मैच (17)
IPL (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (2)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

'विध्वंसक' पंत को टी20 विश्व कप में फ़्लोटर की भूमिका मिलनी चाहिए : पोंटिंग

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान का मानना है विराट कोहली को तय करना होगा उनकी मुश्किलें तकनीकी हैं या मानसिक

पंत को बल्लेबाज़ी क्रम में पांचवें नंबर पर रखना चाहिए: पोंटिंग  •  BCCI

पंत को बल्लेबाज़ी क्रम में पांचवें नंबर पर रखना चाहिए: पोंटिंग  •  BCCI

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि टी20 विश्व कप में भारत को ऋषभ पंत को बल्लेबाज़ी क्रम में 'फ़्लोटर' के रूप में इस्तेमाल करना चाहिए। पोंटिंग के हिसाब से भारत के लिए इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व कप में दिनेश कार्तिक और कुलदीप यादव भी अहम भूमिका निभाएंगे। उनका यह भी कहना है कि पूर्व कप्तान विराट कोहली को यह समझना होगा कि उनका फ़ॉर्म में ना होना कितना तकनीकी मामला है और कहां तक मानसिक थकान का विषय।
'आईसीसी रिव्यु' कार्यक्रम में पूर्व इंग्लैंड महिला टेस्ट क्रिकेटर इशा गुहा से बात करते हुए पोंटिंग ने पंत के बारे में कहा, "मुझे लगता है उन्हें क्रम में पांचवे नंबर पर रखा जाएगा लेकिन कुछ परिस्थितियों में जब एक या दो विकेट गिरे हों और केवल सात-आठ ओवर ही शेष हों तब उन्हें मैदान पर उतारकर उन्हें अतिरिक्त समय दिया जा सकता है। वह एक विध्वंसक खिलाड़ी हैं और मैं होता तो मैं उनका ऐसे ही उपयोग करता।"
आईपीएल 2022 में पोंटिंग दिल्ली कैपिटल्स के कोच थे और पंत उस टीम के कप्तान। अमूमन चार और पांच पर बल्लेबाज़ी करते हुए पंत ने 151 के स्ट्राइक रेट से दिल्ली के लिए 340 रन बनाए जो डेविड वॉर्नर के बाद उस टीम के लिए दूसरे सर्वाधिक रन थे। हाल ही में पूर्व भारतीय कप्तान वीरेंद्र सहवाग का भी मानना था कि सफ़ेद गेंद क्रिकेट में पंत से सलामी बल्लेबाज़ी करवाना उचित होगा। हालांकि अब तक भारत के लिए कुल 68 सीमित ओवर मैचों में पंत ने अधिकतर बल्लेबाज़ी चौथे और पांचवे स्थान पर ही की है। इस साल अहमदाबाद में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ उन्होंने एकमात्र मैच में सलामी बल्लेबाज़ी की थी लेकिन केवल 34 गेंदों पर 18 ही बनाए थे।
पोंटिंग ने आगे कहा, "वह एक ज़बरदस्त युवा प्रतिभा हैं और दुनिया उनके क़दमों पर है। मुझे लगता है ऑस्ट्रेलिया में जैसे पिचों पर मैच होंगे उनपर वह और भी ख़तरनाक बन जाएंगे। वहां सपाट, तेज़ और उछाल वाली विकटें मिलेंगी और इस टूर्नामेंट के वह बड़े सितारे होंगे।"
साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध वर्तमान टी20 सीरीज़ में जहां युवा पंत पहली बार भारत की कप्तानी कर रहे हैं वहीं 37 वर्षीय कार्तिक ने भी वापसी की है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के लिए आईपीएल में फ़िनिशर के रोल में कार्तिक ने 183 से अधिक के स्ट्राइक रेट से 330 रन बनाए और पोंटिंग का मानना है ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होने वाले हवाईजहाज़ में उनके लिए जगह पक्की है। उन्होंने कहा, "मैं तो उन्हें ज़रूर रखूंगा और पांचवे या छठे स्थान पर रखूंगा। उन्होंने आरसीबी के साथ अपने गेम को एक अलग स्तर पर ले लिया है। आप उम्मीद करते हैं कि ऐसे टूर्नामेंट में आपके बड़े खिलाड़ी आपको दो-चार मैच जितवा दें लेकिन दिनेश ने सबसे ज़्यादा मैचों में टीम के लिए अपनी छाप छोड़ी।"
कोहली के लगातार ख़राब फ़ॉर्म से भी कार्तिक को अधिक ज़िम्मेदारी लेनी पड़ी। कोहली ने 2019 के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कोई शतक नहीं जड़ा है और पोंटिंग का मानना है कि ख़राब फ़ॉर्म किसी के करियर में भी आ ही सकता है। उन्होंने कहा, "विराट ने शायद 10-12 ऐसे साल देखें हैं जहां उनके बल्ले से रन बनना नहीं रुकता था। आईपीएल के दौरान काफ़ी चर्चा चल रही थी कि क्या वह मानसिक तौर पर थक गए हैं? अब यह बात उन्हें ही समझनी पड़ेगी कि क्या उनके साथ तकनीकी मामला है या वह सच में थक गए हैं। मैं अपने अनुभव से कह सकता हूं कि कभी कभी आप ख़ुद को छकाकर इस थकान को नज़रअंदाज़ कर लेते हैं। फिर जब आप खेलना बंद करते हैं तब आपको समझ आता है कि वास्तव में आप कितनी बुरी तरह थक चुके थे।"
पोंटिंग ने यह इशारा भी किया कि दिल्ली के लिए आईपीएल में 21 विकेट लेने वाले कुलदीप हमेशा उनकी नज़रों में थें। उन्होंने कहा, "हम उनकी क़ाबिलियत जानते थे और इसलिए वह नीलामी में हमारे लक्ष्य में शामिल थे। उनकी प्रतिभा कहीं नहीं गई थी और बस ज़रूरत थी उनके आसपास एक अच्छा माहौल बनाने का ताकि वह अपने श्रेष्ट फ़ॉर्म में लौट सकें। वॉटो [सहायक कोच शेन वॉटसन] ने ख़ास तौर पर उनके मानसिक गेम पर काफ़ी मेहनत की और आपने उसका फल उनकी गेंदबाज़ी में देखा। वह बाएं हाथ के लेग स्पिनर होने के नाते कुछ अलग लाते हैं और इसीलिए (विश्व कप में) उनका नाम हमेशा आगे रहेगा।"

देबायन सेन ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं और स्थानीय भाषा प्रमुख हैं।