मैच (19)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
USA vs CAN (1)
Women's Tri-Series (1)
Zonal Trophy [W] (1)
ख़बरें

विश्व कप जीतने के मक़सद से हम मैदान में उतरेंगे : शाकिब

बांग्लादेशी टीम टूर्नामेंट शुरू होने से 15-16 दिन पहले ओमान पहुंच जाएगी, जो कि उनकी तैयारियों में मददगार साबित होगी

ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड को टी20 सीरीज़ में मात देने के बाद बांग्लादेशी टीम के हौसले बुलंद हैं  •  AFP/Getty Images

ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड को टी20 सीरीज़ में मात देने के बाद बांग्लादेशी टीम के हौसले बुलंद हैं  •  AFP/Getty Images

पूर्व बांग्लादेशी कप्तान और दिग्गज हरफ़नमौला शाकिब अल हसन का कहना है कि उनकी टीम टी20 विश्व कप जीतने के मक़सद से मैदान में उतरेगी। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश के पास विश्व कप की तैयारियों के लिए पर्याप्त समय है और ऑस्ट्रेलिया व न्यूज़ीलैंड को सीरीज़ हराने के बाद टीम का मनोबल भी काफ़ी ऊंचा है।
बांग्लादेश की टीम टूर्नामेंट के अपने पहले मैच से लगभग दो सप्ताह पहले ओमान की राजधानी मस्कट में पहुंच जाएगी। वहीं शाकिब और मुस्तफ़िज़ुर रहमान वहां पहले से आईपीएल खेल रहे होंगे।
शाकिब ने कहा, "मुझे उम्मीद है कि आईपीएल से हमें टी20 विश्व कप की तैयारियों में मदद मिलेगी। हम उन्हीं पिचों और परिस्थितियो में खेलेंगे, जहां विश्व कप खेला जाना है। फ़िज़ और मैं, अपने अनुभव टीम के साथ भी साझा करेंगे, जो कि काफ़ी उपयोगी होगा।"
शाकिब ने आगे कहा, "इसके अलावा पूरी टीम भी विश्व कप के 15-16 दिन पहले ओमान पहुंच जाएगी, जिससे टीम को पिच और परिस्थितियों को समझने में मदद मिलेगी। हम जीतने की मानसिकता से वहां जा रहे हैं, जो विश्व कप के हमारे अभियान में काफ़ी सहायक होगा।"
हालांकि शाकिब ने ढाका के शेरे बांग्ला स्टेडियम के पिच की फिर से आलोचना की, जहां पर बांग्लादेशी टीम ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड को हराकर लगातार दो टी20 सीरीज़ जीता है। शाकिब ने दोनों सीरीज़ में 100 से अधिक रन बनाए, हालांकि धीमी पिचों के कारण उनका स्ट्राइक रेट केवल 97.54 का रहा।
न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ पहले मैच की समाप्ति के बाद शाकिब ने कहा था कि ढाका कि यह पिच बल्लेबाज़ों की विश्व कप तैयारी में बिल्कुल भी सहायक नहीं है। उन्होंने कहा, "इस पिच पर लगातार नौ मैच खेलने वाले बल्लेबाज़ों को अपना प्रदर्शन भूलना होगा, नहीं तो वे विश्व कप में दबाव के साथ जाएंगे। अगर कोई बल्लेबाज़ इस पिच पर 10 से 15 मैच खेल ले तो उसका करियर समाप्त हो सकता है। इससे अच्छा इसे भूल जाना ही बेहतर है क्योंकि हमें विश्व कप में देश के लिए खेलना और जीतना है।"
हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि लगातार मैच और सीरीज़ जीतना टीम के लिए बहुत अच्छा है क्योंकि इससे टीम बढ़े हुए मनोबल के साथ टी20 विश्व कप में उतरेगी।