मैच (11)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
PSL 2024 (2)
Sheffield Shield (3)
WPL (1)
Dang CL (1)
ख़बरें

रणजी राउंड अप : पहले ही मैच में तिहरा शतक जड़कर साकिबुल गनी ने रचा इतिहास

साकिबुल ने 405 गेंदों का सामना करते हुए दो छक्कों और 56 चौकों की मदद से 341 रन बनाए

डेब्यू पर तिहरा शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज़ बने साकिबुल  •  ESPNcricinfo Ltd

डेब्यू पर तिहरा शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज़ बने साकिबुल  •  ESPNcricinfo Ltd

रणजी ट्रॉफ़ी 2021-22 सीज़न के दूसरे दिन बिहार के 22 वर्षीय बल्लेबाज़ साकिबुल गनी ने इतिहास रच दिया। वह प्रथम श्रेणी डेब्यू पर तिहरा शतक जड़ने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए।
कोलकाता में चल रहे प्लेट ग्रुप के मैच में बिहार ने मिज़ोरम के ख़िलाफ़ पांच विकेट के नुक़सान पर 686 रन बनाने के बाद अपनी पारी घोषित की। साकिबुल ने 405 गेंदों का सामना करते हुए दो छक्कों और 56 चौकों की मदद से 341 रन बनाए। दोहरे शतकवीर बाबुल कुमार के साथ उन्होंने चौथी विकेट के लिए 538 रनों की विशालकाय साझेदारी की। 229 रन बनाकर बाबुल नाबाद रहे।
साकिबुल ने अजय रोहेरा का रिकॉर्ड तोड़ा। 2018-19 रणजी सत्र में रोहेरा ने मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए हैदराबाद के ख़िलाफ़ नाबाद 267 रन बनाए थे। इस पारी में रोहेरा ने अमोल मुज़ुमदार का रिकॉर्ड तोड़ा था। 1993-94 में हरियाणा के ख़िलाफ़ बंबई (अब मुंबई) के अमोल ने 260 रनों की पारी खेली थी।
23वें ओवर में 71 रनों की भीतर तीन विकेट गंवाने के बाद साकिबुल क्रीज़ पर आए। उन्होंने सभी गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ अपने हाथ खोले। पहले दिन के अंत में वह 136 रनों पर नाबाद थे और दूसरे दिन वह 200 से अधिक रन बनाने में सफल हुए। 149वें ओवर में इक़बाल अब्दुल्ला की गेंद पर तरुवर कोहली को कैच थमाकर वह आउट हुए। उनके आउट होने के कुछ देर बाद बिहार ने अपनी पारी घोषित की और दूसरे दिन के अंत में 40 रन देकर उनके तीन विकेट चटकाए।
सरफराज़ के 275 की मदद से मुंबई ने बनाए 544
अहमदाबाद में एलीट ग्रुप डी के मैच में मुंबई ने गत चैंपियन सौराष्ट्र के विरुद्ध सात विकेट खोकर 544 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया। अजिंक्य रहाणे और सरफ़राज़ ख़ान पहले दिन शतक बनाकर अविजित थे। जहां रहाणे 129 पर चलते बने, सरफ़राज़ ने 401 गेंदों पर 275 रन बनाए। वह पिछले सीज़न (2019-20) में भी शानराद फ़ॉर्म में थे। नौ पारियों में तीन शतक के साथ 928 रन बनाने वाले सरफ़राज़ ने अपने फ़ॉर्म को इस सीज़न में भी बरक़रार रखा। अब रणजी ट्रॉफ़ी में अपनी पिछली 10 पारियों में उनके रनों की संख्या 1203 पर जा पहुंची है।
दूसरे दिन का खेल समाप्त होने से पहले सौराष्ट्र के सलामी बल्लेबाज़ हार्विक देसाई और स्नेल पटेल ने सुरक्षित ढंग से नौ ओवरों का सामना किया और 18 रन बनाए। तीसरे नंबर पर चेतेश्वर पुजारा बल्लेबाज़ी करने के लिए उत्सुक होंगे।
सलामी बल्लेबाज़ों ने पंजाब को दी शानदार शुरुआत
दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में एलीट ग्रुप एफ़ के मैच में अभिषेक शर्मा और प्रभसिमरन सिंह की सलामी जोड़ी ने हिमाचल प्रदेश के गेंदबाज़ी क्रम को धराशाई किया। पंजाब का प्रतिनिधित्व करते हुए प्रभसिमरन ने प्रथम श्रेणी डेब्यू पर शतक जड़ा। हाल ही में संपन्न हुई आईपीएल की बड़ी नीलामी में इन दोनों धाकड़ बल्लेबाज़ों पर टीमों की नज़र थी। जहां छह करोड़ की धन राशि लेकर अभिषेक हैदराबाद के सनराइज़र बने, वहीं 60 लाख रुपये में पंजाब किंग्स ने प्रभसिमरन को ख़रीदा।
सलामी जोड़ी ने 33.3 ओवरों में पहली विकेट के लिए 182 रनों की साझेदारी की जब टीम के कप्तान अभिषेक 98 रन के स्कोर पर आउट हुए। उन्होंने 101 गेंदों का सामना किया और लगभग 100 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी की। प्रभसिमरन ने बल्लेबाज़ी जारी रखी और अंत में 123 रन बनाकर आउट हुए। इस तेज़ शुरुआत के बाद अनमोलप्रीत सिंह और गुरकीरत सिंह मान ने सूझबूझ भरी बल्लेबाज़ी करते हुए पारी को आगे बढ़ाया। अनुभवी मंदीप सिंह 62 रन बनाकर नाबाद रहे और दूसरे दिन का अंत पंजाब ने चार विकेट गंवाने के बाद 393 रन बनाकर किया। हिमाचल को 354 रन पर समेटने के बाद पंजाब ने पहली पारी में बढ़त ले ली है। पंजाब के तेज़ गेंदबाज़ बलतेज सिंह ने बचे हुए चार विकेट लेकर दिन की बेहतरीन शुरुआत की थी।
ढुल की राह पर सिंधु
दिल्ली के पालम मैदान पर भारतीय अंडर-19 टीम में अपने कप्तान यश ढुल के दिखाए रास्ते पर चलते हुए निशांत सिंधु ने बल्ले के साथ बढ़िया प्रदर्शन किया। लेकिन वह त्रिपुरा के ख़िलाफ़ डेब्यू पर शतक बनाने से चूक गए और 93 के स्कोर पर नाबाद रहे। पांचवें नंबर पर खेलते हुए निशांत ने 139 गेंदों में तेज़ गति से 93 रन बनाए। पहले दिन शतकवीर बने यशु शर्मा 129 रन बनाकर टीम के सबसे सफल बल्लेबाज़ रहे। शिवम चौहान और पदार्पण कर रहे विकेटकीपर कपिल हुड्डा ने अर्धशतकीय पारियां खेली। हरियाणा ने अपनी पहली पारी में 556 रन बनाए और स्टंप्स तक त्रिपुरा को 56 रन पर एक विकेट की स्थिति में ला खड़ा किया।
22 वर्षीय पवन शाह भी डेब्यू पर शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हुए जब महाराष्ट्र के लिए खेलते हुए उन्होंने रोहतक में एलीट ग्रुप जी के मैच में असम के ख़िलाफ़ 219 रन बनाए। पारी की शुरुआत करते हुए सलामी बल्लेबाज़ पवन ने पहले दिन ही अपना शतक पूरा कर लिया था और वह 165 के स्कोर पर नाबाद थे। वह अपने शतक को दोहरे शतक में तब्दील करने में क़ामयाब हुए और अंत में मुख़्तार हुसैन के पांचवें शिकार बने। महाराष्ट्र के 415 रनों पर ऑलआउट होने के बाद खेल समाप्त होने तक असम ने दो विकेट के नुक़सान पर 81 रन बनाए।
गुवाहाटी में पहले दिन यश ढुल के शतक के बाद दूसरे दिन तमिलनाडु के ख़िलाफ़ दिल्ली के ललित यादव ने शतक ठोका और 177 रन की बेहतरीन पारी खेली। यह प्रथम श्रेणी मैचों में उनका पहला शतक है। उन्होंने अपना अर्धशतक और शतक दोनों छक्के के साथ पूरा किया। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 10 विशालकाय छक्के लगाया। ललित सातवें नंबर पर खेलने आए, जब दिल्ली का स्कोर 253 रन पर सात विकेट था। ललित ने पुछल्ले बल्लेबाज़ों के साथ मिलकर दिल्ली के स्कोर को 452 तक पहुंचा दिया। उन्होंने आठवें विकेट के लिए सिमरजीत के साथ 48 रन, विकास मिश्रा के साथ नौवें विकेट के लिए 92 गेंदों में 82 रन और फिर कुलदीप यादव के साथ अंतिम विकेट के लिए 59 गेंदों में 47 रन जोड़े। वह आख़िरी विकेट के रूप में आउट हुए। ललित को आईपीएल नीलामी में दिल्ली कैपिटल्स ने 65 लाख रूपये में ख़रीदा है।

सौरभ सोमानी ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।