मैच (10)
IPL (3)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के टिम पेन के साथ बर्ताव पर भड़का क्रिकेट तास्मेनिया

अध्यक्ष गैगिन ने पेन के साथ सीए के व्यवहार को "भयावह" और "बिल लॉरी के बाद से सबसे ख़राब" बताया

हाल ही में पेन ने कप्‍तान के पद से इस्‍तीफा दिया था  •  Getty Images

हाल ही में पेन ने कप्‍तान के पद से इस्‍तीफा दिया था  •  Getty Images

क्रिकेट तास्मेनिया अध्यक्ष ऐंड्र्यू गैगिन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) की आलोचना करते हुए कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड का टिम पेन के प्रति व्यवहार "शर्मनाक" और 50 सालों में किसी भी ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के प्रति सबसे ख़राब रहा है।
शुक्रवार को पेन के बीते सालों में भेजे गए कुछ अश्लील संदेश सार्वजानिक हो जाने से उन्हें टेस्ट कप्तानी से इस्तीफ़ा देना पड़ा था और गैगिन मंगलवार को क्रिकेट तास्मेनिया के बोर्ड की ओर से बयान जारी कर रहे थे। सीए अध्यक्ष रिचर्ड फ़्रॉयडेंस्टीन और सीईओ निक हॉकली ने शनिवार को कहा था कि अगर वह 2018 में कार्यभार संभाल रहे होते तो वह पेन को कप्तानी से हटा देते। बावजूद इसके कि सीए की इंटेग्रिटी युनिट ने ख़ुद इस मामले में पेन को दोषी नहीं पाया था।
गैगिन ने बयान में कहा, "तास्मेनिया क्रिकेट और जन साधारण में इस बात पर काफ़ी आक्रोश है। पेन पिछले चार सालों में एक उदाहरण के तौर पर उभर चुके हैं और केप टाउन के हादसे के बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की छवि को बेहतर करने में बड़ा योगदान दिया है। फिर भी जब सीए को उन्हें सहारा देना चाहिए था तब उनके साथ ऐसा व्यवहार हो रहा है। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के साथ ऐसा होना शर्मनाक है और बिल लॉरी के बाद 50 सालों में सबसे ख़राब है। यह बोर्ड दोहराना चाहता है कि दो वयस्क लोगों के बीच सह संवेदी और निजी बात के आधार पर उन्हें ऐसे स्थिति में डालना अनुचित था कि उन्हें इस्तीफ़ा देना पड़े।"
इससे पहले पूर्व सीए अध्यक्ष डेविड पीवर का भी कहना था कि ऐसे हालात में पेन को क्रिकेट बोर्ड की सहानुभूति और वफ़ादारी की ज़रूरत थी। बयान में यह भी कहा गया कि तास्मेनिया के सेकंड XI के लिए पेन के साउथ ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ छह कैच लेने से बोर्ड काफ़ी ख़ुश है। हालांकि उस मैच में बल्ले से पेन कुछ ख़ास नहीं कर पाए और दूसरी ही गेंद पर एक रन बनाकर आउट हो गए।

ऐलेक्‍स मैल्‍कम ESPNcricinfo में एसोसिएट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo में सीनियर असिस्‍टेंट एडिटर और स्‍थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।