मैच (14)
IPL (3)
Pakistan vs New Zealand (1)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

टेस्ट डेब्यू के लिए तैयार हैं श्रेयस अय्यर

न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ कानपुर टेस्ट से पहले कप्तान रहाणे ने की पुष्टि

अय्यर का प्रथम श्रेणी रिकॉर्ड कमाल का है  •  K Sivaraman

अय्यर का प्रथम श्रेणी रिकॉर्ड कमाल का है  •  K Sivaraman

न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ पहले कानपुर टेस्ट में श्रेयस अय्यर टेस्ट डेब्यू करने के लिए तैयार हैं। हालांकि रहाणे ने यह नहीं बताया कि टीम किस बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी संयोजन के साथ उतरेगी। विराट कोहली, रोहित शर्मा, केएल राहुल और ऋषभ पंत की अनुपस्थिति में टीम की बल्लेबाज़ी इकाई थोड़ी सी कमज़ोर दिख रही है, ऐसे में टीम इंडिया एक अतिरिक्त बल्लेबाज़ को जगह दे सकती है। अगर ऐसा होता है तो सूर्यकुमार यादव या केएस भरत में से कोई एक बल्लेबाज़ और डेब्यू कर सकता है।
भारत घरेलू टेस्ट मैचों में सिर्फ़ पांच बल्लेबाज़ों के साथ जाना पसंद करती है। यही कारण है कि हनुमा विहारी का टीम में चयन नहीं कर उन्हें साउथ अफ़्रीका के दौरे पर इंडिया ए के साथ भेजा गया। लेकिन राहुल की चोट के बाद अब यह दांव उल्टा पड़ता हुआ दिख रहा है।
कप्तान रहाणे ने कहा उन्हें निश्चित तौर पर बड़े नामों की कमी खलेगी, लेकिन यह युवा खिलाड़ियों के लिए भी टेस्ट मैचों में ख़ुद को साबित करने का अच्छा मौक़ा है।
अय्यर ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 52.18 के औसत और 81.54 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। वह मध्य क्रम में पुजारा और रहाणे के बाद खेलते हुए दिखाई देंगे। इससे पहले टीम प्रबंधन शुभमन गिल को मध्य क्रम में आज़माना चाहती थी, लेकिन राहुल के चोट के कारण सभी योजनाएं धरी रह गईं।
भारत इस टेस्ट में तीन स्पिनरों के साथ जा सकता है। रहाणे ने कहा कि विकेट स्पिनरों की मदद कर सकती है, हालांकि उन्होंने अभी तक इसे देखा नहीं है। पिच को देखने के बाद ही वह टीम संयोजन पर निर्णय लेंगे।
अपने या पुजारा के ख़राब फ़ॉर्म के बारे में रहाणे ने कहा, "चिंता की कोई बात नहीं है। मेरा काम टीम की जीत में सहयोग करना है और वह 30-40-70 बनाकर भी किया जा सकता है, ज़रूरी नहीं कि आप हर मैच में शतक ही बनाए। मैं हमेशा टीम के बारे में ही सोचता हूं और अभी भी मेरा लक्ष्य कल से शुरू होने वाले मैच पर है।"

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में सहायक संपादक हैं, अनुवाग ESPNcricinfo हिंदी के उप संपादक दया सागर ने किया है