मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
फ़ीचर्स

पाकिस्तान के ख़िलाफ़ शुरू होगा टीम इंडिया के विश्व कप का सफ़र

युवा खिलाड़ियों पर रहेंगी नज़रें

भारत

2017 विश्व कप में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया था और फ़ाइनल तक पहुंची थीं। उसके बाद से उन्होंने 40 मैच खेले हैं, जिस में उन्हें 19 में जीत और 21 में हार मिली है। हालांकि 2021 से उन्हें 16 में से सिर्फ़ चार में ही जीत मिली है। दूसरी बात यह है कि भारतीय टीम की एकादश अब भी निश्चित नहीं है। न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ सीरीज़ में कभी यास्तिका भाटिया और कभी दीप्ति शर्मा तीसरे नंबर पर बल्लेबाज़ी के लिए आईं।
भारतीय तेज़ गेंदबाज़ी की अगुवाई शायद अंतिम बार झूलन गोस्वामी कर रही हैं। यह गेंदबाज़ी क्रम न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 270 और 279 के स्कोर का बचाव नहीं कर सका था। शिखा पांडे की अनुपस्थिति में मेघना सिंह, रेणुका सिंह ठाकुर और पूजा वस्त्रकर को गोस्वामी का साथ देना होगा।
हालिया फ़ॉर्म
कोरोना के कारण भारतीय टीम 15 महीने तक क्रिकेट से दूर रही और 2021 में वनडे क्रिकेट में वापस लौटी। इस दौरान उन्हें घर पर साउथ अफ़्रीका और फिर इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड दौरे पर भी हार का सामना करना पड़ा। हालांकि इस दौरान उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लगातार 26 जीत के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ा।
इन पर रहेगी नज़र
ऋचा घोष ने पिछले एक साल में अपने आप को निचले मध्य क्रम में स्थापित किया है। सात वनडे में उनके नाम दो अर्धशतक हैं। न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ सीरीज़ में उन्होंने 179.31 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए और भारत को दो बार 300 के क़रीब पहुंचाया।
कप्तान ने क्या कहा?
"मैं अपने युवा खिलाड़ियों से कहना चाहूंगी कि आप कोई दबाव नहीं लीजिए बल्कि इतने बड़े मंच और टूर्नामेंट में खेलने का आनंद लीजिए। अगर आप दबाव लेंगी तो आप अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं दे पाएंगी।"-
मिताली राज

पाकिस्तान

पाकिस्तान का हालिया फ़ॉर्म और पिछले दो विश्व कप में प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा है और इसमें कुछ सुधार होने की उम्मीद भी नहीं है। हालांकि टीम ने पिछले साल वेस्टइंडीज़ को उनके घर में ही दो वनडे में हराया था। इसके अलावा उन्होंने अभ्यास मैच में न्यूज़ीलैंड को भी हराया।
हालिया फ़ॉर्म
पाकिस्तानी टीम का हालिया फ़ॉर्म कुछ ख़ास नहीं रहा है। विश्व कप क्वालीफ़ायर में ज़िम्बाब्वे के विरुद्ध उन्हें बड़ी जीत मिली तो बांग्लादेश के ख़िलाफ़ उन्हें हार का भी सामना करना पड़ा।
इन पर रहेगी नज़र
बिस्माह मारूफ़ को पाकिस्तानी महिला क्रिकेट में एक बड़ा चेहरा माना जाता है, जो पिछले 15 साल से पाकिस्तानी क्रिकेट की सेवा कर रही हैं। मां बनने के बाद उन्होंने क्रिकेट में वापसी की है।
कप्तान ने क्या कहा?
"हम न्यूज़ीलैंड में अच्छी तैयारी से आए हैं और कम से कम सेमीफ़ाइनल तक पहुंचना चाहते हैं। हम अभी तक विश्व कप नॉकआउट में नहीं पहुंचे हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम ऐसा कभी नहीं कर सकते हैं।"-
बिस्माह मारूफ़

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर दया सागर ने किया है।