मैच (12)
IND v ENG (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
CWC Play-off (3)
BPL 2023 (2)
PSL 2024 (1)
WPL (1)
फ़ीचर्स

लक्ष्य का पीछा करने के मामले में ऑस्ट्रेलिया महिला टीम ने की भारतीय पुरुष टीम की बराबरी

ऑस्ट्रेलिया ने किया महिला विश्व कप में अब तक का सबसे बड़ा रन चेज़

मैग लानिंग भले ही शतक बनाने से चूक गई लेकिन उन्होंने एक रिकॉर्डतोड़ पारी खेली  •  Getty Images

मैग लानिंग भले ही शतक बनाने से चूक गई लेकिन उन्होंने एक रिकॉर्डतोड़ पारी खेली  •  Getty Images

भारत ने ऑकलैंड में 278 रन का सफलतापूर्वक पीछा किया। महिला विश्व कप में यह सबसे बड़ा स्कोर था, जिसका पीछा किया गया। इसके पहले साल 2017 के विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया ने ही श्रीलंका के ख़िलाफ़ 258 रन का पीछा किया था।
महिला वनडे में मात्र दो बार इससे ज़्यादा रन का पीछा किया गया है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने साल 2012 में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 289 रन का पीछा किया था। वहीं पिछले महीने न्यूज़ीलैंड ने भारत के विरूद्ध 280 रन का पीछा किया था।
ऑस्ट्रेलिया महिला टीम ने 17वीं बार लगातार सफलतापूर्वक लक्ष्य का पीछा किया है। इससे पहले वह साल 2017 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ लक्ष्य का पीछा करने में असफल रही थी।
यही नहीं इस मामले में ऑस्ट्रेलिया महिला टीम ने भारतीय पुरुष टीम की बराबरी कर ली है। साल 2005 और 2006 के बीच भारतीय टीम ने 17 बार लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था।
लक्ष्य का पीछा करते हुए मैग लानिंग की औसत 63.76 है। यह महिला क्रिकेट में किसी भी खिलाड़ी (कम से कम 500 रन बनाने वाली) के लिए सर्वाधिक है। वहीं लक्ष्य का पीछा करते हुए लानिंग ने 20 अर्धशतक लगाया है। जो महिला क्रिकेट में तीसरा सबसे अधिक है।
लानिंग और एलिस पेरी के बीच अब तक 9 बार शतकीय साझेदारी हो चुकी है, जो संयुक्त रूप से विश्व में दूसरी सबसे ज़्यादा है। बेलिंडा क्लार्क और लीज़ा केटली इस लिस्ट में टॉप पर हैं। उनके बीच 10 बार वनडे क्रिकेट में 100 या उससे अधिक रनों की साझेदारी हुई है। जबकि सूजी बेट्स और एमी सैथरवेट के बीच भी ऐसी नौ साझेदारियां हुई हैं। साथ ही लानिंग और पेरी महिला एकदिवसीय मैचों में 2000 से अधिक रन बनाने वाली छठी जोड़ी बन गईं।
लक्ष्य का पीछा करते हुए लानिंग और पेरी की औसत 161.62 का है। इन दोनों के बीच 12 बार 50 से अधिक रनों की साझेदारी हुई है और छह बार 100 या उससे अधिक रनों की साझेदारी हुई है। सिर्फ़ लॉरा वुलफ़ार्ट और लेज़ेल ली की जोड़ी ने इससे ज़्यादा बार अर्धशतकीय और शतकीय साझेदारी की है।
लानिंग ने कट शॉट के ज़रिए 97 रन की पारी के दौरान 46 रन बनाए। लानिंग ने भारत के खिलाफ आउट हुए बिना 29 बार कट खेला, जिनमें से नौ चौके थे। इस टूर्नामेंट के ऑस्ट्रेलिया के पहले चार मैचों में से प्रत्येक मैच में कट खेलने के दौरान लानिंग आउट हो गई थी।
इस मैच में भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियो के बीच तीन शतकीय साझेदारी हुई। महिला विश्व कप में यह पहली बार था जब ऐसा हुआ है। यही नहीं इस मैदान पर पांच अर्धशतकीय साझेदारी की गई।

संपत बंडारूपल्ली ESPNcricinfo में स्टैटिशियन हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।