मैच (14)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Charlotte Edwards (1)
T20I Tri-Series (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : कोलकाता के गेंदबाज़ों के पास गुजरात के सलामी बल्लेबाज़ो को रोकने का कोई उपाय नहीं है

वहीं रसल अपनी गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी दोनों से प्रभाव छोड़ सकते हैं

Shubman Gill and Wriddhiman Saha put on a century opening stand, Gujarat Titans vs Mumbai Indians, IPL 2022, Brabourne Stadium, Mumbai, May 6, 2022

गिल और साहा ने गुजरात को तेज़ शुरुआत दी है  •  BCCI

शनिवार को सुपर-सैटरडे डबल हेडर के पहले मुक़ाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स का सामना गुजरात टाइटंस के बीच कोलकाता के ईडन गार्डंस में होगा। दोनों टीमों के बीच अब तक तीन ही मुक़ाबले हुए हैं, जहां कोलकोता को दो और गुजरात को एक मैच में जीत हासिल हुई है। हालांकि इन दोनों टीमों के बीच पिछला मुक़ाबला काफ़ी रोचक था, जिसे आईपीएल इतिहास में लंबे समय तक याद रखा जाएगा। कोलकाता के रिंकू सिंह ने यश दयाल की आख़िरी पांच गेंदों पर लगातार पांच छक्के लगाकर अपनी टीम को एक असंभव जीत दिलाई थी। आइए डालते हैं इस मुक़ाबले से जुड़े कुछ अनोखे आंकड़ों और रोचक मैच-अप्स पर नज़र।
राशिद करते हैं रसल को परेशान
आंद्रे रसल डेथ ओवरों में बल्लेबाज़ी करने आते हैं। उस समय तक राशिद ख़ान के ओवर समाप्त हो जाते हैं या फिर कभी-कभी एक ओवर बचा होता है। लेकिन अगर डेथ में रसल को रोकना है, तो हार्दिक पंड्या को राशिद के कम से कम दो ओवर बचा के रखना चाहिए। कारण राशिद का रसल के ख़िलाफ़ रिकॉर्ड है। राशिद ने रसल को टी20 में पांच बार आउट किया है, वहीं रसल उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 11 की औसत से रन बना पाते हैं, हालांकि इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट लगभग 140 का रहता है।
रसल करते हैं गुजरात के तेज़ गेंदबाज़ों की हालत ख़राब
डेथ ओवरों में रसल के सामने अक्सर तेज़ गेंदबाज़ ही आते हैं, जिनके ख़िलाफ़ उनका रिकॉर्ड शानदार रहा है। रसल, मोहम्मद शमी के ख़िलाफ़ 240 के स्ट्राइक रेट से रन बना पाते हैं, जबकि उनका औसत इस दौरान 96 रहता है। शमी आठ पारियों में रसल को सिर्फ़ एक बार ही आउट कर पाए हैं। रसल का मोहित शर्मा के ख़िलाफ़ रिकॉर्ड भी शानदार है और वह 179 के स्ट्राइक रेट और 34 की औसत से मोहित के ख़िलाफ़ रन बनाते हैं। हमवतन अल्ज़ारी जोसेफ़ के ख़िलाफ़ भी रसल का स्ट्राइक रेट 189 है।
मिलर को रसल से सावधान रहने की ज़रूरत
जहां कोलकाता के पास डेथ ओवरों के लिए रसल हैं, वहीं गुजरात के लिए डेविड मिलर वही काम करते हैं। लेकिन मिलर को रसल और गुडरात के अन्य तेज़ गेंदबाज़ों से सावधान रहने की ज़रूरत है, जो कि डेथ में गेंदबाज़ी करने आएंगे। रसल ने टी20 मुक़ाबलों में मिलर को तीन बार आउट किया है, हालांकि मिलर भी उनके ख़िलाफ़ 164 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। उमेश यादव और डेविड वीस भी मिलर को दो-दो बार आउट कर चुके हैं।
गिल को रोकने के लिए शार्दुल को फ़िट होना होगा
शुभमन गिल इस समय शानदार फ़ॉर्म में हैं। उन्होंने इस साल आईपीएल के सात मैचों में 40 की औसत और 143 के स्ट्राइक रेट से 284 बनाए हैं, जिसमें तीन अर्धशतक शामिल है। अगर कोलकाता को शुभमन के तूफ़ान को रोकना है तो शार्दुल ठाकुर को फ़िट होकर टीम में लौटना होगा। दरअसल ठाकुर ही एकमात्र गेंदबाज़ हैं, जो शुभमन को परेशान करने की क्षमता रखते हैं। शार्दुल ने शुभमन को छह टी20 पारियों में तीन बार आउट किया है और शुभमन उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 17 की औसत से ही रन बना पाते हैं। शार्दुल के अलावा सिर्फ़ टिम साउदी ही शुभमन को एक बार टी20 में आउट कर पाए हैं। बाक़ी कोलकाता का कोई भी गेंदबाज़ उन्हें टी20 में आउट नहीं कर पाया है और शुभमन, उनके ख़िलाफ़ कम से कम 169 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। पिछले मैच में कोलकाता के लिए खेले वैभव अरोड़ा के ख़िलाफ़ तो शुभमन का स्ट्राइक रेट 191 का है।
नारायण पावरप्ले में गेंदबाज़ी के लिए आ सकते हैं
वैसे तो सुनील नारायण के लिए पावरप्ले में गेंदबाज़ी के लिए आना कोई नई बात नहीं है, लेकिन इस मैच में वह और भी जल्दी गेंदबाज़ी के लिए आ सकते हैं। कारण गुजरात के दूसरे ओपनर ऋद्धिमान साहा हैं, जिन्हें वह टी20 मैचों में चार बार आउट कर चुके हैं। इस दौरान साहा उन पर सिर्फ़ 119 के स्ट्राइक रेट और 18.5 की औसत से रन बना पाते हैं। उमेश ने भी साहा को दो बार आउट किया है, लेकिन उनके ख़िलाफ़ साहा का स्ट्राइक रेट 144 और औसत 55.5 का है।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं. @dayasagar95