फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : ओपनरों की चकाचौंध के बीच सुपरस्‍टार साबित हो रहा है यह भारतीय खिलाड़ी

दो सलामी बल्लेबाज़ों की जंग में नज़र होगी नए कप्तान रोहित शर्मा पर

Rohit Sharma plays off the front foot, 1st T20I, India vs New Zealand, Jaipur, November 17, 2021

फ़्रंटफुट पर शॉट खेलते रोहित शर्मा  •  Getty Images

टी20 विश्व कप 2021 के निराशाजनक प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए भारत ने बुधवार को जयपुर में खेले गए पहले टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में न्यूज़ीलैंड को मात देकर इस प्रारूप में टीम के नए दौर की शुरुआत कर दी है। नए कप्तान रोहित शर्मा की टीम ने ऑलराउंड खेल दिखाते हुए क़रीबी मुक़ाबले को अपने नाम किया। नए कोच राहुल द्रविड़ के कार्यकाल का आग़ाज़ भी एक जीत के साथ हुआ। अब वह चाहेंगे कि टीम बेहतर खेल दिखाकर लगातार मैच जीतने का सिलसिला शुरू करे। एक दिन के अंतराल के बाद फिर उनका सामना होगा न्यूज़ीलैंड से रांची के मैदान पर। इस दूसरे टी20 मैच से पहले आइए नज़र डालते हैं कुछ महत्वपूर्ण आंकड़ों पर :
कौन बनेगा अव्वल नंबरी?
भारतीय टेस्ट और वनडे कप्तान विराट कोहली के नाम इस समय टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक 3227 रन है। लेकिन इस सीरीज़ में उनके अनुपलब्ध होने के बाद दो खिलाड़ियों की नज़र शीर्ष स्थान पर हैं। पहले हैं न्यूज़ीलैंड के सलामी बल्लेबाज़ मार्टिन गप्टिल जो फ़िलहाल उनको पछाड़ने से मात्र 11 रन दूर है। रोहित इस दौड़ में थोड़े पीछे हैं और 142 रन बनाकर वह विराट से आगे निकल सकते हैं। सबसे ज़्यादा छक्के लगाने के मामले में भी गप्टिल रोहित से आगे हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि सलामी बल्लेबाज़ों की इस टक्कर में कौन बाज़ी मारता है।
सुपरस्टार सूर्यकुमार
इस प्रारूप में भारत के लिए खेली गई अब तक अपनी सात पारियों में सूर्यकुमार यादव ने अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने 160 से अधिक के स्ट्राइक रेट और 45 की औसत से रन बनाए हैं। इस सात मैचों में से छह में भारत को जीत हासिल हुई जबकि पाकिस्तान के ख़िलाफ़ उनके जल्दी आउट हो जाने के बाद भारत को हार का सामना करना पड़ा था। वह मध्य ओवरों में सॉलिड नज़र आए हैं और आक्रामक इरादे के साथ बल्लेबाज़ी कर रहे हैं जो इस चरण में सबसे ज़रूरी है। यह साफ़ दर्शाता है कि वह इस बल्लेबाज़ी क्रम में एक अहम कड़ी हैं। उन मैचों में जहां सूर्यकुमार ने इस साल 7-15 ओवरों के बीच बल्लेबाज़ी की है, भारत का रन रेट नौ के क़रीब रहा है और टीम ने सभी मैच जीते है। उनकी अनुपस्थिति में, भारत ने इस दौरान सिर्फ़ 6.7 के दर से स्कोर किया है और मात्र 25 प्रतिशत मैच जीते हैं।
सोढ़ी हैं कहां?
जहां एक तरफ़ हमेशा चर्चा न्यूज़ीलैंड के तेज़ गेंदबाज़ों की होती हैं, वहीं टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में उनके लिए सर्वाधिक विकेट लेने वालों की सूची में ईश सोढ़ी दूसरे स्थान पर विराजमान है। अपने साथी स्पिन गेंदबाज़ मिचेल सैंटनर के साथ उन्होंने भारत को ख़ूब तंग किया है। अब टी20 विश्व कप 2021 का मैच ही देख लीजिए जहां दोनों ने मिलकर भारतीय बल्लेबाज़ी को जकड़ लिया था। और तो और टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भारत के ख़िलाफ़ सर्वाधिक विकेट सोढ़ी के ही नाम है। इन सबके बावजूद पहले टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में सोढ़ी की बजाय टॉड ऐस्टल को मैच खेलने का मौक़ा दिया गया। शायद इसके पीछे का मुख्य कारण सोढ़ी को आराम देना था लेकिन अगर न्यूज़ीलैंड को इस सीरीज़ में वापसी करनी है तो उनका मैदान पर उतरना बहुत ज़रूरी है।
अश्विन की अविश्वसनीय वापसी
पिछले कुछ वर्षों में भारतीय टी20 टीम से बाहर रहने के बाद रविचंद्रन अश्विन ने धमाकेदार वापसी की है। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपना जलवा बिखेरने के बाद वह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी बल्लेबाज़ों के छक्के छुड़ा रहे हैं। भारत के लिए इस साल खेले गए चार टी20 मैचों में उन्होंने आठ विकेट अपने नाम की है। इस दौरान किसी भी मैच में उन्होंने 7.5 से अधिक के दर से रन नहीं लुटाए हैं और भारत को उन सभी मैचों में जीत मिली है। अगर अश्विन इसी तरह शानदार गेंदबाज़ी करते रहें तो उन्हें टेस्ट की तरह इस प्रारूप में भी भारत का मुख्य स्पिनर बनने से कोई नहीं रोक सकता है।

अफ़्ज़ल जिवानी (@ jiwani_afzal) ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।