मैच (15)
WPL (1)
IND v ENG (1)
PSL 2024 (2)
Nepal Tri-Nation (1)
BPL 2023 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
CWC Play-off (3)
Durham in ZIM (1)
फ़ीचर्स

'मैं पुराने नटराजन के रूप में वापसी करना चाहता हूं'

बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ ने अपने कौशल और गेंदबाज़ी एक्शन पर काम किया है

चोट और कोरोना के कारण नटराजन 2021 के मोटे हिस्से के लिए क्रिकेट से दूर रहे  •  Ron Gaunt/BCCI

चोट और कोरोना के कारण नटराजन 2021 के मोटे हिस्से के लिए क्रिकेट से दूर रहे  •  Ron Gaunt/BCCI

चोट और कोरोना संक्रमित होने के कारण 2021 के में अधिकतर क्रिकेट से दूर रहने के बाद भारतीय तेज़ गेंदबाज़ टी नटराजन 2022 में 'पुराने वाले नटराजन' के रूप में वापसी करना चाहते हैं। नटराजन ने हाल ही में ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया कि उस प्रक्रिया में टी20 क्रिकेट में अपने शुरुआती स्पेल में नई गेंद को स्विंग कराना शामिल है।
जहां तक प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी का सवाल है, तो नटराजन इस महीने रणजी ट्रॉफ़ी के दूसरे राउंड में तमिलनाडु के लिए वापसी कर सकते हैं। हालांकि उससे पहले नटराजन के सामने 12 और 13 फ़रवरी को होने वाली आईपीएल की बड़ी नीलामी की चुनौती होगी। नटराजन प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ों वाले पांचवें सेट का हिस्सा हैं।
30 वर्षीय नटराजन को उम्मीद है कि एक करोड़ रुपयों की बेस प्राइस के बावजूद उन्हें एक अच्छा सौदा मिल सकता है। 2018 की पिछली बड़ी नीलामी में सनराइज़र्स हैदराबाद ने उन्हें 40 लाख की राशि में अपनी टीम में शामिल किया था। इससे पहले 2017 में अपने मेंटॉर वीरेंद्र सहवाग के कहने पर किंग्स XI पंजाब ने तीन करोड़ रुपयों की बोली लगाकर अनकैप्ड नटराजन को अपने साथ जोड़ा था। उसके बाद से नटराजन ने उच्च स्तर पर बड़े क़दम बढ़ाए हैं और वह तीनों प्रारूपों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।
जब तक उन्हें मैदान पर उतरने का मौक़ा मिलता है, नटराजन अपनी आईपीएल क़ीमत के बारे में चिंता नहीं कर रहे हैं। नटराजन ने कहा, "मैं [नीलामी] के बारे में ज़्यादा नहीं सोच रहा हूं। आईपीएल, एक और टी20 विश्व कप - 2022 एक बड़ा साल होने के बारे में बातें हो रही हैं - लेकिन मैं सिर्फ़ अपनी ताक़त पर ध्यान देना चाहता हूं और कड़ी मेहनत करना चाहता हूं। अगर मैं ऐसा करता हूं, तो बाक़ी चीज़ें अपने आप ठीक हो जाएंगी। मैं एक लंबे ब्रेक के बाद वापस आ रहा हूं, इसलिए घबराहट ज़रूर होगी।"
"मैंने पहले आईपीएल में और भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है, इसलिए लोग मुझसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे। एक या दो मैच खेलने के बाद, मैं अपनी लय प्राप्त कर लूंगा और अपनी योजनाओं के साथ और अधिक स्पष्ट हो जाऊंगा। मैं तरोताज़ा महसूस कर रहा हूं। अभी और बस वही करना चाहता हूं जो अतीत में मेरे लिए काम कर चुका है - यॉर्कर और कटर पर ध्यान देना। मैं पुराने नटराजन के रूप में वापस आना चाहता हूं।"
ऑस्ट्रेलिया के बेहतरीन दौरे के बाद से नटराजन ने अधिक समय मैदान से बाहर बिताया है। आईपीएल 2021 के पहले चरण के दौरान उनके घुटने में चोट लगी और जब वह दूसरे चरण में खेलने के लिए तैयार थे, तो वह कोरोना संक्रमित हो गए।
हाल ही में नटराजन लगातार दूसरी बार सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी जीतने वाली टीम का हिस्सा थे। लेकिन घुटने की समस्या और कोविड-19 के बाद उनके शरीर को मैच की तीव्रता का सामना करने के लिए संघर्ष करना पड़ा। नतीजतन, वह दिसंबर में विजय हजारे ट्रॉफ़ी से बाहर हो गए।
नटराजन ने बेंगलुरु में एनसीए में लगभग पांच महीने तक पुनर्वसन किया और बाद में चेन्नई और सेलम के पास अपने गृहनगर चिन्नप्पमपट्टी में प्रशिक्षण लिया, जहां वह वर्तमान में एक नया क्रिकेट मैदान स्थापित कर रहे हैं। वह याद करते हैं कि पुनर्वसन नीरस था लेकिन उन्होंने इसे अपनाना सीख लिया।
नटराजन ने कहा, "शुरुआत में वह उबाऊ था। आपको बार-बार वही काम करना पड़ता है, लेकिन फिर से फ़िट होने के लिए यह बहुत ज़रूरी है। मैं लगभग पांच महीने तक बेंगलुरु में स्थित एनसीए में था। सप्ताहांत के दौरान, मैं परिवार के साथ समय बिताने के लिए घर वापस जाता था।"
"अपने उस्ताद जयप्रकाश अन्ना से बात करने के अलावा, मैं रिकवरी चरण के दौरान वॉशी (वॉशिंगटन सुंदर), रजनीकांत (ट्रेनर) और श्याम सुंदर (सनराइज़र्स हैदराबाद के फ़िज़ियो) को फ़ोन करता था। मुझे अपने अन्ना जयप्रकाश से आत्मविश्वास और प्रेरणा मिली। वह हमेशा मेरे दिमाग को मुक्त करते हैं। प्रेरक शब्द मुझे बचपन से ही हमेशा प्रेरित करते रहे हैं। सबसे बड़ी सीख यह थी कि क्रिकेट और जीवन में उतार-चढ़ाव दोनों आते हैं और आपको इसे स्वीकार करना सीखना होगा।"
'सफ़ेद गेंद को ज़्यादा स्विंग करवाने की सोच रहा हूं'
प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से दूर रहकर बिताए गए समय में नटराजन ने अपने कौशल और गेंदबाज़ी एक्शन को बेहतर बनाने पर काम किया। इस दौरान कर्नाटका के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ और इस समय तमिलनाडु टीम के कोचिंग स्टाफ़ के सदस्य श्रीनाथ अरविंद ने उनकी मदद की।
नटराजन ने कहा, "मैं सीमित ओवर क्रिकेट में नई गेंद को और स्विंग करवाना चाहता हूं। कई मौक़ों पर बड़े मैचों में दबाव के कारण मुझे अधिक स्विंग नहीं मिल पाई है। मैं अपने लेग कटर पर अधिक नियंत्रण प्राप्त करना चाहता हूं और मैं श्रीनाथ अरविंद के संपर्क में हूं। वह लाल गेंद से बढ़िया गेंदबाज़ी करते थे और मैं पहले भी उनसे कई बार बात कर चुका हूं।"
उन्होंने आगे बताया, "पिछली सैयद मुश्ताक़ अली प्रतियोगिता के दौरान मैं अच्छी लय में नहीं था। मुझे लगा कि कुछ ग़लत है और मैंने अपने वीडियो उन्हें भेजे। उन्होंने देखा कि मैं अपनी एक्शन में गिर रहा हूं और मैंने अब इसे ठीक कर लिया है। उनके इनपुट मेरे लिए बहुत मददगार रहे हैं।"
नटराजन के शिष्य भी बड़ी नीलामी का हिस्सा
नटराजन बड़ी बारीक़ी से इस बड़ी नीलामी को फ़ॉलो करेंगे क्योंकि उनके दो शिष्य जी पेरियास्वामी और वी गौतम इसका हिस्सा हैं। दाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ पेरियास्वामी तमिलनाडु प्रीमियर लीग (टीएनपीएल) के पिछले दो संस्करणों में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों में से एक रहे हैं। साथ ही वह आईपीएल 2021 के दूसरे चरण के दौरान नेट गेंदबाज़ के तौर पर सनराइज़र्स हैदराबाद का हिस्सा थे। बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ गौतम ने पिछले साल टीएनपीएल में अपना डेब्यू किया और वह चेन्नई सपर किंग्स के नेट में गेंदबाज़ी कर चुके हैं। पिछले महीने गौतम ने मुंबई इंडियंस के और परियास्वामी ने पंजाब किंग्स के ट्रायल में हिस्सा लिया था।
नटराजन ने कहा, "मेरा सपना हमेशा अपने गांव में एक अकादमी शुरू करने, प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को तालीम देने और उन्हें बड़े मंच पर खेलने के लिए प्रोत्साहित करने का था। मुझे उनकी प्रगति देखकर बहुत गर्व और प्रसन्नता हो रही है। मैंने तमिलनाडु के लिए पेरियास्वामी के साथ गेंदबाज़ी की शुरुआत की है और वह टीएनपीएल में बहुत प्रभावशाली रहे हैं। गौतम अक्सर मुझे ख़ुद की याद दिलाते हैं। उनके पास एक अच्छा यॉर्कर है और निश्चित रूप से वह अगले कुछ वर्षों में बहुत आगे जाएंगे। (हंसते हुए) वे भविष्य में आईपीएल में मेरे विरोधी भी बन सकते हैं।"

देवरायण मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।