मंगलवार की रात तक सभी फ़्रेंचाइज़ियों के पास इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के लिए खिलाड़ियों को रिटेन करने का आख़िरी मौक़ा था, जिसके मद्देनज़र आठ फ़्रेंचाइज़ियों ने कुल 27 खिलाड़ियों को अपने साथ बरक़रार रखा है। इन सभी खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिए फ़्रेंचाइज़ियों को 269 करोड़ रुपये ख़र्च करने पड़े, इन 27 खिलाड़ियों में 19 भारतीय हैं जिनमें चार अनकैप्ड खिलाड़ी हैं और आठ विदेशी हैं।.

कई दिग्गज और बड़े नाम जैसे एमएस धोनी, विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह, आंद्रे रसल, सुनील नारायण और ग्लेन मैक्सवेल को उनकी टीमों ने रिटेन कर लिया है। लेकिन इन 27 खिलाड़ियों में कुछ बड़े नाम नहीं हैं, क्योंकि प्रत्येक टीम ज़्यादा से ज़्यादा चार ही खिलाड़ी को अपने साथ बरक़रार रख सकती थी। हालांकि कई ऐसे भी बड़े नाम हैं जिन्होंने ख़ुद को नीलामी पूल में जाने के लिए अपनी-अपनी फ़्रेंचाइज़ियों से नाता तोड़ लिया।

चेन्नई सुपर किंग्स

रिटेन खिलाड़ी: रवींद्र जाडेजा, एमएस धोनी, मोईन अली, ऋतुराज गायकवाड़

चेन्नई ने एमएस धोनी के रूप में रिटेंशन लिस्ट में पहला नाम रखा था, और उनके साथ-साथ रवींद्र जाडेजा भी रिटेन खिलाड़ियों में शामिल हैं, जो इस फ़्रेंचाइज़ी के साथ 2011 से जुड़े हुए हैं।

चर्चा का विषय ये था कि इस सूची में धोनी का नंबर कहां पर रहेगा, हालांकि धोनी ख़ुद को चौथे नंबर पर रखना चाहते थे लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें टॉप-2 में रखा है। जबकि जाडेजा 16 करोड़ की रिटेंशन राशि के साथ सबसे पहले नंबर पर रहे।

तीसरे नंबर पर मोईन अली रहे, हालांकि फ़ाफ़ डुप्लेसी और उनमें कड़ी टक्कर थी, लेकिन अंत में उन्होंने अपना नाम रिटेंशन लिस्ट में तीसरे नंबर पर 6 करोड़ की राशि के साथ रखा।

रॉबिन उथप्पा के बाद चैंपियन टीम में रहते हुए ऑरेंज कैप जीतने वाले ऋतुराज गायकवाड़ चौथे खिलाड़ी हैं, जिन्हें चेन्नई ने रिटेन किया है।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हुए: फ़ाफ़ डुप्लेसी, ड्वेन ब्रावो, सुरेश रैना, दीपक चाहर

दिल्ली कैपिटल्स

रिटेन खिलाड़ी: ऋषभ पंत, अक्षर पटेल, पृथ्वी शॉ, अनरिख़ नॉर्खिये

रिकी पॉन्टिंग की कोचिंग के अंदर पिछले तीन सीज़न से दिल्ली कैपिटल्स प्ले-ऑफ़ तक पहुंचती आई है, और इस फ़्रेंचाइज़ी को अपने जिन चार खिलाड़ियों पर सबसे ज़्यादा भरोसा है, उन्हें रिटेन कर लिया गया है।

हालांकि श्रेयस अय्यर का इसमें शामिल न होना, चर्चा का विषय ज़रूर बन सकता है। लेकिन जब दिल्ली ने पहले ही ऋषभ पंत को कप्तान बना दिया था तो श्रेयस की जगह पर संदेह हो गया था। उम्मीद है कि नीलामी में श्रेयस पर बड़ी बोली लग सकती है, कई टीमों को कप्तान की भी ज़रूरत है और श्रेयस अय्यर में कप्तानी वाले गुण मौजूद हैं।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हुए: श्रेयस अय्यर, आवेश ख़ान, आर अश्विन, कगिसो रबाडा

कोलकाता नाइट राइडर्स

Retained: आंद्रे रसल, वरुण चक्रवर्ती, वेंकटेश अय्यर, सुनील नारायण

ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के साथ बातचीत करते हुए नाइट राइडर्स के सीईओ वेंकी मईसोर ने कहा कि शुभमन गिल को बाहर रखना एक कठिन फ़ैसला था, लेकिन चक्रवर्ती और वेंकटेश जैसे खिलाड़ियों को नीलामी पूल से दोबारा लेना भी आसान नहीं था।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हुए: ओएन मॉर्गन, शुभमन गिल, दिनेश कार्तिक, लॉकी फ़र्ग्युसन

मुंबई इंडियंस

रिटेन खिलाड़ी: रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह, सूर्यकुमार यादव, कायरन पोलार्ड

रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह का रिटेनशन में होना स्वाभाविक था, जबकि तीसरे स्थान के लिए सूर्यकुमार यादव और इशान किशन के बीच फ़ैसला करना आसान नहीं था। सूर्यकुमार ने इशान को पीछे छोड़ दिया, तो वहीं चौथे स्थान पर कायरन पोलार्ड को रिटेन किया गया।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हुए: हार्दिक पंड्या, इशान किशन, ट्रेंट बोल्ट और राहुल चाहर

पंजाब किंग्स

रिटेन खिलाड़ी: मयंक अग्रवाल, अर्शदीप सिंह

पंजाब ने सिर्फ़ दो खिलाड़ियों को ही रिटेन किया जिसमें से एक अनकैप्ड हैं, यानि 2022 की नीलामी में पंजाब के पर्स में सबसे ज़्यादा 72 करोड़ रुपये होंगे।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हो पाए: केएल राहुल, रवि बिश्नोई, क्रिस गेल, निकोलस पूरन

राजस्थान रॉयल्स

रिटेन खिलाड़ी: संजू सैमसन, जॉस बटलर, यशस्वी जायसवाल

क्या राजस्थान जोफ़्रा आर्चर को रिटेन कर सकता था ? ये एक ऐसा सवाल है जो मैनेजमेंट को लगातार परेशान करता रहेगा।

राजस्थान ने अपने विकेटकीपर बल्लेबाज़ संजू सैमसन और जॉस बटलर के साथ-साथ युवा बल्लेबाज़ यशस्वी जायसवाल पर भरोसा जताया है। उनके पास भी नीलामी के समय पर्स में 62 करोड़ रुपये मौजूद रहेंगे।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हो पाए: बेन स्टोक्स, जोफ़्रा आर्चर

रॉयल चैलैंजर्स बेंगलुरु

रिटेन खिलाड़ी: विराट कोहली, ग्लेन मैक्सवेल, मोहम्मद सिराज

बेंगलुरु ने जिन तीन खिलाड़ियों को रिटेन किया है उनमें से पहले स्थान पर मौजूद विराट कोहली को 15 करोड़ रुपये की रिटेन राशि दी जाएगी, जो किसी ख़बर से कम नहीं क्योंकि कोहली को पिछले 2018 नीलामी से दो करोड़ रुपये कम मिलेंगे। लेकिन अब चीज़ें बदल गईं हैं और कोहली अब कप्तान भी नहीं हैं।

ग्लेन मैक्सवेल को पहली बार उनके आईपीएल करियर में किसी टीम ने रिटेन किया है, और वह दूसरे स्थान पर हैं जबकि मोहम्मद सिराज तीसरे खिलाड़ी के तौर पर आरसीबी के साथ बरक़रार हैं।

इस सूची में युज़वेंद्र चहल, हर्षल पटेल, देवदत्त पड़िक्कल जैसे खिलाड़ियों का नाम न होना हैरान ज़रूर करता है।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हो पाए: देवदत्त पड़िक्कल, हर्षल पटेल, युज़वेंद्र चहल

सनराइज़र्स हैदराबाद

रिटेन खिलाड़ी: केन विलियमसन, अब्दुल समद, उमरान मलिक

सनराइज़र्स हैदराबाद के हाथ से राशिद ख़ान कैसे निकल गए ?

ऐसा माना जा रहा है कि राशिद ख़ान दूसरे नंबर थे जिन्हें हैदराबाद बरक़रार रखना चाहता था केन विलियमसन के बाद। राशिद को पहली बार 2017 में सनराइज़र्स ने अपने साथ जोड़ा था और फिर 2018 में उन्हें नौ करोड़ रुपये के साथ रिटेन किया था। लेकिन अब शायद अफ़ग़ानिस्तान का ये लेग स्पिनर और अच्छे अवसर के तौर पर इस फ़्रेंचाइज़ी के साथ नहीं रहना चाहता था।

इसके अलावा सनराइज़र्स ने दो अनकैप्ड खिलाड़ियों को रिटेन किया है और ये दोनों ही जम्मू-कश्मीर से आते हैं - अब्दुल समद और उमरान मलिक। उमरान के लिए पिछला डेब्यू सीज़न शानदार रहा था जहां उन्होंने अपनी रफ़्तार से सभी को हैरान किया था और लगातार 150 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार को पीछे छोड़ते दिखे थे। सनराइज़र्स के पर्स में नीलामी पूल में अब 68 करोड़ रुपये शेष हैं।

बड़े नाम जो रिटेन नहीं हो पाए: डेविड वॉर्नर, जॉनी बेयरस्टो, राशिद ख़ान, भुवनेश्वर कुमार

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट सैयद हुसैन ने किया है।