मैच (9)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

रेटिंग्स: रोहित और कार्तिक ने किया टॉप, श्रेयस रहे फ़िसड्डी

भारत ने धमाकेदार अंदाज़ में की टी20 सीरीज़ की शुरुआत

वनडे सीरीज़ में मेज़बान टीम का सूपड़ा साफ़ करने के बाद भारतीय टीम पहुंची ब्रायन लारा स्टेडियम, जहां पहला पुरुष टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला जाना था। भारत ने कप्तान रोहित शर्मा की ज़िम्मेदारी भरी पारी और दिनेश कार्तिक के बेहतरीन फ़िनिश से एक मज़बूत स्कोर खड़ा किया और फिर गेंदबाज़ों ने वेस्टइंडीज़ को 68 रन पहले ही समेट दिया। आइए देखते हैं हमारे प्लेयर रेटिंग्स में भारतीय एकादश के सदस्यों को कितने-कितने अंक मिलते हैं।
क्या सही और क्या ग़लत?
दिनेश कार्तिक को बतौर फ़िनिशर आगामी टी20 विश्व कप में भारत के बड़े हथियार के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि पिछले कुछ मैचों से उनका प्रदर्शन उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहा था, लेकिन इस मैच में कार्तिक ने बता दिया कि उनके बल्ले की धार अभी कुंद नहीं हुई है। मददगार पिच पर भारतीय स्पिनरों ने भी अपने हाथ दिखाए और पांच विकेट आपस में बांटे।
भले ही भारत के मध्य क्रम का ऑडिशन चल रहा हो, लेकिन सच्चाई यह है कि मध्यक्रम लंबे समय से अच्छा नहीं कर रहा है। आज भी शुरुआती झटके लगने के बाद मध्य क्रम दबाव में बिखर गया। तेज़ शुरुआत मिलने के बावजूद शीर्ष मध्यक्रम ने 19 गेंदें खेलकर मात्र 15 रन बनाए।
प्लेयर रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)
रोहित शर्मा, 9.5: टॉस हारने के अलावा रोहित ने इस मैच में कोई ग़लती नहीं की। पहले उन्होंने अपने नए जोड़ीदार सूर्या के साथ मिलकर भारत को तेज़ शुरुआत दिलाई और फिर सामने से एक के बाद एक बल्लेबाज़ को पवेलियन वापस जाते देख एक सूत्रधार की भुमिका निभाई। इस पारी के दौरान वे टी20 में सर्वाधिक अंतर्राष्ट्रीय रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बने। गेंदबाज़ी में भी उन्होंने अच्छे बदलाव किए और पिच से फ़िरकी गेंदबाज़ों को मदद मिलते देख ज़्यादा देर न करते हुए उन्हें पावरप्ले में ही लेकर आए।
सूर्यकुमार यादव, 7: इस साल टी20 अंतर्राष्ट्रीय में भारत के सातवें ओपनर बने सूर्या ने आते ही अपनी दूसरी ही गेंद पर चौका लगाकर अपने इरादे जता दिए थे। चौथे ओवर में अकील हुसैन का शिकार बनने से पहले उन्होंने अल्ज़ारी जोसेफ़ को अपने ट्रेडमार्क अंदाज़ में चौका और छक्का जड़ा।
श्रेयस अय्यर, 5: वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ में अच्छे रन बनाने की वजह से शायद श्रेयस को मध्य क्रम में हुड्डा के ऊपर तरजीह दी गई थी। हालांकि उन्होंने निराश किया और चार गेंद खेलकर अपना खाता भी नहीं खोल पाए।
ऋषभ पंत, 6: जल्दी-जल्दी दो विकेट खोने के बाद क्रीज़ पर आए ऋषभ पंत कभी सहज नहीं दिखे। वे बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में कई बार बीट हुए। पिच पर अच्छा समय बिताने के बाद जब बारी आई रनगति को तेज़ करने की तो वे चलते बने।
हार्दिक पंड्या, 6: आज पंड्या का दिन नहीं था, क्योंकि एक आसान गेंद पर बेहद ही साधारण शॉट खेलकर वह आउट हुए। वह ऑफ़ स्टंप से बाहर की छोटी गेंद को सीधे थर्डमैन के हाथों में खेल बैठे। पावरप्ले के बाद रोहित ने उनको गेंद थमाई, लेकिन रंग में नहीं दिखने पर जल्द ही हटा भी दिया।
रवींद्र जाडेजा, 8: बल्लेबाज़ी क्रम में कार्तिक से ऊपर भेजे गए जाडेजा ने कुछ आकर्षक शॉट लगाए लेकिन अपनी पारी को लंबी नहीं कर पाए। हालांकि उन्होंने गेंद के साथ निराश नहीं किया। पावरप्ले में गेंदबाज़ी करने आए जाडेजा ने ओवर की अंतिम गेंद पर होल्डर का महत्वपूर्ण विकेट झटका और बाक़ी भारतीय गेंदबाज़ों की तरह किफ़ायती भी रहे।
दिनेश कार्तिक, 9.5: अपनी तूफ़ानी पारी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच चुने गए कार्तिक ने शुरू में संघर्ष किया लेकिन एक बार आंखे जमने के बाद उन्होंने आतिशी बल्लेबाज़ी की। कार्तिक ने अपने आख़िरी छह गेंदों में चार बाउंड्री बटोरे और भारत को एक ऐसे लक्ष्य तक पहुंचा दिया जिसे सुरक्षित माना गया।
रवि अश्विन, 9: लंबे अतराल के बाद सीमित ओवरों का क्रिकेट खेल रहे अश्विन ने बल्ले से उपयोगी योगदान दिया। सभी प्रमुख बल्लेबाज़ों को खोने के बाद वह अश्विन ही थे जो अंतिम ओवरों में कार्तिक का साथ निभा रहे थे। गेंदबाज़ी की बारी आई तो उन्होंने कंजूसी से गेंदबाज़ी की और दो बाएं हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज़ों पूरन और हेटमायर का विकेट झटका।
भुवनेश्वर कुमार, 7.5: रन चेज़ का पहला ओवर डालने आए भुवनेश्वर मंहगे रहे। वेस्टइंडीज़ के दोनों प्रारंभिक बल्लेबाज़ों ने उन पर एक-एक चौका बटोर अपने हाथ खोले। उसके बाद रोहित ने भुवी को रोक दिया, लेकिन जब वे पांचवें ओवर में उन्हें वापस लेकर आए तो उन्होंने विकेट मेडेन डाला। हालांकि जब स्पिनरों ने मोर्चा संभाल लिया तो भुवी की ज़रूरत ही नहीं पड़ी।
रवि बिश्नोई, 8: पारी के 11 ओवर निकल चुके थे और ऐसा लग रहा था कि रोहित यह भूल चुके हैं कि बिश्नोई भी यह मैच खेल रहे हैं। हालांकि उन्हें जल्द ही इस लेग स्पिनर की याद आई और उन्हें गेंदबाज़ी पर बुलाया। बिश्नोई ने आते ही पहली ही गेंद पर पॉवेल का लेग स्टंप उड़ा दिया। उन्होंने एक और बिग हीटर ओडीन स्मिथ का भी शिकार किया।
अर्शदीप सिंह, 8: दूसरा ओवर लेकर आए अर्शदीप को मेयर्स ने छक्के से स्वागत किया और एक गेंद बाद चौका जड़ दिया। यह युवा तेज़ गेंदबाज़ घबराया नहीं और अगली गेंद छोटी की, फ़्रंट पर आ चुके मेयर्स पूरी तरह से इस गेंद के आगे नतमस्तक हुए और भारत को पहली सफलता मिल गई। पावरप्ले में एक और ओवर डालने के बाद अर्शदीप की बारी डेथ ओवरों में आई जहां उन्होंने एक और शिकार किया।

कुणाल किशोर ESPNcricinfo हिंदी में एडिटोरियल फ़्रीलांसर हैं। @ImKunalKishore