मैच (8)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
भारत बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
एशिया कप (3)
ईरानी ट्रॉफ़ी (1)
लेजेंड्स लीग (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (महिला) (1)
ख़बरें

नवाज़ : शायद हमें श्रीलंका पर अटैक करने के बजाय रन रोकने से फ़ायदा होता

पाकिस्तानी हरफ़नमौला का मानना है कि दूसरे टेस्ट में स्पिनरों की भूमिका तीसरे दिन के बाद बढ़ेगी

Mohammad Nawaz dismissed Oshada Fernando for fifty, Sri Lanka vs Pakistan, 2nd Test, Galle, 1st day, July 24, 2022

मोहम्मद नवाज़ ने पहले दिन दो विकेट चटकाए  •  AFP/Getty Images

किसी टेस्ट के पहले दिन टॉस हारने के बाद गेंदबाज़ी करते हुए विपक्ष के छह विकेट लेना शायद पारंपरिक नज़रिए से एक अच्छा दिन कहा जाएगा। लेकिन जब एक धीमी पिच पर श्रीलंका ने 3.66 रन प्रति ओवर के औसत से 300 का आंकड़ा पार पार कर लिया, तब कहा जा सकता है कि गॉल में दूसरे टेस्ट का पहला दिन रहा मेज़बानों के नाम।
पाकिस्तानी हरफ़नमौला मोहम्मद नवाज़ ने दो विकेट लिए, और दिन के खेल के बाद उन्होंने माना कि पाकिस्तान ने रणनीति में ग़लती करते हुए रन रोकने से ज़्यादा विकेट निकालने की कोशिश पर अधिक ध्यान दिया। उन्होंने कहा, "यह पिच पहले टेस्ट की तरह नहीं है। इसमें टर्न कम है और गति भी कम है। शायद हमें अटैक करने के बजाय रन रोकने की नीति अपनाने से फ़ायदा मिलता। पिच में उछाल भी कम थी और ऐसे में विकेट लेने के लिए काफ़ी मशक़्क़त करनी पड़ी। शायद किफ़ायती गेंदबाज़ी करना बेहतर होता।"
दिन के खेल में श्रीलंका के बल्लेबाज़ सहज दिखे और पहली और तीसरी सेशन में चार रन प्रति ओवर के औसत से रन बनाए। दिन के शुरू में ही उनकी सकारात्मक सोच के प्रतीक बने ओपनर ओशादा फ़र्नांडो जिन्होंने 70 गेंदों पर 50 बनाए और इसमें स्पिनरों के ख़िलाफ़ तीन छक्के लगाए। आख़िरी सेशन में भी जब नसीम शाह नई गेंद के साथ क़हर बरपा रहे थे तब निरोशन दिकवेला ने 43 गेंदों पर 42 नाबाद बनाकर गतिशीलता को बनाए रखा।
पाकिस्तान ने फ़ील्ड पर अपनी ग़लतियों से अपनी मुश्किलें बढ़ाई। ऐंजेलो मैथ्यूज़ और दिकवेला दोनों को कप्तान बाबर आज़म कैच ड्रॉप करते हुए जीवनदान देने में ज़िम्मेदार थे।
नवाज़ ने कहा, "क्रिकेट में कोई भी कैच ड्रॉप कर सकता है। बाबर से यह उम्मीद नहीं रखी जाती और वह मौक़े हमने नहीं गंवाए होते तो हम शायद उन्हें और कम स्कोर पर रोक सकते थे। ओशादा ने पहले सत्र में स्पिनरों पर ज़बरदस्त प्रहार किया था और (दिनेश) चांदीमल और मैथ्यूज़ की साझेदारी भी उनके लिए कारगर साबित हुई। मैं फिर भी समझता हूं यह स्पिनरों का गेम है। तीसरे और चौथे दिन से पिच का व्यवहार बदल जाएगा। दूसरी पारी में स्पिनर ज़्यादा असरदार होगा।"

दन्याल रसूल ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।