के पार गई। अंतिम गेंद कमर पर फ़ुल-टॉस आई और इसे जसकरण ने डीप स्क्वेयर लेग के ऊपर से भेजकर एक ओवर में छह छक्के लगाने की विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की।
जसकरण से पहले वनडे में यह कारनामा केवल साउथ अफ़्रीका के हर्शेल गिब्स ने किया था। वहीं टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में ऐसा युवराज सिंह और कायरन पोलार्ड कर चुके हैं।
पांच नंबर पर आए जसकरण ने एबी डिविलियर्स के भी एक रिकॉर्ड को तोड़ा। उनका 173 नाबाद का स्कोर अब पांच नंबर पर आए किसी भी बल्लेबाज़ का उच्चतम एकदिवसीय स्कोर है। यह रिकॉर्ड इससे पहले डिविलियर्स (162*) के नाम था, जो उन्होंने 2015 विश्व कप में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ बनाया था।
जसकरण जब क्रीज़ पर आए तो उनकी टीम का स्कोर 10वें ओवर में 29 रन पर तीन विकेट था। जसकरण को इस पारी में भाग्य का भी साथ मिला और 3, 20, 62, 118 के निजी स्कोर पर उनके कैच छोड़े गए। उन्होंने अपनी पारी की शुरुआत बहुत सावधानी से की और 48 गेंदों पर अपना अर्धशतक व 102 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया। लेकिन अगले 73 रन उन्होंने सिर्फ़ 22 गेंदों में ही बहुत ताबड़तोड़ अंदाज में बनाए।
जसकरण ने अंतिम विकेट के लिए सौरभ नेत्रवल्कर के साथ 17 गेंदों में 55 रन की साझेदारी की, जिसमें नेत्रवल्कर का योगदान महज एक रन था। जसकरण की इस पारी की बदौलत अमेरिका ने 50 ओवर में 9 विकेट पर 271 रन का स्कोर खड़ा किया। जवाब में पापुआ न्यू गिनी की टीम 137 रन पर ही ऑलआउट हो गई।

पीटर डेला पेना (@PeterDellaPenna) ESPNcricinfo में अमेरिका के संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर दया सागर ने किया है।