मैच (16)
आईपीएल (1)
T20WC Warm-up (2)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ENG v PAK (1)
INTER-PRO T20 (1)
ITA vs NL [W] (1)
ख़बरें

रवि शास्त्री : अगले टी20 विश्व कप में हार्दिक पंड्या होंगे भारतीय टीम के कप्तान

शास्त्री का मानना है कि भारत को अब वही रवैया अपनाना चाहिए जैसा कि वर्ष 2007 टी20 विश्व कप के समय अपनाया था

Hardik Pandya leads the team, New Zealand vs India, 2nd T20I, Mount Maunganui, November 20, 2022

पिछले टी20 विश्व कप के बाद से हार्दिक पंड्या ने ही भारत की टी20 टीम की कप्तानी की है.  •  Getty Images

अगला पुरुष टी20 विश्व कप एक साल बाद यानी वर्ष 2024 में खेला जाना है। ऐसे में भारतीय टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री अगले टी20 विश्व कप में भारतीय टीम की कमान हार्दिक पंड्या के पास होने की उम्मीद कर रहे हैं।
शास्त्री ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के कार्यक्रम 'रनऑर्डर' में कहा, "कोई भी विश्व कप में अपनी जगह बना सकता है लेकिन मुझे लगता है कि टीम का नेतृत्व हार्दिक ही करेंगे। एकदिवसीय विश्व कप के बाद अगले दो विश्व कप टी20 के ही हैं। हार्दिक पहले ही (टी20 में) भारतीय टीम के कप्तान (स्टैंडबाय) हैं, इसलिए अगर वह फ़िट रहते हैं तो वह ही कप्तान रहेंगे। मुझे लगता है कि चयनकर्ता अब नई दिशा में सोचेंगे। मौजूदा समय में हमारे सामने कई प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी हैं। अगर पूरी तरह से टीम का कायाकल्प नहीं होता है तब भी हमें कुछ नए चेहरे तो ज़रूर दिखाई देंगे।"
शास्त्री ने कहा, "भारत के पिछले टी20 विश्व कप में खेलने वाले कई खिलाड़ी उस टीम में मौजूद होंगे लेकिन टीम में कुछ नए चेहरे भी होंगे। जैसा कि इस आईपीएल सीज़न हम नई प्रतिभाओं का गवाह भी बने हैं।"
रोहित शर्मा भारत के तीनों प्रारूपों के कप्तान हैं। हालांकि वर्ष 2022 के अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित हुए पिछले टी20 विश्व कप के बाद से उन्होंने कोई अंतर्राष्ट्रीय टी20 मुक़ाबला नहीं खेला है। पिछले टी20 विश्व कप में केएल राहुल उपकप्तानी कर रहे थे, लेकिन उन्होंने भी उसके बाद से कोई भी अंतर्राष्ट्रीय टी20 मुक़ाबला नहीं खेला है। इस दौरान भारतीय टीम ने कुल आठ टी20 मैच खेले हैं और हर मैच में हार्दिक ने ही टीम इंडिया का नेतृत्व किया है।
पिछले टी20 विश्व कप में भारतीय टीम के लिए बल्लेबाज़ी चिंता का सबब थी। सेमीफ़ाइनल में भारतीय टीम 168 रन ही बना पाई थी, जिसे इंग्लैंड ने चार ओवर शेष रहते ही हासिल कर लिया था। उसके बाद से भारतीय टीम ने कुछ नए चेहरों को आज़माया है और उनसे परिणाम भी अच्छे मिले हैं।
शास्त्री ने कहा, "मुझे लगता है, वह कुछ वैसा ही तरीक़ा अपनाएंगे जो भारतीय टीम ने वर्ष 2007 में अपनाया था और सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ की अनुपस्थिति में एक कम अनुभवी टीम विश्व कप खेलने गई थी। जब चयन की बारी आएगी, तब हार्दिक के पास कई विकल्प होंगे। क्योंकि उनके सोचने का नज़रिया अलग होगा, वह आईपीएल में कप्तानी भी कर चुके हैं और उन्होंने कई खिलाड़ियों को खेलते हुए भी देखा है, इसलिए उनके पास अपने इनपुट्स भी होंगे।"
शास्त्री से जब पूछा गया कि क्या हार्दिक को सीनियर खिलाड़ियों से उनके भविष्य के बारे में बात करनी चाहिए? इस पर उन्होंने कहा, "निश्चित तौर पर। क्योंकि आगे चलकर हार्दिक के कंधों पर ही ज़िम्मेदारी आने वाली है, ऐसे में उनकी बातों को अहमियत दी जानी चाहिए और गौर से सुना जाना चाहिए।"
वर्ष 2022 से पहले तक हार्दिक के पास सीनियर लेवल पर कप्तानी का कोई अनुभव नहीं था। लेकिन उन्होंने न सिर्फ़ अपनी टीम गुजरात टाइटंस को आईपीएल ट्रॉफ़ी जिताई बल्कि इस बार भी उनकी टीम सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम है।
हार्दिक के सामने सबसे बड़ी चुनौती वर्क लोड मैनेजमेंट की रहने वाली है। हालांकि शास्त्री मानते हैं कि इससे हार्दिक के लिए समस्या खड़ी नहीं होगी क्योंकि वह बड़े प्रारूप में क्रिकेट नहीं खेलते हैं।
शास्त्री ने कहा, "वह तीनों प्रारूप नहीं खेल रहे हैं। ऐसे में जब कोई टेस्ट सीरीज़ आती है तो उन्हें आराम का पर्याप्त समय मिलता है। उन्हें अपनी क्षमता पर पूरा विश्वास है। जब वह फ़िट रहते हैं, तब वह टी20 के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक होते हैं।"
पिछले साल वर्ष 2022 के नवंबर महीने में ही शास्त्री ने कहा था, "नए टी20 कप्तान की ख़ोज करने में कोई बुराई नहीं है, अगर वह नाम हार्दिक पंड्या है, तो ठीक है।"