मैच (7)
AFG v IRE (1)
WPL (1)
PSL 2024 (1)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
Durham in ZIM (1)
QAT v HKG (1)
ख़बरें

पाकिस्तान में घरेलू क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ियों के भुगतान में हो रही देरी

अगस्त में सीज़न शुरु होने के बावज़ूद खिलाड़ियों को अभी तक मैच फ़ीस भी नहीं मिला है

प्रशासनिक कारणों से रूका है भुगतान  •  AFP

प्रशासनिक कारणों से रूका है भुगतान  •  AFP

पाकिस्तान के लगभग 200 घरेलू क्रिकेटरों को इस सीज़न घरेलू क्रिकेट खेलने के लिए भुगतान नहीं मिला है। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो समझता है कि ऐसे खिलाड़ियों की संख्या 192 है। इन खिलाड़ियों ने नेशनल टी20 कप और क़ाएद-ए-आज़म ट्रॉफ़ी में हिस्सा लिया था, लेकिन इन्हें मासिक वेतन तो क्या मैच फ़ीस भी नहीं मिला है।
पाकिस्तान में इस साल घरेलू सीज़न 30 अगस्त से शुरू हुआ था, जिसे ख़त्म होने में अब एक महीने से भी कम का समय बाक़ी है। अभी तक खिलाड़ियों को बस रोजाना का ख़र्चा (दैनिक भत्ता) मिला है। कुछ खिलाड़ियों और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के सूत्रों ने भी इस देरी की पुष्टि की है। इसका एक कारण पाकिस्तान में अत्यधिक क्रिकेट होना भी माना जा रहा है। इसी साल पीसीबी ने पाकिस्तान जूनियर लीग की शुरुआत की थी।
इसके अलावा कुछ प्रशासनिक कारण भी हैं, जिसके वजह से ये देरी हो रही है। पीसीबी की गवर्निंग बोर्ड बॉडी ने इन खिलाड़ियों के दैनिक भत्तों और मासिक वेतन में हुई बढ़ोतरी को अभी मंजूरी नहीं दिया है। इससे कई घरेलू क्रिकेटरों को अपने रोजमर्रा के ख़र्चे चलाने में भी दिक्कत आ रही है।
इस समय पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था भी चरमराई हुई है और नवंबर में महंगाई 20% के उच्चतम दर पर थी। पाकिस्तान में 2019 से पहले कॉर्पोरेट कंपनियां घरेलू क्रिकेट टीमों को प्रायोजित करती थीं और उन कंपनियों में अधिकतर क्रिकेटरों को नौकरी भी मिलती थी। तब घरेलू क्रिकेटरों के वेतन का संपूर्ण भार पीसीबी पर नहीं होता था। लेकिन 2019 में पीसीबी ने इस ढाचे को बदल दिया और देश के छह राज्य अब घरेलू क्रिकेट का क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व करने लगे और घरेलू क्रिकेटरों के ख़र्चे का लगभग दो अरब रूपये का वार्षिक भार अकेले पीसीबी के कंधे पर आ गया।
इस साल घरेलू सीज़न अगस्त में शुरू हुआ था, जिसके लिए कॉन्ट्रैक्ट नवंबर में मिला। लगभग 80% खिलाड़ियों ने इस कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर कर दिए हैं और उन्हें अपने भुगतान का इंतज़ार है।
कुछ खिलाड़ियों ने बताया कि पीसीबी ने कहा है कि इस सप्ताह उन्हें नेशनल टी20 कप के मैच फ़ीस मिल जाएंगे। इसके बाद क़ाएद-ए-आज़म ट्रॉफ़ी का भी मैच फ़ीस उन्हें मिलेगा।

उमर फ़ारूक़ ESPNcricinfo के पाकिस्तान संवाददाता हैं