मैच (11)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
बीबीएल (1)
एसए20 (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
ख़बरें

रमीज़: अगर हमसे एशिया कप की मेज़बानी छिनी तो हम टूर्नामेंट का बहिष्कार करेंगे

2023 का एशिया कप पाकिस्तान में होना था लेकिन भारत का वहां जाना अनिश्चित है

भारत और पाकिस्तान एक दूसरे से इस साल तीन बार भिड़ चुके हैं  •  Getty Images/ICC

भारत और पाकिस्तान एक दूसरे से इस साल तीन बार भिड़ चुके हैं  •  Getty Images/ICC

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन रमीज़ राजा ने चेतावनी दी है कि अगर उनसे एशिया कप की मेज़बानी का अधिकार छीना जाता है तो पाकिस्तान एशिया कप से बाहर हो सकता है।
माना जा रहा है कि सुरक्षा कारणों से भारत, पाकिस्तान की यात्रा करने से मना कर सकता है। ऐसे में पाकिस्तान की मेज़बानी ख़तरे में है।
पाकिस्तान-इंग्लैंड के बीच हो रहे रावलपिंडी टेस्ट से इतर रमीज़ ने कहा, "ऐसा नहीं है कि हमारे पास मेज़बानी का अधिकार नहीं है और हम मेज़बानी के लिए गिड़गिड़ा रहे हैं। हमने इस मेज़बानी अधिकार को जीता है। अगर भारत नहीं आता है तो ना आए लेकिन अगर हमसे मेज़बानी अधिकार छीना जाता है तो हम भी एशिया कप से बाहर जा सकते हैं।"
अक्तूबर में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव और एशियन क्रिकेट काउंसिल (एसीसी) के अध्यक्ष जय शाह ने कहा था कि एशिया कप 2023 का आयोजन तटस्थ स्थान पर होगा क्योंकि सुरक्षा कारणों से भारत, पाकिस्तान की यात्रा नहीं कर सकता है।
भारत ने अंतिम बार एशिया कप के लिए ही 2008 में पाकिस्तान की यात्रा की थी, वहीं पाकिस्तान 2016 टी20 विश्व कप के लिए भारत आया था। दोनों देशों के बीच अंतिम बार 2012-13 में द्विपक्षीय सीरीज़ हुआ था, जब पाकिस्तान की टीम ने भारत का दौरा किया था। इसके बाद से दोनों टीमें सिर्फ़ एसीसी और आईसीसी टूर्नामेंट में ही भिड़ती हैं।
रमीज़ ने कहा, "हमने दिखाया है कि हम बड़ी टीमों की मेज़बानी कर सकते हैं। द्विपक्षीय सीरीज़ होने का विषय अलग है लेकिन एशिया कप एक मल्टी नेशन टूर्नामेंट है और यह एशियाई देशों के लिए विश्व कप जितना ही बड़ा टूर्नामेंट है। हमें मेज़बानी ही क्यों दी गई जब यह कहना था कि भारत, पाकिस्तान की यात्रा नहीं कर सकता है? ठीक है, भारत नहीं आना चाहता क्योंकि उनकी सरकार उन्हें अनुमति नहीं देगी। लेकिन इस आधार पर मेज़बानी अधिकार छीनना उचित नहीं है।"
बीबीसी के टेस्ट मैच स्पेशल चैनल पर रमीज़ ने कहा, "अगर भारत और पाकिस्तान एशिया कप में नहीं खेलते हैं तो प्रतियोगिता ही नहीं बचेगी। मैं कई बार कह चुका हूं कि मुझे भारत में बेतहाशा प्यार मिला है। मैं आईपीएल के कई सीज़न में कॉमेंटेटर रह चुका हूं। मुझे पता है कि दर्शक भी भारत-पाकिस्तान मुक़ाबला चाहते हैं। इस साल टी20 विश्व कप में जब दोनों टीमें मेलबर्न में उतरीं तो 90 हज़ार प्रशंसक आए थे।"
यह भी कहा जा रहा है कि अगर 2023 के एशिया कप के लिए भारत, पाकिस्तान का दौरा नहीं करता है या पाकिस्तान से एशिया कप की मेज़बानी छीनी जाती है तो पाकिस्तान वनडे विश्व कप से भी पीछे हट सकता है क्योंकि अगला विश्व कप भारत की ही मेज़बानी में होना है। पाकिस्तान इसकी संभावना पहले ही जता चुका है।
रमीज़ ने कहा, "क्या होगा अगर पाकिस्तानी सरकार भी सुरक्षा कारणों से टीम को भारत जाने की अनुमति ना दे? यह बहुत भावुक मसला है। बीसीसीआई ने इस मुद्दे को गरमाया है तो हमें भी जवाब देना था। टेस्ट क्रिकेट को भी भारत बनाम पाकिस्तान मुक़ाबले की ज़रूरत है।"