ख़बरें

शाकिब की नज़रें एशिया कप नहीं टी20 विश्व कप पर

बांग्लादेशी कप्तान ने कहा- एक या दो दिन में टीम में बड़ा बदलाव नहीं ला सकता

Shakib Al Hasan anchored Bangladesh's chase with 68, West Indies vs Bangladesh, 2nd T20I, Roseau, July 3, 2022

शाकिब अल हसन की हाल ही में टी20 कप्तान के रूप में वापसी हुई है  •  AFP/Getty Images

बांग्लादेश के नए टी20 कप्तान शाकिब अल हसन ने कहा है कि वह एशिया कप में अपनी टीम से "कोई लक्ष्य" नहीं रख रहे हैं और उनके आते ही बांग्लादेश से अपने खेल में सुधार करने की उम्मीद रखना "नादानी" होगी।
शाकिब ने एशिया कप के बारे में पूछे जाने पर कहा, "मैं कोई लक्ष्य नहीं रख रहा। मैं चाहता हूं हम टी20 विश्व कप में अच्छा खेलें और यह टूर्नामेंट केवल उसके लिए तैयारी है। अगर किसी को लगता है कि मैं कप्तानी में आते ही एक या दो दिन में हमारे टीम में बड़े बदलाव ला सकता हूं तो यह उनकी नादानी होगी। अगर आप वास्तविक तौर पर सोचें तो इस टीम का विकास आगे चलकर आपको विश्व कप में ही दिखेगा।"
शाकिब ने टी20 टीम की कमान तब संभाली है जब उनका हालिया प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा है। पिछले साल के टी20 विश्व कप के क्वालिफ़ायर पड़ाव में ओमान और पापुआ न्यू गिनी को हराने के बाद टीम ने 16 मुक़ाबलों में केवल दो जीत दर्ज की हैं। पाकिस्तान और वेस्टइंडीज़ से बिना कोई मैच जीते सीरीज़ हारने के बाद पूर्व कप्तान महमुदउल्लाह को अपने पद से हाथ धोना पड़ा।
ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए विकेटकीपर नुरुल हसन को कप्तान बनाया गया था लेकिन उन्हें चोट लगने के बाद उस सीरीज़ में मोसद्देक हुसैन भी एक मैच के लिए कप्तान बने। इसके बाद ज़िम्बाब्वे दौरे में विश्राम कर रहे शाकिब को एशिया कप और विश्व कप के लिए कप्तान नियुक्त किया गया।
बांग्लादेश ने एशिया कप कभी नहीं जीता है हालांकि पिछले दोनों संस्करणों में उन्हें फ़ाइनल में भारत के हाथ हार मिली है। 2016 में यह टी20 फ़ॉर्मैट में बांग्लादेश में ही खेला गया था और 2018 में यूएई में 50-ओवर प्रारूप में। शाकिब ने कहा, "हमने यह [टी20] प्रारूप पहली बार 2006 में खेला था लेकिन एक एशिया कप फ़ाइनल के अलावा कोई परिणाम हमारे लिए अच्छा नहीं रहा है। हम इस फ़ॉर्मैट में इतने पिछड़े हुए हैं कि हमें एक नई शुरुआत करनी पड़ेगी।"
उन्होंने आगे कहा, "जब एक बच्चा चलना सीख रहा होता है तो पहले क़दम सबसे कठिन होते हैं और फिर चीज़ें आसान होने लगती हैं। ऐसे ही मैं आशा रखता हूं कि हम एक बच्चे की तरह क़दम बढ़ाते हुए आगे उन्नति करेंगे।"
एशिया कप में बांग्लादेश का पहला मुक़ाबला 30 अगस्त को शारजाह में अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ होगा और इसके बाद वे 1 सितंबर के दिन श्रीलंका से दुबई में भिड़ेंगे। टूर्नामेंट के फ़ॉर्मैट के अनुसार उनके ग्रुप से दो ही टीमें सुपर 4 तक बढ़ेंगी और इसका मतलब होगा बांग्लादेश को एक मैच तो जीतना ही होगा।

देबायन सेन ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो हिंदी के संपादक हैं